October 27, 2021

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

नई दिल्ली24सितम्बर*जीवन में कितना कुछ खो गया, इस पीड़ा को भूल कर, क्या नया कर सकते हैं, इसी में जीवन की सार्थकता है-रविंद्र गुप्ता

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली24सितम्बर*जीवन में कितना कुछ खो गया, इस पीड़ा को भूल कर, क्या नया कर सकते हैं, इसी में जीवन की सार्थकता है-रविंद्र गुप्ता

राधे – राधे। जय गुरुदेव महाराज की जय।
प्रभु कृपा एवं श्री श्रीगुरुदेव जी महाराज अलवर वाले बाबा के आशीर्वाद से श्रीमती जी अस्पताल से स्वास्थ्य लाभ लेकर सकुशल कल शाम घर वापस आ गईं है। संकट के इस दौर में लगातार प्राप्त आप सभी के स्नेह, सहयोग, सानिध्य एवं शुभकामनाओं के लिए दिल की गहराईयों से हम सभी पारिवारिक जन हार्दिक आभार सहित कृतज्ञता प्रकट करते हैं ।
*जीवन में कितना कुछ खो गया, इस पीड़ा को भूल कर, क्या नया कर सकते हैं, इसी में जीवन की सार्थकता है।*

You may have missed