July 14, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

लखनऊ16जून24*बछरावां पुलिस ने टप्पेबाजी की शिकार पीड़िता को 19दिन दौड़ाया,नही दर्ज किया मुकदमा

लखनऊ16जून24*बछरावां पुलिस ने टप्पेबाजी की शिकार पीड़िता को 19दिन दौड़ाया,नही दर्ज किया मुकदमा

लखनऊ16जून24*बछरावां पुलिस ने टप्पेबाजी की शिकार पीड़िता को 19दिन दौड़ाया,नही दर्ज किया मुकदमा

(टप्पेबाजी की शिकार लखनऊ निवासी महिला को रायबरेली जनपद की बछरावां पुलिस ने 19दिन दौड़ाया,फिर भी नही दर्ज की एफआईआर)

(लखनऊ पुलिस के हत्थे चढा टप्पेबाज महिलाओ का गिरोह,पीड़ित ने अपने साथ घटना करने वाली महिलाओ की पहचान)

(एडीजी,आईजी व रायबरेली एसपी से कार्यवाही की पीड़िता की गुहार गयी बेकार)

मोहनलालगंज।सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने भले ही महिलाओ के साथ होने वाले अपराधो में यूपी पुलिस के हकीमो को त्वरित कार्यवाही निर्देश दे रखे है लेकिन रायबरेली जनपद की बछरावां थाने की बेलगाम पुलिस ने टप्पेबाजी की शिकार पीड़ित महिला की बेटी के शिकायत करने के 19दिन बाद भी कार्यवाही नही की।बछरावां थाने के चक्कर काटकर थकी बेटी का सब्र जबाब दिया तो रविवार को उसने एडीजी,आईजी समेत एसपी रायबरेली के सीयूजी नम्बरो पर फोन कर बछरावां पुलिस की करतूत बताई।जिसके बाद पुलिस अफसरो ने बछरावां पुलिस को फटकार लगाते हुये त्वरित कार्यवाही के निर्देश दियें लेकिन बेलगाम प्रभारी निरीक्षक ने अफसरो के आदेशो के बाद भी पीड़िता की तहरीर पर उसके साथ हुयी टप्पेबाजी की घटना का मुकदमा नही दर्ज किया।जिससे नाराज पीड़िता ने सीएम जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराकर कार्यवाही की मांग की हैं।लखनऊ जनपद के नगराम थाना के करोरा गांव निवासी नित्या द्विवेदी ने सीएम जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराते हुये बताया 29म ई की सुबह वो अपनी मां कुंती द्विवेदी व छोटी बहन अनन्या के साथ हरिद्वार से वापसी के समय रायबरेली के बछरावा रेलवे स्टेशन पर उतरी थी,जहा उतरने के बाद ई रिक्शा बुककर निगोहां कस्बे के लिये निकली थी,जैसे ही बछरावा थाना क्षेत्र के दामोदारखेड़ा गांव के पास पहुंची थी तभी सड़क पर बच्चो को लिये खड़ी तीन अज्ञात महिलाओ को चालक ने ई रिक्शा में बिठा लिया,जिसके बाद अज्ञात टप्पेबाज महिलाओ ने मेरे मां के गले में पहनी चेन चुरा ली ओर टोल प्लाजा के पास ई रिक्शा रूकवाकर किसी कार में सवार होकर चली गयी‌।जब मां ने गले में पहनी अपनी चेन गायब देखी तो आन‌न-फान‌‌न महिलाओ के रिक्शा में बैठने वाले स्थान दामोदारखेड़ा पहुंचकर कन्ट्रोल रूम के 112नम्बर पर फोन किया जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना क्षेत्र बछरावा बताते हुये थाने जाकर शिकायत करने की बात कही।पीड़िता ने आरोप लगाया थाने पर पहुंचकर लिखित शिकायत की तो मौके पर आकर बिना जांच किये थाने में मौजूद इंस्पेक्टर ने घटना क्षेत्र निगोहां बताकर बिना कार्यवाही बैरंग वापस कर दिया।19दिन तक बछरावा -निगोहां थानो का चक्कर लगाकर हारी पीड़िता बेटी का सब्र रविवार को जबाब दे गया,जिसके बाद उसने एडीजी जोन लखनऊ, आईजी रेंज लखनऊ व एसपी रायबरेली के सीयूजी नम्बर पर फोन कर टप्पेबाजी की घटना में कार्यवाही की मांग की।पीड़िता ने बताया अफसरो की फटकार के बाद बछरावा थाने के एक दारोगा ने उससे अपने मनमाफिक तहरीर लिखाकर साथ लेकर चले गये।लेकिन तब भी मुकदमा नही दर्ज किया।

टप्पेबाजी करने वाली महिलाओ का गैंग मोहनलालगंज पुलिस ने पकड़ा…
पीड़िता नित्या द्विवेदी ने बताया मां कुंती के साथ 19दिन पहले टप्पेबाजी कर सोने की चेन उड़ाने वाली महिलाओ के गैंग को मोहनलालगंज पुलिस ने रविवार को पकड़ा,जिसके बाद मौके पहुंचकर मां के साथ घटना करने वाली महिलाओ की पहचान भी की ओर बछरावां थाने के इंस्पेक्टर को फोन कर सूचना दी लेकिन कार्यवाही की बजाय टालू नीति में माहिर बछरावां इंस्पेक्टर ने मुकदमा नही दर्ज किया उल्टा फोन पर उसे निगोहां थाना क्षेत्र में घटना होने की बात कहकर टरका दिया।

एडीजी व आईजी से कार्यवाही की गुहार भी गयी बेकार…
पीड़िता की बेटी नित्या ने बताया मां के साथ हुयी टप्पेबाजी की घटना में 19दिन तक दौड़ने वाली बछरावां पुलिस ने यूपी कांप व थाने में शिकायत के बाद भी कोई कार्यवाही नही की जिसके बाद उसने एडीजी व आईजी के सीयूजी नम्बरो पर फोन कर उनसे पुरा घटना क्रम बताते हुये कार्यवाही की मांग की तो बड़े पुलिस अफसरो से शिकायत भी बेकार गयी ओर इंस्पेक्टर घटना उनके क्षेत्र में ना होने का राग अलापते रहे।जिसके बाद पीड़िता ने सीएम जनसुनवाई पोर्टल पर कार्यवाही के लिये शिकायत दर्ज करायी।पीड़िता नित्या ने कहा मां के साथ हुयी टप्पेबाजी की घटना में फिर भी कार्यवाही ना होने पर वो सीएम के जनता दरबार समेत डीजीपी व गृह सचिव से मिलकर शिकायत करेगी।

बार्डर के दो थानो की पुलिस भी घटना क्षेत्र चिन्हित नही कर सकी..
पीड़िता नित्या ने बताया मां के साथ हुयी घटना बछरावा थाना क्षेत्र से शुरू होकर निगोहां के दखिना टोल पर खत्म हुयी,लेकिन लखन ऊ-रायबरेली जनपद के बार्डर के दोनो थानो की पुलिस ने 19दिन चक्कर कटवाने के बाद भी मुकदमा नही दर्ज किया ओर बछरावा पुलिस निगोहां क्षेत्र में घटन होने ओर निगोहां पुलिस बछरावा क्षेत्र में घटना होने की बात कहकर टालती रही।

About The Author

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.