July 17, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

कौशाम्बी16अप्रैल24*बेखौफ तरीके प्रतिबंधित आम नीम महुआ आदि के धड़ल्ले से काटे जा रहे हैं हरे पेड़*

कौशाम्बी16अप्रैल24*बेखौफ तरीके प्रतिबंधित आम नीम महुआ आदि के धड़ल्ले से काटे जा रहे हैं हरे पेड़*

कौशाम्बी16अप्रैल24*बेखौफ तरीके प्रतिबंधित आम नीम महुआ आदि के धड़ल्ले से काटे जा रहे हैं हरे पेड़*

*हर्राय पुर ,मोहना पुर मूरतगंज सहित दर्जनों गांव में बीते एक वर्ष से दर्जनों लकड़ी माफिया रात दिन हरियाली नष्ट करने में सक्रिय*

*पुलिस चौकी के बगल चाय के दुकानदारो के यहाँ दर्जनों लकड़ी माफिया व हरियाली के दुश्मन पूरे दिन पुलिस के नाक नीचे सेटिंग व घुस खोरी में रहते हैं मस्त*

*कौशांबी* संदीपन घाट कोतवाली क्षेत्र के बदन पुर ,हर्रायपुर,जलालपुर मरधरा,महंगाव,मूरतगंज,शोभना बसेड़ी,सकाढा सैंता,आदि दर्जनों गांव में बीते एक वर्ष से लकड़ी माफिया अपने साथ कई मजदूरों के साथ इलेक्ट्रॉनिक पेट्रोलिंग आरा मशीन लेकर प्रतिदिन हरे पेड़ के कटान के लिए गांव क्षेत्र में निकल जाते हैं प्रतिदिन इलाके में हरे पेड़ का कटान हो रहा है मंगलवार सुबह भी लकड़ी माफिया ने कई पेड़ काट डाले पुलिस चौकी के बगल चाय के दुकानदारो के यहाँ दर्जनों लकड़ी माफिया व हरियाली के दुश्मन पूरे दिन पुलिस के नाक नीचे सेटिंग व घुस खोरी में मस्त रहते हैं लकड़ी माफिया की साठगाँठ के चलते लगातार संदीपन घाट थाना क्षेत्र में हरियाली नष्ट हो रही है

जानकारी के अनुसार पास में बकरी चरा रहे बच्चों से पूछने पर बताया कि वृक्ष काट रहे लोग आपस में बातचीत में गामा व सुरेश लकड़ी माफिया का नाम ले रहे थे मरधरा व जलालपुर के मध्य लकडी माफिया ने हरे मोटे नीम का पेड़ व गूलर के पेड़ बगैर क्षेत्रीय वन दरोगा के जानकारी के काट दिया और उसके बाद वाहनों के जरिए हरे भरे हुए पेड़ की लकड़ियों को आरा मशीनों में पहुंचाया जा रहा है बताया जाता है कि लकड़ी माफिया इलाके में हरे पेड़ की कटान में कई मजदूरों के साथ तेजी से लगा है स्थानीय पुलिस चौकी वन विभाग और लकड़ी माफिया की साठगाँठ के चलते इलाके की हरियाली नष्ट हो रही है लगातार लकड़ी माफिया द्वारा अब रात में भी पेडों को काटा जा रहा है लकड़ी माफिया द्वारा बीती रात शोभना बसेड़ी के क्षेत्र में कई हरे पेड़ काट दिए गए हैं चर्चाओं पर जाएं तो 3 महीने के बीच सैकड़ो हरे पेड़ लकड़ी माफिया द्वारा काटे गए हैं लेकिन उसके बाद भी वन विभाग के रेंजर से लेकर चौकी पुलिस ने लकड़ी माफिया की कटान पर रोक नहीं लगाई है अभी तक लकड़ी माफिया पर मुकदमा दर्ज करके उसकी गिरफ्तारी वन विभाग और चौकी पुलिस ने नहीं की है जिससे इलाके में पर्यावरण का संकट उत्पन्न हो रहा है क्षेत्र के लोगों ने वन विभाग और पुलिस विभाग के आला अधिकारियों का ध्यान आकर्षित करते हुए लकड़ी माफिया पर कार्यवाही कर हरे पेड़ कटान पर रोक लगाए जाने की मांग की है ।

*पत्रकार विष्णु कुमार सोनी अखंड भारत संदेश 9621013918*

About The Author

Taza Khabar

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.