April 21, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

औरैया 30 सितम्बर *डीएम की अध्यक्षता में हुआ उद्योग बंधु की बैठक का आयोजन*

औरैया 30 सितम्बर *डीएम की अध्यक्षता में हुआ उद्योग बंधु की बैठक का आयोजन*

औरैया 30 सितम्बर *डीएम की अध्यक्षता में हुआ उद्योग बंधु की बैठक का आयोजन*

*लंबित ऋण पत्रावली के संबंध में अग्रणी जिला प्रबंधक को बैठक के दौरान दिए गये दिशा निर्देश*

*औरैया 30 सितंबर 2022*– जिलाधिकारी प्रकाश चन्द्र श्रीवास्तव की अध्यक्षता में जिला उद्योग बंधु की बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने विभिन्न बैंकों शाखाओं में लंबित ऋण पत्रावलियों के संबंध में अग्रणी जिला प्रबंधक को निर्देश दिए कि सभी जिला समन्वयकों से संपर्क स्थापित कर तीन दिनों में निस्तारण करवाना सुनिश्चित करें। जिला खादी ग्रामोद्योग अधिकारी ने बताया कि शाखा प्रबंधक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया शाखा कंचौसी के यहां पांच ऋण पत्रावलियां एक बर्ष से पीएमईजीपी पोर्टल पर स्वीकृत थी, परंतु शाखा प्रबंधक द्वारा स्वीकृत ऋण पत्रावलियों को पोर्टल पर अस्वीकृत कर दी गई हैं।
जिस पर जिलाधिकारी ने रोष व्यक्त करते हुए शाखा प्रबंधक के खिलाफ अग्रणी जिला प्रबंधक को निर्देश दिए। डीएम ने निर्देश देते हुए कहा कि इनके विरूद्ध सेंट्रल बैंक के महाप्रबंधक मुम्बई को पत्र जारी करें अधिशाषी अभियंता विद्युत वितरण खंड को बिजली का कार्य पूर्ण करने पर धन्यवाद ज्ञापित किया। बैठक में उपस्थित यूपीसीडा कानपुर से आये अरूण कुमार प्रबंधक को प्लास्टिक सिटी में आवंटित उघमियो ने अपनी समस्या से अवगत कराया कि प्लास्टिक सिटी में रोड खराब, बिजली, पानी की कोई सुविधा न होने के कारण वो अपना उद्योग स्थापित नहीं कर पा रहे। जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग औरैया, अधिशाषी अभियंता विद्युत वितरण खंड दिबियापुर से मिलकर इनकी समस्या का समाधान कराये। व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष एवं नगर अध्यक्ष ने जिलाधिकारी को बताया कि उनके छोटे छोटे व्यापारियों को बैंकों द्वारा ऋण नहीं मिल पा रहा है, जिस पर जिलाधिकारी ने अग्रणी जिला प्रबंधक को निर्देश दिए कि बैंकों में लंबित पत्रावलियों को ससमय अपने स्तर से निस्तारण कराएं, जिससे छोटे छोटे व्यापारियों को ऋण मिल सके। बैठक में अपर जिला अधिकारी रेखा एस चौहान, मुख्य विकास अधिकारी कुमार सिंह, परियोजना निदेशक हरेंद्र सिंह, अग्रणी जिला प्रबंधक, उपायुक्त उद्योग, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी गण उपस्थित रहे।

About The Author