June 17, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

सहारनपुर09जून24*पत्रकारिता के नाम पर अवैध उगाही करने वाले लोगों से रहे सावधान धुनाई कर सौंपे पुलिस को--

सहारनपुर09जून24*पत्रकारिता के नाम पर अवैध उगाही करने वाले लोगों से रहे सावधान धुनाई कर सौंपे पुलिस को–

सहारनपुर09जून24*पत्रकारिता के नाम पर अवैध उगाही करने वाले लोगों से रहे सावधान धुनाई कर सौंपे पुलिस को–

*▶️ जनपद में किसकी सरपरस्ती में पनप रहे हैं अवैध उगाही करने वाले फर्जी पत्रकार–*

*▶️अखिल भारतीय पत्रकार प्रेस क्लब सहारनपुर बनेगा मजलूमों की आवाज मीडिया को बदनाम करने वाले लोगों से लड़ी जाएगी आर पार की लड़ाई -राष्ट्रीय अध्यक्ष-*

*✅सहारनपुर/लखनऊ।अक्सर समुद्र में बड़ी मछली छोटी मछली को अपना निवाला बनाती है ऐसा ही आज के बदलते मीडिया जगत में हो रहा है।सूत्रों के अनुसार मसलन जनपद से उस लेकर प्रदेश भर में कुछ तथाकथित ऐसे पत्रकार हैं जिन्होंने अपनी अर्जी फर्जी तरीके से मान्यता करा रखी है और प्रशासन से लेकर गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों पर अपनी हुकूमत करने में लगे हैं। अखिल भारतीय पत्रकार प्रेस क्लब के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि किसी ने किसी को तो सामने आना होगा मीडिया को बदनाम करने वाले लोगों से लड़ाई के लिए संगठन आर पार की लड़ाई लड़ने को तैयार है।जो लोग अवैध उगाही करने वाले तथाकथित पत्रकारों से आहत है हमारा संगठन ऐसे लोगों की मदद के लिए पूरे प्रदेश में तत पर है।ऐसे लोगों से पीड़ित व्यक्ति लिखित में संगठन से मांगे मदद।सूत्र बताते हैं कि जनपद से लेकर प्रदेश भर में ऐसे अनेक लोग भरे हैं अगर उनकी पोल खोली जाए तो वह नंगे हो जाएंगे क्योंकि उनके कारनामें हर कोई नहीं जानता वह कथित लोग शराब कबाब अय्याशी तक के शौक रखते हैं।और छोटे पत्रकारों के रहनुमा बनकर उन्हें गुमराह कर अपने पीछे भीड़ को दिखाते हैं और कुछ लोग तो ऐसे हैं।पत्रकारों के समक्ष लच्छेदार बात उनके हाथों से अपने गलों में माल डलवा कर खुद को तीस मारखा समझ दुनिया पलटने तक की बात करते हैं।जबकि सच्चाई यह है कि जब किसी पत्रकार पर कोई मुसीबत आए तो वह बिलों से बाहर तक नहीं निकलते।ऐसे लोगों ने आज तक गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के हितों के लिए कोई आवाज नहीं उठाई अगर सरकार ने कोई सुविधा दी है तो वैसे मान्यता प्राप्त पत्रकारों को दी है जो जिनमें से अधिकांश लोग पूरी तरह हमाम में नंगे की तरह ही है अगर उनकी जांच की जाए तो वह दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।सरकार ने गैर मान्यता प्राप्त के लिए भी कुछ कदम उठाने जबकि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ की असली रीड गैर मान्यता प्राप्त पत्रकार ही है।कुछ लोगों ने तो अर्जी फर्जी तरीकों से अपनी मान्यता कर रखी है उसकी भी सरकार ने जांच करानी चाहिए। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए अखिल भारतीय प्रेस क्लब के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक शर्मा ने कहा वह जल्दी सूचना प्रसारण मंत्रालय एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री को इस संबंध में भी अवगत कराएंगे।सहारनपुर में अखिल भारतीय पत्रकार प्रेस क्लब का मुख्य कार्यालय दिल्ली रोड आईटीआई के सामने वहां अवैध उगाही करने वाले तथाकथित पत्रकारों की शिकायत पीड़ित व्यक्ति कर सकता है।संगठन द्वारा पूरी सपोर्ट की जाएगी।ताकि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ से भी कचरे की सफाई हो सके जो लोग अवैध उगाही के साथ-साथ न जाने अन्य कितने उल्टे सीधे कार्य कर मीडिया को बदनाम करने में लगे हैं ऐसे लोगों के विरुद्ध भी कठोर कार्रवाई होनी चाहिए। इतना ही नहीं अब तो अवैध धंधा करने वाले लोगों ने अपना नाम छिपाकर दूसरे पत्रकारों तक का नाम खुद का बताना शुरू कर दिया है और वहां से अवैध उगाई कर आसानी से नौ दो ग्यारह हो जाते हैं सूत्र बताते हैं जनपद सहारनपुर में ऐसे कई मामले चर्चाओं में हैं।जागरूक जनता से अपील है कि वह ऐसे लोगों से सावधान रहें पत्रकारिता के नाम पर डराकर अवैध उगाही करने वाले लोगों के विरुद्ध प्रशासन भी पूरा सख्त है उनकी शिकायत टोल फ्री 112 या संबंधित थाना पुलिस में करें या फिर अच्छे से उसकीधुनाई कर उन्हें पुलिस को सौंपे-मीडिया रिपोर्ट-*

About The Author

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.