April 21, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

वाराणसी21नवम्बर23*दिनांक 21 नवंबर सुबह अक्षय पात्र का निरीक्षण किया गया

वाराणसी21नवम्बर23*दिनांक 21 नवंबर सुबह अक्षय पात्र का निरीक्षण किया गया

वाराणसी21नवम्बर23*दिनांक 21 नवंबर सुबह अक्षय पात्र का निरीक्षण किया गया

माननीय उत्तर प्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य श्रीमती श्रीमती निर्मला सिंह पटेल तथा सदस्य इंजीनियर अशोक यादव द्वारा दिनांक 21 नवंबर सुबह अक्षय पात्र का निरीक्षण किया गया

जिला प्रोबेशन अधिकारी सुधाकर शरण पाण्डेय,डिप्टी सीएमओ एस एस कनौजिया,संरक्षण अधिकारी निरुपमा सिंह,बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष स्नेहा उपाध्याय तथा एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट यूनिट के प्रभारी सुधीर सिंह की उपस्थिति रही निरीक्षण के दौरान अक्षय पात्र के वाराणसी यूनिट के नोडल राहुल झा उपस्थित रहे अक्षय पात्र के स्टोर प्रोसेसिंग यूनिट प्रोडक्शन यूनिट तथा जहां से रोटी बनाई जाती है सारी यूनिट का जांच की गई सभी जगह साफ सफाई तथा भोजन बनाने से पैकेजिंग से लेकर विद्यालयों में भेजने तक की बहुत ही सराहनीय व्यस्था पाईं गई।इसके बाद टीम चौका घाट स्थित जिला जेल निरीक्षण के लिए पहुंची निरीक्षण के दौरान जेल अधीक्षक उमेश सिंह ने नव निर्मित महिला बैरक दिखाया गया आज की दिनांक में कुल 96 महिलाएं तथा 6 वर्ष से कम आयु के 5 बच्चे जिसमे 4 बालिकाएं तथा एक बालक की संख्या पाई गई महिलाओं तथा बच्चो को उपलब्ध की जाने वाली सुविधाओं को देखा गया जो कि सही पाई गई छोटे बच्चो के लिए झूला लगाया गया बाल केंद्र की व्यवस्था बच्चो के लिए पाई गई स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर भी नियमित स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है ,निरीक्षण के दौरान सभी व्यवस्था सही पाई गई जेल निरीक्षण के बाद टीम सर्किट हाउस में जनसुनवाई करने पहुंची जनसुनवाई में कुल 7 प्रकरण आए जिसमे एक प्रकरण जिसमे पत्नी की हत्या में पति जेल में हैं दो बच्चे जो रिश्तेदार के के पास रह रहे हैं उनको जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा तत्काल स्पॉन्सरशिप योजना का फार्म उपलब्ध कराया गया तथा फॉर्म को पूर्ण करते हुए जमा करने को कहा गया जिससे बच्चों को ₹4000 प्रतिमाह प्राप्त हो सके तथा आयोग द्वारा अग्रिम कार्यवाही के लिए प्रकरण को पुलिस विभाग में संदर्भित किया गया से अन्य प्रकरण संबंधित विभागो को तत्काल कार्यवाही करते हुए एक सप्ताह के अंदर आख्या जिला प्रोबेशन अधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए जिससे आयोग को सूचना भेजी जा सके जनसुनवाई के आयोग ने जनपद के सभी विभागो के अधिकारयों के साथ बैठक की जिसमे अपर पुलिस उपायुक्त महिला अपराध,सहायक नगर आयुक्त ,जिला समाज कल्याण अधिकारी,जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक बेसिक शिक्षा अधिकारी आबकारी विभाग के अधिकारी,एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट के प्रभारी स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि बाल देखरेख संस्थाओं के अधीक्षक मद्य निषेध विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई बैठक में स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताया गया की टीकाकरण में वाराणसी पूरे प्रदेश में नंबर एक है साथ ही कन्या सुमंगला योजना मातृत्व वंदन योजना भी आवेदन कराए जा रहे हैं श्रम विभाग द्वारा बताया गया कि कि बाल श्रमिक विद्याधन योजना के तहत 100 के सापेक्ष कुल 86 बच्चो को लाभान्वित किया जा रहा है ,जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बताया गया कि उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत जिन बच्चों के माता-पिता दोनों अथवा किसी एक की कोविद से मृत्यु हो गई है ऐसे 249 बच्चों को 349 बच्चों को लाभ अंवित किया जा रहा है तथा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना सामान्य के अंतर्गत 942 बच्चन को लाभान्वित किया जा रहा है एवं अब तक लगभग 2100 बच्चे चिन्हित किया जा चुके हैं जिन्हें आगामी मन में इस योजना से अच्छा अधिक कर लिया जाएगा साथ ही स्पॉन्सरशिप योजना के अंतर्गत मुख्य विकास अधिकारी महोदय के निर्देश पर सभी विभाग के अधिकारियों द्वारा बच्चों के चिन्हीकरण का कार्य किया जा रहा है तथा उनके आवेदन पत्र भी भरवाए जाने की कार्यवाही की जा रही है बैठक में आयोग की सदस्य श्रीमती निर्मला सिंह पटेल तथा इंजीनियर अशोक यादव जी द्वारा सभी विभागों के को निर्देशित किया गया कि जब भी कोई विभाग जनपद में बच्चों से संबंधित कोई कार्यक्रम करें तो आयोग को भी ऐसे कार्यक्रमों की सूचना दें तथा श्रम विभाग रेस्क्यू की कार्यवाही करते समय आयोग की को सूचित करें जिससे बाल श्रमिक के रिस्क के दौरान भी आयोग की टीम मौजूद रह सके साथ ही समीक्षा बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को बाल विचार वृद्धि अभियान को और सक्रिय ढंग से संचालित करने हेतु निर्देश दिए गए तथा भिक्षावृत्ति को लेकर एक विशेष हेल्पलाइन नंबर जारी करने का सुझाव भी दिया गया!

About The Author