March 4, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

पंजाब01दिसम्बर23बॉम्बे इंस्टिट्यूट की छात्रा प्रवीण कौर वकील बनी शिक्षा ही आप के घर की गरीबी दूर करेगी

पंजाब01दिसम्बर23बॉम्बे इंस्टिट्यूट की छात्रा प्रवीण कौर वकील बनी शिक्षा ही आप के घर की गरीबी दूर करेगी

पंजाब01दिसम्बर23बॉम्बे इंस्टिट्यूट की छात्रा प्रवीण कौर वकील बनी शिक्षा ही आप के घर की गरीबी दूर करेगी

-गगन चुघ मेरी सारी वकालत की पढ़ाई अंशु कटारिया सर की बदौलत निशुल्क हुई है-प्रवीण कौर
अबोहर, 01 दिसंबर (शर्मा/सोनू): युवतियों को विभिन्न कोर्सो की निशुल्क ट्रेनिंग एवं शिक्षा में मदद कर आत्मनिर्भर बनाने में अहम भूमिका निभा रहे अबोहर के बॉम्बे इंस्टिट्यूट की एक और छात्रा बड़ी सफलता हासिल कर वकील बनी है।बॉम्बे इंस्टिट्यूट के संचालक गगन चुघ ने बताया कि प्रवीन कौर ने वर्ष 2018 में आर्यन कॉलेज में बीएएलएलबी में दाखिला लिया था,और वर्ष 2021 तक स्कॉलशिप न आने के बावजूद कॉलेज के चेयरमैन डॉक्टर अंशु कटारिया की मदद से प्रवीण की आर्यन कालेज में नि:शुल्क पढ़ाई हुई और कभी उससे कोई फीस इत्यादि नही ली गई।आज प्रवीण कौर पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट बार कॉउंसल से लाइसेंस लेकर बॉम्बे इंस्टिट्यूट के संचालक गगन चुघ का धन्यवाद करने अबोहर आई जिनकी बदौलत वह अपनी वकालत की पढ़ाई पूरी कर पाई।इस मौके पर गगन चुघ ने भी प्रवीण कौर की सफलता पर खुशी जाहिर करते हुए उनका स्वागत किया और उज्ज्वल भविष्य हेतु शुभकामनाएं दी।गगन चुघ ने बताया कि बॉम्बे इंस्टीट्यूट की तरफ से अब तक 154 लड़किया निशुल्क वकालत की पढ़ाई कर रही हैं और बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत 2500 लड़किया कंप्यूटर और सिलाई कढ़ाई,ब्यूटी पार्लर,इंग्लिश स्पीकिंग निशुल्क ट्रेनिंग लेकर आत्मनिर्भर बन चुकी है।चुघ ने बताया कि यह सारे कोर्स बिना किसी सरकारी या गैर सरकारी सहायता से करवाये जाते हैं।गगन चुघ ने कहा कि बॉम्बे इंस्टिट्यूट अपनी शुरुआत से जरूरतमंद परिवार की बेटियों को नि:शुल्क शिक्षा देकर उनको आत्मनिर्भर बना रहा है तथा बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत यह कार्य आगे भी जारी रहेगा। फोटो:7 छात्रा प्रवीण कौर को धन्यवाद करती।


SATYA NARAYAN SHARMA
Crime Reporter
Contact No. 70870-64500, 98150-75201
सत्य नारायण शर्मा (शर्मा पत्रकार)
Nai Abadi St. No.11, Kumarawali Gali, ABOHAR
क्राईम रिपोर्टर, अबोहर, जिला फाजिल्का (पंजाब)
हर प्रकार की खबरें, विज्ञापन, जन्मदिन, सालगिरह, शोक बेदखली, बेदखली बहाल

About The Author

Taza Khabar