April 19, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

दिल्ली278अगस्त*ध्यान भूमि चार्पडा का संदेश*

दिल्ली278अगस्त*ध्यान भूमि चार्पडा का संदेश*

दिल्ली278अगस्त*ध्यान भूमि चार्पडा का संदेश*
☸️☸️☸️☸️☸️
*मिशन समृद्ध भारत एवं प्रबुद्ध भारत का निर्माण किया जाएगा: डा.भिक्खु मित्र बोधी अशोक।*
????????
*भिक्खु/ श्रामनेर प्रशिक्षण एवं ध्यान शिविर का आयोजन*
*रजिस्ट्रेशन शुरू*
??????
*मैत्रेय बौद्ध संघ द्वारा ध्यान स्थली Zhan Bhoomi “मैत्रेय मेडिकल मेडिटेशन मोनेस्ट्री” नांदेड़ रोड चार्पडा टाउन,जिला-यवतमाल (महाराष्ट्र) देश में सम्यक सम्बुध्द, सम्राट अशोक प्रियदर्शी एवं बोधिसत्व बाबासाहेब डॉक्टर अंबेडकर के सपनों को पूरा करने के लिए “बौद्ध संगठनों की राष्ट्रीय समन्वय समिति भारत” के साथ मिलकर “मिशन समृद्ध भारत एवं प्रबुद्ध भारत” बनाने के लिए कार्य किया जा रहा है।*
*मिशन समृद्ध भारत एवं प्रबुद्ध भारत के 13 केंद्रों का निर्माण किया जा रहा है। अभी ध्यान भूमि के विकास के लिए 31 एकड़ भूमि खरीदा गया है। आवश्यकता अनुसार लगभग 100 एकड़ जमीन और खरीदा जाएगा। ध्यान भूमि भारत सहित विश्व के सभी धर्मों के लिए लोक कल्याण, ध्यान, स्वास्थ्य, योग शिक्षा एवं बेरोजगारों को रोजगार देने का प्रमुख केंद्र होगी*।
*ध्यान भूमि का लक्ष्य ध्यान, विज्ञान, योग साधना के द्वारा 500 बौद्ध भिक्खुओं को तथागत बुद्ध की प्राचीन “बुद्ध ध्यान साधना” का प्रशिक्षण देकर लोगों के जीवन को निरोगी एवं सुखमय बनाने में लगाया जाएगा।*
*इसी उद्देश्य को लेकर 7 दिवसीय भिक्खु/ श्रामनेर प्रशिक्षण एवं ध्यान शिविर का आयोजन बौद्ध संगठनों की राष्ट्रीय समन्वय समिति भारत के धम्मा सलाहकार तथा मैत्रेय मेडिकल मेडिटेशन मॉनेस्ट्री के संस्थापक -अध्यक्ष पूज्य भिक्खु डॉक्टर मित्र बोधी अशोक जी के सानिध्य में क्रमशः 16 अक्टूबर से 22 अक्टूबर, 2022 तक “सात दिवसीय भिक्खु/ श्रामनेर प्रशिक्षण एवं ध्यान शिविर” का आयोजन किया जा रहा है*।

*इस विशेष शिविर में 100 उपासक एवं उपासिकाओं के लिए ठहरने एवं भोजन की निशुल्क व्यवस्था है।*

*बौद्ध साधकों से आग्रह है कि अपना पंजीकरण 14 अक्टूबर 2022 से पहले करा लें और 15 अक्टूबर 2022 को शाम 7:00 बजे तक ध्यान भूमि मैत्रेय मेडिकल मेडिटेशन मॉनेस्ट्री चार्पडा पहुंचे।*

*ध्यान भूमि मैत्रेय मेडिकल मेडिटेशन मॉनेस्ट्री नागपुर नांदेड़ हाईवे पर जिला यवतमाल से 20 किलोमीटर पहले चार्पडा टाउन पर स्थित है। दानदाताओं द्वारा खर्च करके 500 करोड़ में बनाई जा रही यह भव्य मॉनेस्ट्री नागपुर से 100 किलोमीटर एवं वर्धा सेवाग्राम रेलवे स्टेशन से 45 किलोमीटर की दूरी पर है। दुनिया भर से आने वाले बौद्धों के लिए यह बहुत ही पवित्र स्थल है‌। यहां पर भारत के बौद्ध अंबेडकरी समुदाय को स्वास्थ्य, शिक्षा एवं बुद्ध दर्शन का प्रशिक्षण सही मायने में दिया जा रहा है। जिसका लाभ देशभर से आने वाले बौद्ध अंबेडकरी श्रद्धालुओं के अलावा अन्य धर्मों के श्रद्धालु भी बुद्ध की शिक्षाओं से लाभान्वित हो रहे हैं*।
*इस विशेष भिक्खु/ श्रामनेर प्रशिक्षण ध्यान शिविर में आने वाले साधकों को भगवान बुद्ध के अष्टांगिक मार्ग पर चलना सिखाया जायेगा। अष्टांगिक मार्ग पर चलकर हम सभी भव संसार दुख चक्र से मुक्त हो सकते हैं। विज्ञान योग ध्यान के द्वारा मनुष्य अपनी मृत्यु का समय भी निश्चित कर सकता है और स्वस्थ एवं निरोगी जीवन जी सकता हैं।बुद्ध के मार्ग पर चलकर मन के अंदर जो गंदगी होती है, वह निकल जाती है और हम करुणा, मैत्री के साथ शांतिपूर्ण जीवन जी सकते हैं। हमारे घर परिवारों में शांति का माहौल बनता है*।
*भगवान बुद्ध के धम्म का प्रचार प्रसार एवं मानव कल्याण हेतु भिक्खु/ श्रामनेर प्रशिक्षण ध्यान शिविर का आयोजन किया जा रहा है*।
*जो उपासक – उपासिकाएं इस विशेष भिक्खु/श्रामनेर प्रशिक्षण एवं ध्यान शिविर में आना चाहते है,वे कृपया नीचे लिखे मोबाइल नंम्बरो पर सम्पर्क करके अपना स्थान आरक्षित करा लें*।
*जो दानदाता उपासक एवं उपासिकाएं इस विशेष भिक्खु/श्रामनेर प्रशिक्षण ध्यान शिविर में भोजन दान देने की भावना रखते हैं और दान देना चाहते हैं तो! वे कृपया हमें अवगत करा दे।*
*ध्यान भूमि मैत्रेय मेडिकल मेडिटेशन मॉनेस्ट्री, चार्पडा टाउन में दान देने वाले दानदाताओं को आयकर की धारा 12 A एवं 80 G के तहत income tax में छूट मिलती है। हम दानदाताओं को दान प्राप्ति की रसीद एवं आयकर छूट प्रपत्र प्रदान करते हैं*।
*कृपया दान सहयोग राशि भारतीय स्टेट बैंक के एकाउंट A/c N0:*
32748438276
*IFSE Code*:
SBIN0006332
*District-Yavatmal M.S.में जमा करें।*
? *दान है,दान का फल है इसे भगवान ने सम्यक दृष्टि (सही धारणा वाला)कहा है। दान सचमुच अनुपम होता है, असीम पुण्य फलदाई होता है*।
( *महा-चत्तारीसक-सुत्तन्त,मज्झिम निकाय*)

? *आवश्यक निर्देश*:-
1 – *ध्यान के समय कोई भी साधक मोबाइल फोन नहीं चलाएगा । ध्यान केंद्र में मोबाइल ले जाना वर्जित है*।
2 – *पुरुष एवं महिला साधकों को अलग-अलग निवास की व्यवस्था होगी*।
3 – *पुरुष साधकों को ध्यान शिविर में पहनने के लिए दो कषाय वस्त्र (चीवर) दिए जाएंगे।*
4 – *महिला साधकों को पहनने के लिए ध्यान शिविर में सफेद वस्त्र दिए जाएंगे, साथ ही ध्यान शिविर में भाग लेने वाली महिला साधकों को बाल (केश) कटवाना आवश्यक नहीं होगा।*

5 – *सभी साधकों को प्रातः 7:00 बजे नास्ता,चाय जलपान एवं 11:30 बजे भोजन एवं सायंकाल चाय जलपान दिया जाएगा,शाम का भोजन साधकों को आवश्यकता अनुसार दिया जाएगा*।
6 – *असाध्य रोग से पीड़ित साधकों को अपनी दवाई एवं अन्य उपयोगी सामान साथ रखना होगा*।
7 – *सभी साधको को दो पासपोर्ट फोटो, आधार कार्ड की फोटो कॉपी, एवं पंजीकरण दान सहयोग राशि ₹1000 जमा कराना होगा।*
8 – *इस विशेष भिक्खु /श्रामनेर प्रशिक्षण ध्यान शिविर में भाग लेने वाले सभी प्रशिक्षित भिक्खुओं एवं श्रामनेरों को प्रमाण- पत्र प्रदान किया जाएगा*।
9 – *इस विशेष भिक्खु/ श्रामनेर प्रशिक्षण ध्यान शिविर में भाग लेने के लिए 15 अक्टूबर 2022, शाम तक “ध्यान भूमि मैत्रेय मेडिकल मेडिटेशन मॉनेस्ट्री चार्पडा टाउन पहुंचना होगा।*
10 – *सभी साधकों को आने- जाने का रेल,बस यात्रा एवं हवाई यात्रा खर्च स्वयं वाहन करना होगा*।
*भवतु सब्ब मंगलं*
?????
*संयोजक*
1- *रमेश बैंकर बौद्ध*
*महासचिव, गुजरात बुद्धिस्ट अकादमी*
*राष्ट्रीय सलाहकार*
*राष्ट्रीय बौद्ध धम्म संसद बुध्दगया एवं*
*बौद्ध संगठनों की राष्ट्रीय समन्वय समिति,भारत*
*सम्पर्क*:
M:99987 33336
2 – *अभय रत्न बौद्ध*
*राष्ट्रीय समन्वयक एवं संगठक*
*राष्ट्रीय बौद्ध धम्म संसद बुध्दगया एवं*
*बौद्ध संगठनों की राष्ट्रीय समन्वय समिति भारत*
*संपर्क*: M:9899853744
*मुख्यालय*: महाबोधि मेडिटेशन सेंटर, बुद्धगया, जिला,गया-824231 (बिहार)
*आयु. प्रकाश बोधी*
*सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी*
*ध्यान भूमि, मैत्रेय मेडिकल मेडिटेशन मॉनेस्ट्री, चार्पड़ा टाउन,जिला – यवतमाल (महाराष्ट्र)*
*संपर्क*:
M-9822946598
M- 9421339911
*केंद्रीय कार्यालय*: बुद्ध कुटीर,284/सी-1, स्ट्रीट नंबर-8, नेहरू नगर, नई दिल्ली-110008
*गुजरात कार्यालय* :28, दयाल सोसाइटी, जीवराज पार्क,
अहमदाबाद-380051
*संपर्क*:
M:99244 33336
????????

About The Author

Taza Khabar