May 22, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

झांसी, मऊरानीपुर 27 अप्रैल2024*ग्राम खिलारा में चल रही भक्त माल कथा का आंनद ले रहे श्रोता।

झांसी, मऊरानीपुर 27 अप्रैल2024*ग्राम खिलारा में चल रही भक्त माल कथा का आंनद ले रहे श्रोता।

संवाददाता सुरेन्द्र द्विवेदी यूपी आजतक खिलारा झांसी।

झांसी, मऊरानीपुर 27 अप्रैल2024*ग्राम खिलारा में चल रही भक्त माल कथा का आंनद ले रहे श्रोता।

संगीतमय श्री भक्तमाल कथा का व्याख्यान करते हुए चित्रकूट धाम परिक्रमा मार्ग से पधारे त्रिलोकीनाथदास महाराज ने कहा कि भक्त से ही भगवान की पहचान होती है। भक्त शिरोमणि नाभादास महाराज की कथा का मार्मिक वर्णन करते हुए कहा कि जैसे बगैर पानी के मछली नही रह सकती उसी तरह मनुष्य भगवान की पूजा, अर्चना व सेवा करके नही रह सकता है। उन्होंने कहा कि भगवान के चरणों की सेवा करने से भक्ति मिलती है और मनुष्य के सारे कष्ट दूर हो जाते है। गुरुदीक्षा लेने वाले भक्त को छः हजार गुरु मंत्र का प्रतिदिन जाप करने के साथ तिलक लगाना के अलावा शिखा रखनी व यज्ञोपवीत धारण करना चाहिए। इस दौरान फूलादेवी, मुन्नीदेवी, गणेशी देवी, अर्चना देवी, संतोषी, मालती, कांति, मलको देवी, हल्की बिन्नू, रानी, विनीता, रजनी, गायत्री देवी, माही , प्रीती, विपिन विहारी विश्वकर्मा, धमेंद्र विश्वकर्मा, राजा विश्वकर्मा, दीनदयाल विश्वकर्मा, लखनलाल विश्वकर्मा, परमानंद विश्वकर्मा, भगवतप्रसाद, अनिल विश्वकर्मा, जितेन्द्र विश्वकर्मा, कैलाश विश्वकर्मा, कौशल किशोर, मुन्नालाल विश्वकर्मा, कृष्णकांत, प्रिन्स द्विवेदी, मृदुल विश्वकर्मा, उमेश विश्वकर्मा, राजू विश्वकर्मा, अभी विश्वकर्मा, रामगुलाम यादव, योगेन्द्र द्विवेदी, गबबन तिवारी, सुरेन्द्र द्विवेदी, अनिल द्विवेदी, संतोष कुमार, पूततू महराज, भगवानदास आदि मौजूद रहे।

About The Author

Taza Khabar

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.