February 27, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

झाँसी19नवम्बर*साहित्यकारों ने कविता के माध्यम से रानी झाँसी को किया याद किया।

झाँसी19नवम्बर*साहित्यकारों ने कविता के माध्यम से रानी झाँसी को किया याद किया।

झाँसी19नवम्बर*साहित्यकारों ने कविता के माध्यम से रानी झाँसी को किया याद किया।

झांसी 19 नवंबर। गुरसराय में लक्ष्मीबाई के जन्मदिन पर राष्ट्र जागरण साहित्यकार मंच के तत्वावधान में मातवाना मुहल्ला में काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया।जिसमे साहित्यकारों ने कविताओं के माध्यम से वीरांगना झाँसी को श्रद्दांजलि अर्पित की।
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में चेयरमैन देवेश पालीवाल रहे।विशिष्ट अतिथि माध्यमिक शिक्षक संघ के पूर्व जिलाध्यक्ष जगमोहन समेले, जगदम्बा प्रसाद गौतम रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ डी आर वर्मा बेचैन ने की‌ । रानी झाँसी के चित्र पर माल्यार्पण के बाद पूजा तोमर द्वारा वाणी वंदना से कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ।
कार्यक्रम में मनीष मिश्रा द्वारा ग़ज़ल सर झुकाओगे तो पत्थर देवता हो जाएगा से वाहवाही लूटी।डॉ डी आर वर्मा बेचैन ने बन के बन रानी भवानी बनी प्रस्तुत की। संचालन करते हुए मंच के संस्थापक एवं संचालक डॉ सुकदेव कुमार व्यास ने अपनी प्रस्तुति में जीते जी झाँसी ना दूंगी,
शहीदों की शहादत का सपूतो ध्यान करना है। के द्वारा श्रद्दांजलि अर्पित की। इसके अलावा प्रसिद्ध नारायण यादव, ओमप्रकाश पंडा,एम एस तोमर,अनुराग शर्मा, चंद्रभान सिंह चन्दर,रब्बू माते, घनश्याम सिंह जलज, उदयभान शर्मा,भगवान दास बक्शी, शिवचरण शर्मा ,अरुणेश शर्मा,श्रीमती प्रेमा शर्मा,योगेंद्र मिश्रा, आदि ने वीर रस की कविताओं से वीरांगना झाँसी को याद किया।आभार शिवचरण शर्मा अरुणेश ने व्यक्त किया।
इस मौके पर सरजू शरण पाठक, विष्णु पाठक,आत्माराम फौजी, मनोज नायक,मानिकलाल सेन आदि उपस्थित रहे।

झांसी से सुरेन्द्र द्विवेदी यूपी आजतक।

About The Author

Taza Khabar