May 21, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

कौशाम्बी21अप्रैल24*गैस उपभोक्ताओं से लूट का अड्डा बना लोधउर गैस एजेंसी*

कौशाम्बी21अप्रैल24*गैस उपभोक्ताओं से लूट का अड्डा बना लोधउर गैस एजेंसी*

कौशाम्बी21अप्रैल24*गैस उपभोक्ताओं से लूट का अड्डा बना लोधउर गैस एजेंसी*

*कैश एण्ड कैरी द रिबेट के नाम पर जमकर धांधले बाजी कर रहा है गैस एजेंसी संचालक*

*नेवादा कौशाम्बी* बढ़ते भ्रष्टाचार के बीच चायल तहसील के लोधउर स्थित गैस एजेंसी गैस उपभोक्ताओं से लूट का अड्डा बन गई है शिकायतों के बाद उपभोक्ताओं के साथ लूट करने वाले एजेंसी संचालक पर अधिकारियों ने मुकदमा नहीं दर्ज कराया है देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लाखों करोड़ो गरीब माताओं बहनों को उज्जवला योजना के तहत गैस सिलेंडर फ्री मे वितरंण किया लेकिन यहां एजेंसी में गरीब माताओं बहनों को जमकर लूटा जा रहा है जहां एक तरफ गैस एजेन्सी संचालक कैश एण्ड कैरी द रिबेट के नाम पर खूब जमकर धांधले बाजी कर रहा है वहीं दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्र के ग्रहकों के साथ बदसुलूकी भी की जा रही है गरीब मातायें बहने अपना कैश एण्ड कैरी का अधिकार पाने के लिये बिवश है और गैस एजेन्सी संचालक कैश एण्ड कैरी का धन लूटकर धन्ना सेठ बन रहा है डिलीवरी के नाम पर भी ग्राहकों से अवैध रुप से 35-40 रुपए लिया जाता है

चायल तहसील के लोधउर बाजार के पास मौजूद संतोष आर्मी इन्डेन गैस एजेन्सी लगभग पांच- छ: वर्षों से संचालित हुई है यहां पर देखा जाता है कि गरीब जनता के साथ कैश एण्ड कैरी के नाम पर मतलब अगर ग्राहक गोदाम से गैस सिलेन्डर लेता है तो उसे 30 रुपये वापस मिलना चाहिये लेकिन ऐसा नही है ग्राहकों को वापस न देकर पैसा सीधा गैस एजेन्सी संचालक के खाते मे जाता है और होम डिलीवरी का वर रेट का भी पैसा संचालक के खाते मे जाता है क्यों कि जो आन लाईन कीमत है वह 855.5/ रुपये है ग्रहकों को घर पर पहुंचा कर दिये जाने की कीमत है लेकिन यहां पर काफी बड़े पैमाने पर गरीबों को भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ाकर जमकर लूटा जा रहा है जिससे गैस एजेन्सी संचालक को लाखों की अवैध तरीके से वार्षिक कमाई हो रही है इसी क्रम मे बीते 24 मार्च को किसी न्यूज चैनल के पत्रकारों ने कबरेज करने आये थे उस दौरान काफी कमिया पाई गई उस समय पत्रकार और मैनेजर के बीच ओरिजनल रजिस्टर दिखाने को लेकर काफी गरमा गरमी भी हुई लेकिन पत्रकारों को किसी तरह ले देकर मामले को सलटाया गया अगर पत्रकारों के आंकड़ों पर जायें तो गोदाम से सिलेंडर की बिक्री रजिस्टर पर दर्ज आकड़ा 150 था अगर देखा जाये तो 150×30=4500/ चार हजार पांच सौ रुपए एक दिन का होता है और इसको अगर एक वर्ष का गुणन फल निकाला जाय तो 1620.000/यनि सोलह लाख बीस हजार रुपये की अवैध कमाई होती है और यहां अगर होम डिलीवरी की दो गाड़ियों के बीच में आकड़ा लगाया जाय तो लगभग 100 सिलेन्डर की बिक्री होती है जो 890/ रुपये के रेट से बेचे जाते हैं जो की रेट से 35 रुपए अधिक लेते हैं इस प्रकार देखा जाय तो 100×35= 3500/तीन हजार पांच सौ रुपये एक दिन का होता है जो एक वर्ष का गुणन फल किया जाय तो 1260.000/बारह लाख साठ हजार रुपये की अवैध कमाई की जाती है और इस प्रकार से अगर देखा जाय तो होम डिलीवरी और गोदाम बिक्री दोनो का आकड़ा 28 लाख 80 हजार यनि अट्ठाईस लाख अस्सी हजार रुपये की वार्षिक अवैध कमाई कर गरीबों के हक को लूटा जा रहा है इसके अलावा यहां पर उज्ज्वला कनेक्शन मे भी 200/ रुपये वसूला गया है और नियम को दर किनार कर गोदाम से ब्लैक रिफिल भी बेचा जाता है अवैध कमाई के चलते दबंगई पूर्वक मैनेजर ग्रहकों से अभद्रता करने को बिवस है अभी हाल ही मे आये नये मैनेजर पद पर तैनात हुये है वे बात बात पर ग्राहकों से रौब दिखा कर बात करते हैं और अभद्रता पूर्वक बदसलूकी से पेश आकर एजेंसी मे कोई कुछ जानकारी लेने आया तो उसको डांटकर भगा देते हैं

भ्रष्टाचार के मामले मे साफ जाहिर होता है कि इंडियन ऑयल व आपूर्ति अधिकारियों को माहवारी पहुंच रही है जिससे अधिकारी भी इस गैस एजेन्सी की ओर ध्यान नही दे रहे हैं जो गंभीर जांच का विषय है जबकि इसके पूर्व में भी कई बार न्यूज़ पेपर के माध्यम से इस एजेंसी के कृत्यों के बारे में प्रकाशित की जा चुकी है परंतु कोई कार्रवाई नहीं किया गया है कई गांव के लोग एजेंसी संचालक के रवैया से परेसान हैं और अगर इसी तरीके से गैस एजेंसी की रवैया रही तो एक दिन भारी मात्रा में लोग एकत्रित होकर गैस एजेंसी के खिलाफ सड़क पर उतर आएंगे डीएसओ कार्यालय पर ग्राहक सिकायत करने को बाध्य होंगे अब क्या उच्च अधिकारी गैस एजेन्सी को सीज कर संचालक के ऊपर मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्यवाही करेंगे

About The Author

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.