June 13, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

कानपुर24फरवरी24*घायल को सुनहरे घंटे में मदद दे कर बचाया जा सकता है जीवन

कानपुर24फरवरी24*घायल को सुनहरे घंटे में मदद दे कर बचाया जा सकता है जीवन

कानपुर24फरवरी24*घायल को सुनहरे घंटे में मदद दे कर बचाया जा सकता है जीवन

एक्सीडेंट में मौत का कारण समय पर मदद न मिलना

वरुण बैवरेज लि में प्राथमिक चिकित्सा प्रबंधन विषय पर एक प्रशिक्षण व मॉक ड्रिल आयोजित की गई

मॉक ड्रिल में मुख्य प्रशिक्षक आपदा प्रबंधन मास्टर ट्रेनर रेडक्रॉस ने कर्मचारियों को जानकारी देते हुए बताया किसी घटना के तीन कारण लापरवाही अज्ञानता जल्दबाजी है। सड़क दुर्घटना में मौत का कारण समय पर प्राथमिक चिकित्सा न मिल पाना
श्री शुक्ल ने बताया यदि कोई एक्सीडेंट या आपदा में घायल होता है तो हमें उसकी मदद करनी चाहिए अगर खून निकल रहा है पहिले खून बहाना रोके जिसके लिए तिकोनी पट्टी से बैंडिंग करे मरीज बेहोश है जिसके लिए लुक लिसेन एंड फील पद्धति द्वारा मरीज की स्थिति को देखते हैं प्रशिक्षण में सीपीआर द्वारा कृत्रिम श्वास देकर मरीज के जीवन को कैसे बचाये का डेमो दिया गया किसी घटना दुर्घटना के तीन कारण लापरवाही अज्ञानता जल्दबाजी है घायलों के मरने का सबसे बड़ा कारण समय पर उन्हें फस्ट एड नहीं मिल पाती है यदि हम घायल को गोल्डन आवर में मदद दे सबसे पहले रक्तस्राव को रोके रक्तश्राव रोकने हेतु तिकोनी पट्टी का प्रयोग बताया गया सी पी आर द्वारा कृतिम श्वांस के माध्यम से जीवन बचाने के तरीके सिखाया , मास्टर ट्रेनर लखन शुक्ला द्वारा सी पी आर के माध्यम से हृदय गति के मरीजों को कृतिम श्वास इलेक्ट्रिक अटेक बर्न एसिड बर्न में प्राथमिक उपचार का डेमो दिया गया, लखन शुक्ला ने टू हैंडसीट थ्री हैंडसीट तथा फोर हैंडसीट द्वारा रेस्कू कर घायल को ट्रांसपोर्ट करने का लाइव डेमो दिया गया,
इस अवसर पर एच आर मैनेजर शिवेंद्र शुक्ला आरपी सिंह अनिल कुमार सेफ्टी मैनेजर प्लांट के कर्मचारी सुरक्षा कर्मी आदि उपस्थित रहे।

About The Author

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.