April 24, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

कानपुर महानगर30सितम्बर*एलआईसी अभिकर्ताओं ने मनाया विश्राम दिवस व धरना*

कानपुर महानगर30सितम्बर*एलआईसी अभिकर्ताओं ने मनाया विश्राम दिवस व धरना*

रेशमा बेगम की रिपोर्ट यूपीआजतक

कानपुर महानगर30सितम्बर*एलआईसी अभिकर्ताओं ने मनाया विश्राम दिवस व धरना*

कानपुर महानगर में आज भारतीय जीवन बीमा निगम के अभिकर्ताओं द्वारा कंपनी द्वारा लागू की जाने वाली शर्तों पर काम न करने के लिए एकजुट होकर लियाफी यानी कि लाइफ इंश्योरेंस एजेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया के नेतृत्व में अभिकर्ताओं ने आज 30 सितंबर को प्रात: कालीन से ही एकजुट होकर सभी शाखाओं में शांतिपूर्वक विश्राम दिवस व धरना देकर बीमा धारकों के हित में समर्थन देकर उनकी पॉलिसियों में लागू की गई जीएसटी कर को हटाने की मांग व पॉलिसी पर लोन ब्याज की प्रतिशत बढ़ोतरी को कम करने की मांग का समर्थन करते हुए एजेंटों ने अपना धरना कार्यक्रम रखा गया साथ हीअभिकर्ताओं द्वारा अपनी भी मांगे प्रमुख रूप से एजेंट पोर्टेबिलिटी को लागू करने के साथ ही कमीशन, ग्रेजुएट , टर्म इंश्योरेंस, मेडिक्लेम व ग्रुप इंश्योरेंस में बढ़ोतरी की मांग प्रमुखता से की गई आज 30 सितंबर का दिन सेटलाइट में पूर्णता विश्राम दिवस व धरना में अभिकर्ताओं ने एक साथ समर्थन देकर पॉलिसी धारकों को होने वाले नुकसान से बचाने की मांग की गई कि यदि इन मांगों को शीघ्रता से भारतीय जीवन बीमा कंपनी नहीं विचार करती है तो आगे भी बड़ा आंदोलन करने को तैयार रहेंगे आज महीना का अंतिम दिन शुक्रवार होने के कारण बीमा धारक भी अपनी पॉलिसियों को जमा करने के लिए उत्सुक थे परंतु उनके ही हित के लिए संघर्षरत अभिकर्ताओं द्वारा उन्हें समझा कर हड़ताल को पूर्ण विश्राम दिवस व धरना देने का कारण बताने से वह शांतिपूर्वक अपनी सहमति देकर वापस घर के लिए चले गए साथ ही उनके द्वारा ही केंद्र सरकार पर आरोप लगाकर कहा गया कि गरीब व कमजोर वर्ग के लोगों पर ही सरकार का लगातार शोषण जारी है और रोज रोज नए नए कानूनों को लागू कर उन्हें मजबूर किया जा रहा हैl

इस मौके पर प्रमुख रूप से अभीकर्ताओं में प्रदीप गौतम सलाहकार इम्तियाज अहमद कोषाध्यक्ष राम प्रकाश द्विवेदी उपाध्यक्ष अंकित श्रीवास्तव वीरेंद्र राजपूत संजय वर्मा अभिषेक कुमार निर्मलजीत कुमार रमेश चंद्र वर्मा सतीश गुप्ता गंगा प्रसाद पवन सरोज अरुण यादव आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे कानपुर से रिपोर्टर रेशमा बेगम

About The Author