April 24, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

औरैया30अगस्त*बेखौफ होकर घटना को अंजाम देने वाले मुस्लिम युवकों को फांसी देने की मांग की*

औरैया30अगस्त*बेखौफ होकर घटना को अंजाम देने वाले मुस्लिम युवकों को फांसी देने की मांग की*

औरैया30अगस्त*बेखौफ होकर घटना को अंजाम देने वाले मुस्लिम युवकों को फांसी देने की मांग की*

*० बेखौफ दरिंदों द्वारा छात्रा अंकिता को निर्ममता से जिंदा जलाने पर दुःख व्यक्त किया ० बेखौफ होकर घटना को अंजाम देने वाले मुस्लिम युवकों को फांसी देने की मांग की* 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️ एक विचित्र पहल सेवा समिति रजि. औरैया की महिला शाखा “सखी ग्रुप” द्वारा आज दिनांक 30 अगस्त 2022 दिन मंगलवार को शाम 4 बजे नेविलगंज स्थित महिला शाखा कार्यालय, औरैया में आवश्यक बैठक का आयोजन किया गया, बैठक में प्रमुख रूप से झारखंड के दुमका में मुस्लिम युवकों द्वारा आए दिन रास्ते में छेड़छाड़ व जान से मारने की धमकी देने के उपरांत विगत 23 अगस्त को अपने घर के कमरे में सो रही 12 वीं क्लास की नाबालिग छात्रा अंकिता को पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जलाकर मार डालने पर देश को शर्मसार करने घटना पर दुख व्यक्त किया गया, प्राप्त जानकारी के अनुसार शाखा की अध्यक्ष लक्ष्मी विश्नोई ने बताया कि प्राथमिक चिकित्सा के लिए अंकिता को फूलो झानो मेडिकल कॉलेज में गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था, बाद में बेहतर इलाज के लिए रांची के राजेंद्र इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंस में रेफर कर दिया गया था, 90% अंकिता का शरीर जल चुका था, रविवार 28 अगस्त को सुबह अंकिता ने अंतिम सांस ली, गौरतलब है कि तमाम हिंदू संगठनों व स्वयंसेवी संस्थाओं के विरोध प्रदर्शन के बाद गम और गुस्से के बीच दिनांक 29 अगस्त सोमवार को परिजनों द्वारा अंकिता का अंतिम संस्कार कर दिया गया। शाखा की सदस्य एकता गुप्ता ने कहा कि सरकार द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए तमाम जतन किए जा रहे, जो नाकाफी है, पुराने कानूनों में संशोधन कर महिला उत्पीड़न पर कड़े कानून बनाकर उन पर सख्ती से अनुपालन करने की जरूरत है। सुनीता चौबे ने कहा कि झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने छात्रा के परिजनों को दस लाख रुपए की मदद की, इस मदद से परिवार परिवार की अश्रुपूर्ण पीड़ा व अंकिता की कमी की भरपाई नहीं की जा सकती। बैठक में सदस्यों ने दिवंगत अंकिता को श्रद्धांजलि देकर घटना का अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी शाहरुख व उसके सहयोगी छोटू उर्फ नईम को फांसी देने की मांग की है, जिससे महिलाओं के साथ दरिंदगी व उत्पीड़न करने वालों को सबक मिल सकेगा। बैठक में प्रमुख रूप से शाखा की प्रभारी बबिता गुप्ता, ममता बिश्नोई, मधु शर्मा, शांति गुप्ता, प्रीती पोरवाल, गीता तिवारी, रजनी विश्नोई, लक्ष्मी वर्मा, रेनू पोरवाल, विमलेश द्विवेदी, दामिनी गुप्ता, कुमकुम वर्मा, अनीता पोरवाल, पूजा गुप्ता, शकुंतला मिश्रा, दीपका गुप्ता, कृष्णा पोरवाल, सीता पोरवाल, वर्षा अग्रवाल, गुड्डन गुप्ता आदि सदस्य मौजूद रहीं।

About The Author