July 17, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

अमेठी16अप्रैल24*भाजपा से नाराज एक पूर्व केंद्रीय मंत्री कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल*

अमेठी16अप्रैल24*भाजपा से नाराज एक पूर्व केंद्रीय मंत्री कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल*

*अमेठी जिले की सियासत से जुड़ी बड़ी खबर*

अमेठी16अप्रैल24*भाजपा से नाराज एक पूर्व केंद्रीय मंत्री कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल*

 

*सुलतानपुर*
अमेठी जनपद की सियासत की बड़ी खबर सामने आने वाली है। भारतीय जनता पार्टी से नाराज चल रहे एक पूर्व केंद्रीय मंत्री जल्द ही कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। कांग्रेस पार्टी ने अपने गढ़ को मजबूत बनाने के लिए यह सियासी जाल बिछाया है। अमेठी से कांग्रेस से लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए राहुल गांधी के अलावा इस नेता के साथ गांधी परिवार के करीबी केएल शर्मा का भी नाम चर्चा में उभर कर आया है।
कांग्रेस पार्टी के उच्च पदस्थ सूत्र बताते हैं कि पूर्व केंद्रीय मंत्री की अमेठी में मजबूत पकड़ होने के कारण उनके कांग्रेस शामिल होने की हरी झंडी मिल चुकी है। इस नेता की इंडिया गठबंधन की संयोजक सोनिया गांधी से मुलाकात भी हो चुकी है। अगर ऐसा हुआ तो अमेठी में भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी केंद्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी के सामने बड़ी मुसीबत खड़ी हो सकती है।
*सोनिया गांधी के प्रतिनिधि केएल शर्मा भी अमेठी से लड़ सकते हैं चुनाव*:
अमेठी लोकसभा क्षेत्र कांग्रेस का गढ़ माना जाता है।कांग्रेस पार्टी इसे दूसरे के पाले में नही जाने देना चाहती है। इस लोकसभा क्षेत्र से राहुल गांधी के चुनाव लड़ने की खबरें आ रही हैं।लेकिन राहुल गांधी के वायनाड केरल से चुनाव लड़ने के कारण कयास लगाये जा रहे हैं कि राहुल गांधी के अलावा कुछ और चेहरे ऐसे हैं जो चुनाव मैदान में कूद सकते हैं।इसमें इंडिया गठबंधन की संयोजक सोनिया गांधी के प्रतिनिधि केएल शर्मा का नाम सबसे ऊपर है। किशोरीलाल शर्मा गांधी परिवार के करीबी माने जाते हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व कैप्टन सतीश शर्मा के बाद केएल शर्मा ही गांधी परिवार के सबसे खास और वफादार हैं। सियासत में अमेठी व रायबरेली जिले में उनका खासा दखल है।
इसके अलावा कांग्रेस में शामिल होने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री का भी नाम लिया जा रहा है। हालांकि उनको चुनाव लड़ाने की शर्त पर शामिल नहीं किया जा रहा है। इस समय वह भाजपा की अमेठी से लोकसभा प्रत्याशी से काफी नाराज चल रहे हैं। इस लिए उन्हें कांग्रेस पार्टी की जरूरत है और कांग्रेस को उनकी जरूरत है।
इसके साथ ही प्रियंका गांधी का रायबरेली से चुनाव लड़ना भी तय बताया जा रहा है। पूरी तैयारी हो चुकी है। सिर्फ नाम की घोषणा होनी बाकी है।

About The Author

Taza Khabar

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.