July 25, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

अनूपपुर30जून24*ऑंधी आये या तूफान, बीएनएस, बीएनएसएस और बीएसए से होगा न्‍यायिक समाधान*

अनूपपुर30जून24*ऑंधी आये या तूफान, बीएनएस, बीएनएसएस और बीएसए से होगा न्‍यायिक समाधान*

अनूपपुर30जून24*ऑंधी आये या तूफान, बीएनएस, बीएनएसएस और बीएसए से होगा न्‍यायिक समाधान*

अनूपपुर (ब्यूरो राजेश शिवहरे)30 जून, 2024 को शहडोल जिले में 1 जुलाई, 2024 से सम्‍पूर्ण भारत में लागू होने वाले तीनों कानून : भारतीय न्‍याय संहिता (बीएनएस), 2023, भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता (बीएनएसएस), 2023 एवं भारतीय साक्ष्‍य अधिनियम (बीएसए), 2023 के प्रति जनता में जागृति के लिए फ्लैग मार्च निकाला गया। इस फ्लैग मार्च में कमिश्‍नर शहडोल बी.एस. जामोद, एडीजीपी शहडोल ज़ोन डी.सी. सागर, डीआईजी शहडोल रेंज सविता सोहाने, कलेक्‍टर शहडोल तरुण भटनागर, एएसपी शहडोल अभिषेक दीवान, डीएसपी मुख्‍यालय शहडोल राघवेन्‍द्र द्विवेदी, डीएसपी यातायात मुकेश दीक्षित, डीएसपी महिला सुरक्षा विकास पाण्‍डेय, रक्षित निरीक्षक शहडोल, थाना प्रभारी कोतवाली शहडोल, थाना प्रभारी सोहागपुर शहडोल, महिला बल एवं अन्‍य बल ने बारिश की परवाह न करते हुए छतरी लेकर जनता को नए कानूनों के विषय में जागरूक किया।

एडीजीपी डी.सी. सागर ने बताया कि नए कानून बीएनएसएस की धारा 173 के तहत् एफआईआर मौखिक, लिखित एवं इलेक्‍ट्रॉनिक माध्‍यम से ऑनलाईन दर्ज कराई जा सकती है। इसी प्रकार, कमिश्‍नर शहडोल ने बताया कि बीएनएसएस की धारा 193(3)(ii) के अंतर्गत फरियादी को उनके द्वारा दर्ज प्रकरण के प्रगति की सूचना स्‍वयं पुलिस 90 दिनों में देगी। डीआईजी शहडोल रेंज ने बताया कि बीएनएसएस की धारा 180 के तहत् पुलिस द्वारा गवाह के बयान की वीडियो रिकॉर्डिंग करने का प्रावधान है। कलेक्‍टर शहडोल ने बताया कि थानों में फरियादी एफआईआर इलेक्‍ट्रॉनिक माध्‍यम से भी दर्ज करा सकता है परंतु 3 दिन में फरियादी को संबंधित थाने में उपस्थित होकर एफआईआर पर हस्‍ताक्षर करना अनिवार्य है। अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक शहडोल ने बताया कि फरियादी किसी भी
थाने पर जीरो की एफआईआर दर्ज करा सकता है परंतु उसे 3 दिवस में संबंधित थाने में उपस्थित होकर एफआईआर पर हस्‍ताक्षर करना अनिवार्य है।

एडीजीपी डीसी सागर ने बताया कि 1 जुलाई, 2024 को 11:30 बजे से एक साथ शहडोल ज़ोन अंतर्गत जिला शहडोल, उमरिया एवं अनूपपुर के समस्‍त थाना एवं चौकियों के देहात एवं शहरों में नए कानूनों के प्रति जन जागृति कार्यक्रम किए जायेंगे। इस कार्यक्रम में जनता, जनप्रतिनिधि एवं स्‍कूल-कॉलेज के छात्र-छात्राओं के साथ अनेक प्रकार के कार्यक्रम जैसे- आम सभा, रैली, रोडशो, प्रश्‍नोत्‍तरी आदि आयोजित होंगे और राष्‍ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन किया जायेगा।

About The Author

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.