February 27, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

मथुरा19नवम्बत*इंदिरा गांधी का जन्म दिवस जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय सेठ बाड़ा मथुरा पर मनाया गया

मथुरा19नवम्बत*इंदिरा गांधी का जन्म दिवस जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय सेठ बाड़ा मथुरा पर मनाया गया

मथुरा19नवम्बत*इंदिरा गांधी का जन्म दिवस जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय सेठ बाड़ा मथुरा पर मनाया गया

मथुरा से विकास गोस्वामी की रिपोर्ट न्यूज़ यूपीआजतक

मथुरा 19 नवम्बर, जिला कांग्रेस कमेटी मथुरा के अध्यक्ष चौधरी भगवान सिंह वर्मा की अध्यक्षता में आज भारत की पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न आयरन लेडी के नाम से विख्यात स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी का जन्म दिवस जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय सेठ बाड़ा मथुरा पर मनाया गया।
सर्वप्रथम पूर्व प्रधानमंत्री के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए चौधरी भगवान सिंह वर्मा ने कहा कि इंदिरा प्रियदर्शनी के नाम से विख्यात श्रीमती इंदिरा गांधी का जन्म आज ही के दिन19नवम्बर सन् 1917 में इलाहाबाद के एक संपन्न परिवार पं.जवाहर लाल नेहरू के यहां हुआ,भारत की आजादी के बाद वे देश तीसरी व प्रथम महिला प्रधानमंत्री बनी इंदिरा गांधी न केवल भारतीय राजनीति पर छाई रही, बल्कि विश्व राजनीति के क्षितिज पर भी वे एक प्रभाव छोड़ गई, श्रीमती इंदिरा गांधी भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु की इकलौती पुत्री थी, आज इंदिरा गांधी को सिर्फ इस कारण नहीं जाना जाता कि वह पंडित नेहरू की बेटी थी बल्कि इंदिरा गांधी अपनी प्रतिभा और राजनैतिक दृढ़ता के लिए विश्व राजनीतिक इतिहास में जानी जाती है इंदिरा गांधी को लौह महिला के नाम से संबोधित किया जाता है पंडित नेहरू के बाद भारत के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की कैबिनेट में इंदिरा गांधी को सूचना प्रसारण मंत्रालय सौंपा गया, अपने इस नए दायित्व का निर्वहन भी उन्होंने बड़ी कुशलता से किया यह जमाना आकाशवाणी का था, और दूरदर्शन उस समय आया भी नहीं था उन्होंने आकाशवाणी के कार्यक्रमों में फेरफार कर गुणात्मक और मनोरंजन अभिवृद्धि की 1965 में भारत पाकिस्तान का युद्ध हुआ तो आकाशवाणी नेटवर्क इतना मुखर था उसकी आवाज के कारण पूरा भारत एकजुट हो गया राष्ट्र के लिए तन मन धन अर्पण करने वाली इंदिरा गांधी ने युद्ध के समय सीमाओं पर जवानों के बीच रहते हुए उनके मनोबल को बढ़ाया, उन्होंने अपने प्रधानमंत्री काल में पाकिस्तान के साथ युद्ध लड़ते हुए दो टुकड़े कर दिए और एक अलग राष्ट्र का निर्माण करवाया बांग्लादेश के रूप में।
आज हम उनके जन्मदिवस पर यह संकल्प लेते हैं कि लोकतंत्र को कमजोर करने वाली शक्तियों को तथा सांप्रदायिक ताकतों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हम अपने नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में आने वाले चुनावों में जीत का परचम अवश्य फहराएंगे।
प्रदेश सचिव मुकेश धनगर ने इंदिरा जी के चित्र पर माल्यार्पण कर कहा इंदिरा जी भारत की ही नहीं वरन विश्व के निर्गुट आंदोलन की अध्यक्षा भी रहे और उन्होंने विश्व में अपना लोहा मनवाया।
“जिला कांग्रेस के प्रवक्ता विनोद चतुर्वेदी ने कहा कि भारत रत्न श्रीमती इंदिरा गांधी का जन्म ऐसे समय पर हुआ जब देश अंग्रेजों से आजाद होने की लड़ाई लड़ रहा था और उनका पूरा परिवार अव्यवस्थित था ,तभी 19 नवम्बर 1917 को इलाहाबाद के आनंद भवन में इंदिरा का जन्म हुआ ,इंदिरा गांधी ने अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से इस देश को आगे बढ़ाया और पांच नारे दिए प्रेम, अनुशासन, दूर दृष्टि, पक्का इरादा और बंधुत्व उन्होंने राष्ट्र निर्माण के लिए अपने प्राणोत्सर्ग कर दिए ऐसी महान शख्सियत को नमन।
जिला उपाध्यक्ष भोला यादव ने कहा कि इंदिरा गांधी दृढ़ इच्छाशक्ति की मालिक थी और राजनीतिक परिपक्वता उनमें कूट-कूट कर भरी हुई थी उन्होंने अपने निर्णय से विश्व को आश्चर्यचकित किया।
कार्यक्रम को संबोधित करने वालों में जिला कांग्रेस सेवा दल के अध्यक्ष सुनील उपाध्याय गांधी, इंटक के प्रदेश उपाध्यक्ष रोशन लाल, जिला महामंत्री बृजेश शर्मा एडवोकेट आदि रहे।
कार्यक्रम में दिनेश जैन, राजू अब्बासी, ठाकुर प्रिय पाल सिंह, अभय चतुर्वेदी, प्रदीप सागर, रवि कुमार एडवोकेट, ठाकुर मुकेश सिसोदिया, प्रदीप यादव, सोनू वर्मा,मनोज चतुर्वेदी, चंद्र मोहन जायसवाल, गोपाल ठाकुर, मोहन यादव, सोनू सैनी, गजानन्द,रसिक वर्मा, अश्विन शर्मा, शाहरुख खान आदि उपस्थित रहे।

About The Author

Taza Khabar