July 17, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

बाराबंकी 30 मार्च 24*संगीतमय प्रज्ञा पुराण कथा का हुआ समापन, कथा व्यास बोले संस्कारों की कमी से बढ़ रही कुरीतियां

बाराबंकी 30 मार्च 24*संगीतमय प्रज्ञा पुराण कथा का हुआ समापन, कथा व्यास बोले संस्कारों की कमी से बढ़ रही कुरीतियां

बाराबंकी 30 मार्च 24*संगीतमय प्रज्ञा पुराण कथा का हुआ समापन, कथा व्यास बोले संस्कारों की कमी से बढ़ रही कुरीतियां

बाराबंकी। तहसील रामनगर अंतर्गत अमोली कला में चल रही संगीत मयी श्री पावन प्रज्ञा पुराण कथा के अंतिम दिवस पर कथा व्यास मानसिंह वर्मा ने उपस्थित श्रोताओं से कहा कि आज वर्तमान समय परिवारों में काफी कलह व्याप्त है। हालात यह है कि भाई-भाई को मृत्यु के घाट उतार रहा है। पति-पत्नी के विवाद बढ़ते जा रहे है। लड़के एवं लड़कियां गलत आदतों का शिकार हो रही है। इसके पीछे कारण है कि हम संस्कारों को महत्व नहीं देते है। यदि आज हम संस्कारों को जीवन में लागू करें, तो परिवार भी मेरा सुंदर हो जाएगा। संस्कार मानव जीवन को सुंदर बनाते है। इसके अलावा यज्ञ एवं संस्कार संपन्न किए गए। जिसमें काफी संख्या में लोगों ने भाग लिया। कथा प्रारंभ से पहले देव पूजन अर्जुन सिंह व उनकी धर्मपत्नी प्रमिला सिंह ने किया। पावन प्रज्ञा पुराण का पूजन एवं टोली नायक कथा व्यास बनारस जोन प्रभारी श्री राम गायत्री आश्रम के मुख्य ट्रस्टी मानसिंह वर्मा का स्वागत अभिनंदन गायत्री परिवार के वरिष्ठ कार्यकर्ता , राजेश पाठक, सुधीर, दिनेश बाजपेई,संजय चतुर्वेदी अधिवक्ता रमाकांत शुक्ला, अवधेश सिंह, राम सजीवन, दुर्गा शंकर मिश्रा, रमेश शुक्ला, अनमोल मिश्रा, त्रिवेणी सिंह, अजय पाल सिंह, सुधाकर सुभाष, सहित अन्य गायत्री परिवार के कार्यकर्ताओं ने किया तत्पश्चा पधारी टोली मे मुख्य गायक रामनरेश गुप्ता तबला वादक रविशंकर गिरी, अनुज कुमार गिरी व रामकुमार सोनी का स्वागत अभिनंदन किया गया। शाम को आयोजित दीप यज्ञ में काफी संख्या में महिलाओं ने दीप जलाकर परिवार के कल्याण की कामना किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ संजय कुमार तिवारी किया। इसके अलावा कार्यक्रम संयोजक सुरेश चंद्र शास्त्री द्वारा गुरुदेव के साहित्य से संबंधित बुक स्टॉल की देख रेख कर रहे ओम प्रकाश का स्वागत अभिनंदन भी किया गया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विवेक सिंह, अभय सिंह, उदय मिश्र, अमन, आदित्य तिवारी, अभिषेक सिंह, रौनक सिंह सुधाकर मिश्रा, हंस कुमार, हीरा शुक्ला, दुर्गा शंकर शुक्ला, राज आयुष सिंह, प्रज्ञा त्रिपाठी, गरिमा मिश्रा, कल्याणी सुभी रोशनी तनु अनन्या माही मुस्कान दामिनी निक्की गोलू बिट्टू सिंह सहित माताओ बहनों समाजसेवियों का विशेष योगदान रहा। महिला मंडल अध्यक्ष गणेशपुर बीना शुक्ला (दीदी जी ), उर्मिला बाजपेई आशा सिंह किरण सिंह लक्ष्मी शुक्ला सरला नाग ने गुरुदेव के विचारों को घर-घर पहुंचाने का संकल्प किया ।

About The Author

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.