February 27, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

दिल्ली13फरवरी24*किसानों के कूच के चलते दिल्ली की सीमाएं सील, गाजीपुर-शंभु-गुरुग्राम बॉर्डर पर भीषण जाम*

दिल्ली13फरवरी24*किसानों के कूच के चलते दिल्ली की सीमाएं सील, गाजीपुर-शंभु-गुरुग्राम बॉर्डर पर भीषण जाम*

दिल्ली13फरवरी24*किसानों के कूच के चलते दिल्ली की सीमाएं सील, गाजीपुर-शंभु-गुरुग्राम बॉर्डर पर भीषण जाम*

आज किसानों के दिल्ली चलो मार्च की वजह से सभी बॉर्डर सील कर दिए गए हैं. देर रात तक केंद्रीय मंत्रियों और किसान नेताओं के बीच बैठक चली. सरकार ने आंदोलन पर अड़े अन्नदाताओं को समझाने की हर संभव कोशिश की लेकिन 5 घंटे से ज्यादा चली बैठक भी बेनतीजा रही. उसके बाद किसान नेताओं ने आर-पार की जंग का ऐलान करते हुए कह दिया कि, दिल्ली कूच होकर रहेगा. गाजीपुर, सिंघु, संभू, टिकरी समेत सभी बॉर्डर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. वहीं, पुलिस ने भी साफ कर दिया है कि, किसानों की आड़ में उपद्रवियों ने अगर कानून व्यवस्था में खलल डालने की कोशिश की तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी.

अगर आप दिल्ली एनसीआर में रहते हैं तो आज आपके लिए इम्तिहान का दिन है. पंजाब. हरियाणा और यूपी से किसान दिल्ली आने लगे हैं. इसकी वजह से दिल्ली से सटी तमाम सीमाओं पर ट्रैफिक जाम लग गया है. दरअसल न्यूनतम समर्थन मूल्य अन्य मांगों को लेकर किसानों का आंदोलन की ये नई किश्त है. किसानों को मनाने के लिए सोमवार को करीब पांच घ्ंटे लंबी वार्ता चली. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और अर्जुन मुंडा इस बैठक में शामिल थे. लेकिन किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानूनी गारंटी चाहते थे. इसी पर बात बिगड़ गई.

उसके बाद किसान नेताओं ने आर-पार की जंग का ऐलान करते हुए कह दिया कि, दिल्ली कूच होकर रहेगा… गाजीपुर, सिंघु, संभू, टिकरी समेत सभी बॉर्डर को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. वहीं, पुलिस ने भी साफ कर दिया है कि, किसानों की आड़ में उपद्रवियों ने अगर कानून व्यवस्था में खलल डालने की कोशिश की तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी.

किसानों के दिल्ली मार्च के मद्देनजर दिल्ली नोएडा बॉर्डर कालिंदी कुंज पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. नोएडा से दिल्ली आने वाली सड़क पर जाम लगा हुआ है. इस वजह से नोएडा एक्सटेंशन में भीषण जाम लगा हुआ है. नोएडा एक्सटेंशन में गाड़ियां रेंग-रेंग कर चल रही हैं. गौरसिटी मॉल के पास भीषण जाम लगा हुआ है.

शंभू बॉर्डर पर सुरक्षाबल से निपटने का तरह तरह का इंतजाम करते दिखे किसान, वॉटर कैनन से बचाव के लिए ट्रैक्टर पर पॉलीथिन बांधी.शंभू बॉर्डर पर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है और हाईवे पर सुरक्षा दीवार खड़ी की गई है.दिल्ली के चिल्ला बॉर्डर, गाजीपुर बार्डर और गाजीपुर बॉर्डर पर किसान आंदोलन का असर दिख रहा है और इस वजह से भारी जाम लग गया है.-SC बार एसोसिएशन ने सुप्रीम कोर्ट को जाम की समस्या के मद्देनजर चिट्ठी लिखी है जिस पर CJI ने कहा- किसी को भी जाम की समस्या हो तो मुझे बताए.

दिल्ली किसान आंदोलन के मद्देनजर भारी भरकम अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है. 5000 से ज्यादा अर्धसैनिक बलों के जवान दिल्ली के अलग-अलग लोकेशन पर मौजूद हैं. दिल्ली के सभी बॉर्डर पर 50 अर्धसैनिक बलों की कम्पनियां तैनात की गई हैं. 10 को अभी तैनात किया गया है, 37 पहले से ही मौजूद हैं.ज़रूरत पड़ने पर स्टैंडबाय में मौजूद 5 अर्द्ध सैनिक बलों की कम्पनियों को तैनात किया जाएगा. फिलहाल यह सभी कंपनियां दिल्ली पुलिस के साथ कानून-व्यवस्था को बनाए रखने में मदद कर रही हैं.

केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन का गेट 2 शाम तक बंद रहेगा. किसानों के ‘दिल्ली चलो’ विरोध के आह्वान के मद्देनजर दिल्ली में कई स्थानों पर सुरक्षा तैनात की गई है. पूरी दिल्ली में धारा 144 लागू कर दी गई है.

About The Author

Taza Khabar