May 24, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

झांसी मऊरानीपुर 29 अप्रैल24* खिलारा में चल रही श्रीरामअर्चा एवं भक्तमाल कथा।

झांसी मऊरानीपुर 29 अप्रैल24* खिलारा में चल रही श्रीरामअर्चा एवं भक्तमाल कथा।

झांसी मऊरानीपुर 29 अप्रैल24* खिलारा में चल रही श्रीरामअर्चा एवं भक्तमाल कथा।

परमात्मा एकदेशीय नही सर्वत्र समान रूप से व्यापक है परमात्मा से ही प्रत्येक वस्तु का अस्तित्व है। यह विचार ग्राम खिलारा में चल रही श्रीराम अर्चा तथा भक्तमाल कथा के वक्ता के रूप में चित्रकूट धाम ब्रह्मकुंड आश्रम से पांच दिनी प्रवास पर आए त्रिलोकीनाथदास महाराज ने कही। उन्होंने कहा कि गुरु, माता, पिता, भाई, बहिन, सास, ससुर, मित्र एवं ग्राहक की भावपूर्ण सेवा करने से भगवान की ही सेवा मानी जाती है। परन्तु आजकल का मनुष्य कल्पित लोक रीतियों से प्रभु को पाना चाहता है जबकि शास्त्रों के सिद्धांत पर चलकर ही भगवान सुलभ होते है जिससे भक्त, भक्ति, भगवान तथा गुरुदेव को पृथक, पृथक नाम से भजते है। जिस तरह से पुत्र होने पर ही कोई पिता के रूप में मान्य होता है उसी प्रकार भक्त के होने से ही भगवान का गुणानुवाद के साथ मान्यता होती है। कथा व्यास ने कहा कि भक्तों के पावन यश का अग्रदास शिष्य को माला के रूप में पिरोया जाता है उसी को भक्तमाल की कथा कहते है। इससे साथ ही राम-जानकी मंदिर के पुजारी विसबंभरदास महाराज अयोध्या धाम, त्रिलोकीनाथदास, उमाकांत पाण्डेय, सुंनदरम चित्रकूट धाम, प्रिन्स द्विवेदी ने ग्राम पंचायत खिलारा में स्थित अंबे माता मंदिर प्रांगण में पिछले वर्ष की अक्षय तृतीया से शुरू हुई संगीतमय श्री सीताराम नाम की अंखड राम धुन में जिम्मेदारी के साथ प्रतिभाग करने वाले गांव के राम के भक्तगणों को पुष्पमाला के साथ ही अंगवस्त्र उढ़ाकर उन सभी ग्रामीणों को फूलादेवी विश्वकर्मा के आवास पर सम्मानित किया गया। चल रही भक्तमाल की कथा में ग्राम के साथ साथ बाहर से आने वाले भक्तों की भीड़ दिनों दिन बढ़ती जा रही है। कथा यजमान रविकांत माहीं विश्वकर्मा ने भक्तमाल पुराण की आरती उतारकर प्रसाद वितरण किया।
इस दौरान अंबिका प्रसाद मिश्रा, भारतभूषण तिवारी, द्वारिका प्रसाद द्विवेदी, संतोष कुमार, रानी विपिन बिहारी, बबीता धमेंद्र कुमार, रामकुमार विश्वकर्मा, सुरेन्द्र द्विवेद्वी, अनिल द्विवेदी, योगेन्द्र द्विवेदी, रजनी भगवत, मृदुलकृष्ण, प्रीती कैलाश, गायत्री अनिल कुमार, जितेन्द्र कुमार, दीनदयाल, लखनलाल, परमानंद, उमेश, राजकुमार, गब्बन तिवारी, गोपाल महाराज, बब्लू मिश्रा, आशू तिवारी, बब्लू तिवारी, दिव्यम द्विवेदी, पुत्तू द्विवेदी, गोविंद द्विवेदी, भगवानदास, मुममू, धर्मदास, इंद्रपाल कुशवाहा, दयाराम रबी विश्वकर्मा आदि श्रोतागण मौजूद रहे।

संवाददाता सुरेन्द्र द्विवेदी खिलारा यूपी आजतक।

About The Author

Taza Khabar

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.