July 18, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

औरैया30जून24*आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं होने पर पीड़ित महिला ने एसपी से लगाई गुहार* .

औरैया30जून24*आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं होने पर पीड़ित महिला ने एसपी से लगाई गुहार* .

औरैया30जून24*आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं होने पर पीड़ित महिला ने एसपी से लगाई गुहार* .

*विपक्षीगण महिला एवं उसके परिजनों को लगातार दे रहे हैं धमकी*। .

*औरैया।* एक महिला ने विगत दिवस पुलिस अधीक्षक को शिकायती प्रार्थना पत्र देते हुए कहा है कि प्रार्थिनी पूंजा तिवारी पत्नी आदर्श तिवारी निवासी ग्राम पन्हर थाना व जिला औरैया की रहने वाली है। प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवार से गाँव के गोविन्द्र अवस्थी पुत्र मूंगालाल, कृष्णा अवस्थी पुत्र बाल गोविन्द, धीरू अवस्थी पुत्र पप्पू अवस्थी, रवूदे अवस्थी पुत्र जगदीश व मिहोली निवासी उमेश कोरी पुत्र विनोद, ग्राम खरका निवासी योगेश अवस्थी पुत्र श्याम मनोहर रंजिश मानते है प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवार के पर गंदी नजर रखते है। विपक्षी धीरू अवस्थी व उमेश कोरी 08 जून 2024 को 6 अज्ञात लोगों के साथ मिलकर प्रार्थिनी के पति को जान से मारने का प्रयास किया व जंजीर व मोबाइल भी छीन लिया व गोली मार रहे थे, जिसकी प्राथमिकी रिपोर्ट थाना अयाना में दर्ज है, जिसके बाद में विपक्षीगण अज्ञात अपराधियों के साथ मिलकर प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवार पर मुकदमा वापसी का दबाव बना रहे है। .प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवार के लोग कई बार कार्यवाही के लिए थाना अयाना, क्षेत्राधिकारी अजीतमल, पुलिस अधीक्षक औरैया व पुलिस के कई अधिकारियों के पास गये, लेकिन विपक्षीगणों की सांठगांठ की वजह से पुलिस कोई कार्यवाही नहीं कर रही है, जिससे विपक्षीगणों के हौसले बुलंद है। योगश अवस्थी एलानिया धमकी देते हुए कहते है कि मैंने कई हत्यााएं की कई महिलाओं की इज्जत लूटी, अगर आदर्श की बीबी पूजा ने अगर प्रार्थना पत्र देना बंद नहीं किये तो जान से भी जायेगी और इज्जत भी जायेगी, पुलिस तो पैसे की रखेल है। विपक्षी उमेश कोरी एलानिया धमकी देता है कि ” में औरैया क्षेत्र का सबसे बडा जुआरी हूँ। पुलिस को जेब में रखता हूँ, पुलिस को महीने में वसूली देता हूँ। आदर्श तिवारी पूजा तिवारी ने मुकदमें में समझौता नहीं किया तो फर्जी झूठे हरजन एक्ट, बलात्कार, छेडखानी में फसाकर भविष्य बर्बाद कर देंगे। पुलिस व वकील जज पैसे से खरीद कर रण्डी की तरह काम कराउंगा”। कृष्णा व धीरू अवस्थी एलानिया धमकी देते हुए कहते है कि “आदर्श तिवारी व पूजा तिवारी व उनके परिवार के लोगों ने समझौता करके मुकदमा खत्म नहीं कराया तो पूरे परिवार का जीवन व भविष्य बर्बाद कर देगे, झूठे व फर्जी मुकदमों में फसा देगे, जिंदा रहना मुश्किल कर देंगें, बांकी योगेश अवस्थी व उमेश कोरी तो छोडेगे ही नहीं”। विपक्षी बाल गोविंद अवस्थी एलानिया क्षेत्र में धमकी देते हुए घूम रहे है। .वह कहता है कि जिसने भी आदर्श तिवारी, पूजा तिवारी व उनके परिवार की मदद की तो उसे मेरी गोली से होकर गुजरना पडेगा। रवूदे अवस्थी एलानिया धमकी देते हुए कहता है कि पूजा तिवारी आदर्श तिवारी व उनके परिवार ने समझौता से मुकदमा खत्म नहीं कराया तो फर्जी मुकदमें में फसाकर जीवन जीना मुश्किल कर देंगे, बांकी तो उमेश की पुलिस से बात हो गयी है कि आदर्श व उसके घर वालों को फर्जी बलात्कार छेडखानी हरजन एक्ट में फसाया जाये। 23 जून 2024 को समय रात्रि 10:10 मिनट को धीरू अवस्थी उमेश कोरी अज्ञात लोगों के साथ प्रार्थिनी के ग्राम पन्हर थाना व जिला औरैया घर पर आकर गंदी-गंदी गालियां अश्लील व आपत्तिजनक बातें करते हुए घर की महिलाओं को बाहर निकालने के लिए जबरन दरबाजा तोडने लगे। घर पर प्रांर्थिनी, प्रार्थिनी की सास संजू देवी, चचिया सास दुर्गा देवी व रिश्तेदार गुड्डन अवस्थी व प्रार्थिनी की नन्द दामिनी तिवारी थे, प्रार्थिनी बचाव के लिए अपने घर पर मौजूद रिश्तेदार गुड्डन के फोन 9520571912 से 1076 और 181, 112 पर फोन लगाया, जिसमें 1076 व 112 लगा नहीं लेकिन 181 पर बात हुई। .प्रार्थिनी की नन्द दामिनी ने फोन से प्रार्थिनी के पति को सूचना की जिससे प्रार्थिनी के जीजा मिथुन मिश्रा को भी सूचना हो गयी, मौके पर पुलिस के आ जाने से प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवार की महिलाओं की इज्जत व जान बच सकी। विपक्षीगण आइंदा इज्जत बेइज्जत करने व जिंदा नहीं रहने देने व देख लेने की धमकी देते हुए चले गये। गांव क्षेत्र के लोग विपक्षी अपराधियों के भय व आतंक में गवाही देने बीच बचाव करने में भी डरते है। विपक्षी अपराधियों के भय व आतंक में जीवन व भविष्य बचाने के लिए प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवारीजन अपने घर ग्राम पन्हर नहीं जा पा रहे है, दर-दर की ठौकरे खाने को मजबूर है। प्रार्थिनी को पूर्ण विश्वास है कि विपक्षी योगेश अवस्थी, उमेश कोरी, धीरू अवस्थी, कृष्णा अवस्थी व बोल गोविन्द अवस्थी रवूदे अवस्थी व अज्ञात लोगों, अपराधियों व पुलिस के साथ मिलकर प्रार्थिनी व प्रार्थिनी के परिवार के साथ कोई भी घटना कारित कर सकते है। ऐसी स्थिति में प्रार्थिनी के जिंदा नहीं रहने पर प्रार्थिनी के प्रार्थना पत्र के आधार पर अन्याय व अत्याचार करने वाले दोषियों पर कार्यवाही हो दण्डित हो। पीड़ित महिला ने आलू को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाते हुए कहा है कि अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं होने पर वह कभी भी अप्रिय घटना को अंजाम दे सकते हैं।

About The Author

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.