January 23, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

औरैया25नवम्बर*पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए हत्यारोपितों को किया गिरफ्तार*

औरैया25नवम्बर*पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए हत्यारोपितों को किया गिरफ्तार*

*पुलिस अधीक्षक ने प्रेसवार्ता के दौरान घटना का किया खुलासा*

*औरैया।* करीब 5 दिन पूर्व 21 नवंबर 2021 को कोतवाली औरैया के अन्तर्गत दिबियापुर रोड बाईपास पर एक अज्ञात व्यक्ति का मृत शव की सूचना कोतवाली औरैया पुलिस को प्राप्त हुई थी। जिस सूचना पर तत्काल उच्चाधिकारियों द्वारा मौके पर जाकर स्थल का निरीक्षण किया गया। प्रथम दृष्टया मृतक को जलाकर मारने सा प्रतीत हो रहा था। पुलिस अधीक्षक औरैया अभिषेक वर्मा द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल के निकट पर्यवेक्षण में क्षेत्राधिकारी सदर सुरेन्द्र नाथ यादव व प्रभारी निरीक्षक कोतवाली औरैया को सन्तोष कुमार अवस्थी को शीघ्र ही मृतक के शव की पहचान कराकर घटना के अनावरण के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। पुलिस अधीक्षक ने गुरुवार को कोतवाली में प्रेसवार्ता के दौरान उपरोक्त घटना का खुलासा किया है।
उपरोक्त घटना का प्रेस वार्ता के दौरान कोतवाली स्थित सभागार में पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा ने खुलासा करते हुए कहा कि उक्त घटना के अनावरण के क्रम में थाना कोतवाली औरैया पुलिस ने अथक प्रयास के बाद मृतक की पहचान अनिल पुत्र करन सिंह निवासी मो0 कृष्णा नगर थाना भर्थना जनपद इटावा के रुप में हुई। मृतक के भाई लाखन सिंह ने कोतवाली औरैया में लिखित तहरीर दी, कि उसका भाई जोकि कभी भर्थना कभी इटावा में रहकर पल्लेदारी का काम कता था। रेश्मा नाम की औरत के साथ पति पत्नी के रुप में रहता था। उसे विश्वास है कि कमलेश नट ने रेश्मा से नाजायज सम्बन्ध के चलते मेरे भाई की आग लगाकर हत्या कर दी है। इस सूचना के आधार पर 24 नवंबर 2021 को कोतवाली औरैया में विभिन्न धाराओं के अलावा हत्या कर शव छुपा देने की धारा में कमलेश नट व रेश्मा के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी के प्रयास प्रारम्भ किये गये।
उक्त घटना के सम्बन्ध में गुरुवार 25 नवंबर 2021 को समय करीब सवा 10 बजे मुखबिर की सूचना पर कोतवाली औरैया पुलिस ने अभियोग से सम्बन्धित अभियुक्तगण कमलेश नट उम्र करीब 51 वर्ष पुत्र स्व0 सुखलाल निवासी एसपी आवास कालोनी म0नं0 26/413 कोतवाली औरैया जनपद औरैया व रेश्मा पत्नी शहजादे निवासी नगला पूठ की मड़ैया थाना भर्थना जनपद इटावा को बरमूपुर नहर पुल के पास हाइवे की तरफ नहर पट्टी से गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की है। गिरफ्तार अभियुक्तगणों द्वारा पूछतांछ में बताया गया कि रेश्मा की अपने पति शहजादे से करीब 20 वर्ष पहले अलग रह रही थी। फिर वह मृतक अनिल के साथ रहने लगी। रेश्मा के सम्बन्ध कमलेश नट से भी हो गये। यह बात अनिल को पसन्द नही आती थी। वह रेश्मा के साथ मारपीट करता था। कमलेश नट व रेश्मा ने योजना बनाकर मृतक अनिल को शराब पिलाई और अधिक शराब पिलाने के बहाने से दिबियापुर रोड बाईपास ले गया। साथ में पेट्रोल भी ले गया, वहीं पर अनल के चेहरे में पेट्रोल लगाकर आग लगा दी। जिससे अनिल की मृत्यु हो गई। गिरफ्तार करने वाली टीम में कोतवाली औरैया प्रभारी निरीक्षक सन्तोष कुमार अवस्थी, उ0नि0 प्रशान्त कुमार, राजेश कुमार,कां0 अजय नायक, कां0 जितेन्द्र चौधरी,कां0 त्रिभुवन सिंह, कां0 विजय कांत,कां0 अंकुर कुमार, म0हे0कां0 अनीता देवी शामिल रहे।