April 17, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

औरैया 29 अगस्त *बाढ़ के बाद बीमारियों से निपटने के लिए डीएम ने दिए दिशा-निर्देश*

औरैया 29 अगस्त *बाढ़ के बाद बीमारियों से निपटने के लिए डीएम ने दिए दिशा-निर्देश*

औरैया 29 अगस्त *बाढ़ के बाद बीमारियों से निपटने के लिए डीएम ने दिए दिशा-निर्देश*

*औरैया 29 अगस्त 2022*- किसी भी कार्य को आपसी समन्वय के साथ करने से सफलता सुनिश्चित होती है, इसी का परिणाम है कि जनपद में आई भीषण बाढ़ के बावजूद भी किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। जिलाधिकारी प्रकाश चन्द्र श्रीवास्तव ने जनपद में आई बाढ़ के उपरांत गिरते जल स्तर के पश्चात होने वाली बीमारियों आदि के दृष्टिगत कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में उपरोक्त विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि सभी विभागों के आपसी समन्वय का ही परिणाम है कि इस भीषण बाढ़ में सभी ग्रामीण जन सुरक्षित रहे और किसी प्रकार् की कोई विशेष कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ा। सभी के संयुक्त प्रयास का ही परिणाम है कि जनहानि व पशु हानि नहीं हुई और भोजन आदि की व्यवस्था भी समय से मिलती रही। जिससे किसी ने धैर्य भी नहीं खोया और बाढ़ की आई आपत्ति टल गई।
बैठक में जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिए कि बाढ़ प्रभावित जनपद के 14 मजरो में सफाई कर्मचारियो की टीम बनाकर तत्काल भेजकर सफाई कार्य प्रारंभ करा दें, जिससे गंदगी से फैलने वाली बीमारियों से बचा जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि जहां भी पानी भरा हो प्रयास करके उसे निकलवाए अन्यथा स्वास्थ्य विभाग से दवा आदि प्राप्त कर छिड़काव कराएं ताकि मच्छर आदि न पनपने पाएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि स्वास्थ्य विभाग की टीमों को बाढ़ उपरांत फैलने वाली बीमारियों पर सक्रियता के साथ नजर रखने के लिए निर्देशित किया जाए। जिससे आशा कार्यकर्ती व एएनएम अपनी सक्रिय भूमिका के साथ कार्य करें और प्रतिदिन के कार्यो की समीक्षा भी की जाए। उन्होंने पशु चिकित्सा अधिकारी को सतत भ्रमण सील रहते हुए पशुओं में फैलने वाले रोगों पर निगरानी करने के निर्देश दिए तथा कहा कि आवश्यकता अनुसार टीकाकरण आदि कराया जाए। उन्होंने राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जैसे-जैसे पानी कम होता जाए। वैसे ही फसलों की छत का मूल्यांकन करके संबंधितों को मुआवजा दिलाए जाने की कार्यवाही कराएं। उन्होंने लोक निर्माण विभाग, शिक्षा विभाग ,विद्युत विभाग सहित ऐसे विभाग जिनको बाढ़ के कारण क्षति हुई है वह अपनी अपनी क्षति का आगणन करके एक सप्ताह में टिप्पणी सहित स्पष्ट आख्या उपलब्ध करा दें। जिससे उसकी सूचना ससमय शासन को प्रेषित की जा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी संबंधित विभाग अपने अपने इस कार्य को जिम्मेदारी के साथ निभाएं। जिससे किसी प्रकार की कोई भी बीमारी आदि न फैलने पाए । उन्होंने यह भी कहा कि जिस कार्य को अंजाम दे उसके फोटोग्राफ अवश्य भेजें जिससे कार्य स्पष्ट हो। बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रेखा एस चौहान, मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह सहित विभिन्न विभागों को संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

About The Author