August 7, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

औरैया 05 अगस्त *रविवार को मेगा कैम्प आयोजित कर दी जाएगी कोविड टीके की एहतियाती डोज*

औरैया 05 अगस्त *रविवार को मेगा कैम्प आयोजित कर दी जाएगी कोविड टीके की एहतियाती डोज*

*मेगा वैक्सीनेशन इवेंट में बनेगा रिकॉर्ड, लगाई जाएगी मुफ़्त एहतियाती डोज*

*सभी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर आयोजित होंगे कैम्प ,दूसरी डोज के छह माह पूरा करने वाले लगवा सकते हैं टीका*

*औरैया।* आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत कोविड टीके की मुफ्त एहतियाती डोज को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा 30 सितंबर तक विशेष अभियान चलाया जा रहा है।इसके तहत 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को सरकारी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर कोविड टीके की एहतियाती डोज मुफ्त लगाई जा रही है। अब इस अभियान को और गति देने के लिए सात अगस्त यानि रविवार को को एहतियाती डोज मेगा कैंप लगाया जाएगा।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि 15 जुलाई से 75 दिनों के लिए प्रदेश में 18 साल से अधिक उम्र के नागरिकों को नि:शुल्क प्रिकॉशन डोज लगाया जा रहा है। इसी क्रम में शासन के निर्देश पर सात अगस्त को जनपद के जिला अस्पताल, हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर बने कोविड टीकाकरण केंद्रों पर मेगा कैंप आयोजित होगा। इसमें बड़ी संख्या में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोविड टीके की एहतियाती डोज लगाई जाएगी। सीएमओ ने बताया कि मेगा कैंप का उदघाटन मंत्री, सांसद, विधायक व अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा कराया जाएगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कानपुर मंडल में औरैया जनपद कोविड टीकाकरण की पहली और दूसरी डोज़ लगवाने में पहले पायदान पर है।जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. राकेश सिंह ने बताया कि कोविड संक्रमण से बचाव के लिए एहतियाती डोज लगवाना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि मेगा कैंप के लिए इंटीग्रेटेड कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से फोन कॉल एवं निगरानी समिति, फ्रंट लाइन वर्कर, आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता दवारा व्यक्तिगत फॉलोअप किया जाएगा। उन्होंने बताया कि एहतियाती डोज लगवाने के लिए वॉक इन अप्वॉइंटमेंट की सुविधा है।
*माइक्रो प्लान से होगा टीकाकरण*
मेगा वैक्सीनेशन कैंप के लिए माइक्रो प्लान तैयार किया गया है। इसके लिए टीम गठित करने के साथ लोगों के साथ बैठक कर विस्तृत रणनीति तैयार की गयी है। सेशन साइट के अनुसार वैक्सीनेटर तथा डाटा एंट्री ऑपरेटर की टीम गठित करने की व्यवस्था है। इसके साथ ही सफल रणनीति के तहत वैक्सीनेशन का पूरा खाका तैयार किया गया है जिससे लक्ष्य पूरा करने में आसानी हो सके।