April 21, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

औरैया 01 सितम्बर *बीमारी से तंग आकर किसान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या*

औरैया 01 सितम्बर *बीमारी से तंग आकर किसान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या*

औरैया 01 सितम्बर *बीमारी से तंग आकर किसान ने फांसी लगाकर की आत्महत्या*

*मां की बीमारी के इलाज को पैसे नहीं होने के कारण रहता था परेशान*

*औरैया।* अछल्दा थाना क्षेत्र गांव रामपुर वैश्य में गुरुवार को एक किसान ने बीमारी से तंग आकर मकान के पीछे खड़े नीम के पेड़ में गले रस्सी डाल कर आत्महत्या कर ली। रात के समय पत्नी व बच्चे गांव में तलाश करते रहे लेकिन वह नहीं मिला सुबह एक ग्रामीण नहीं सव फांसी के फंदे पर लटकता हुआ देखा, जिस पर उसने मृतक की पत्नी को जानकारी दी। जिस पर पत्नी का करुण -क्रंदन गूंजने लगा। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मां के इलाज के लिए पैसे नहीं होने के कारण किसान ने फांसी लगाकर जान दे दी। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।
थाना अछल्दा क्षेत्र के ग्राम नगला वैश्य निवासी मृतक वीरू बाथम पुत्र सुवेदार बाथम उम्र 40 बर्ष ने मकान के पीछे खड़े नीम के पेड़ में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। वही ग्राम प्रधान पति राजीव शास्त्री ने मौके पर जाकर थाना पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार शर्मा व उपनिरीक्षक अमर सिंह पटेल ने मौके पर पहुंच गये और शव को फांसी के फंदे से उतार कर कब्जे में ले लिया। इसके बाद शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये शव विच्छेदनगृह चिचोली भेज दिया। मृतक की पत्नी सीमा देवी ने बताया लगभग दो बर्ष से सास की बीमारी के चलते उसके पति परेशान थे। आर्थिक स्थिति सही न होने की बजह से परेशान रहते थे। क्योंकि वह अपनी मां का इलाज नहीं करा पा रहे थे। बीती रात्रि लगभग 12 बजे पत्नी बच्चों के साथ घर के बहार सो रहे थे। पत्नी व बच्चों के सो जाने के बाद पत्नी की 2 बजे के करीब आँख खुलने पर देखा तो उसका पति चारपाई पर नही मिला।पत्नी व बच्चे आसपास व गाँव में खोजबीन करते रहे , पर कोई पता नही चला। गुरुवर की सुबह लगभग 6 बजे गाँव का ही एक युवक शौचक्रिया कर नीम के पेड़ की दातौन करने के लिये नीम कली तोड़ने गया , तो देखा शव लटका हुआ है। यह देख उसने मृतक की पत्नी को सूचना दी। सूचना मिलते ही मृतक की पत्नी ने शव लटका देख पछाड़े खाकर गिर पड़ी। बताया जाता है कि मृतक वीरू के चार बच्चे है। जिनमें रुचि कुमारी , रोशनी कुमारी , बेटा सूरज कुमार व प्रेम कुमार हैं। पत्नी सीमा देवी का रो-रोकर बुरा हाल बना हुआ है।

About The Author