July 17, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

अनूपपुर27जून24*निरंतर 13 दिन जिले में कर रहा दो हाथी विचरण,ग्रामीणों के हो रहे नुकसान से नाराज है

अनूपपुर27जून24*निरंतर 13 दिन जिले में कर रहा दो हाथी विचरण,ग्रामीणों के हो रहे नुकसान से नाराज है

अनूपपुर27जून24*निरंतर 13 दिन जिले में कर रहा दो हाथी विचरण,ग्रामीणों के हो रहे नुकसान से नाराज है ग्रामीण,वन विभाग दे रहा आश्वासन*

अनूपपुर (ब्यूरो राजेश शिवहरे)27/ जिले के जैतहरी एवं अनूपपुर वन परिक्षेत्र एवं थाना क्षेत्र में विगत तेरह दिनों से दो हाथी निरंतर विचरण कर रहे है जो रात भर ग्रामीणों के घरों,खेतों एवं बांड़ी में लगे,रखें विभिन्न प्रकार के अनाज,सब्जियों के साथ घरों में तोड़फोड़ कर नुकसान पहुंचा रहे है तथा दिन होते ही आसपास के जंगलों में विश्राम करने चले जाते है यह प्रक्रिया निरंतर तेरह दिनों से चलने के कारण हाथियों के विचरण से प्रभावित ग्रामों के ग्रामीण रात-रात जागरण कर अपने घर,खेत, वाड़ी,मोहल्ला एवं गांव को हाथियों से बचाने के लिए रात-रात भर जागकर काट रहे हैं वहीं ऐसे ग्रामों के ग्रामीणों के परिवारों के सदस्य जिसमें वृद्ध महिला,पुरुष,महिलाएं एवं बच्चे सम्मिलित रहते हैं रात-रात भर परेशान रहते हैं जिससे ग्रामीणों में व्यापक पैमाने पर असंतोष बढ़ता जा रहा है वहीं वन विभाग के द्वारा हाथियों की निगरानी पर निरंतर नजर रखते हुए आबादी वाले क्षेत्रों में हाथियों के प्रवेश को रोकने के लिए ग्रामीणों के साथ काम कर रहे हैं वन विभाग के बड़े अधिकारी स्थल का निरीक्षण करते हैं के समय ग्रामीण जन अपनी व्यथा सुनाते हुए हाथियों को जिले से बाहर कराए जाने की मांग कर रहे हैं जिस पर 13 दिनों के मध्य ग्रामीण को सिर्फ आश्वासन एवं विभिन्न प्रकार के प्रयोग होते ही दिख रहे हैं लेकिन किसी भी तरह का सार्थक पहल नहीं हो पा रहा है यह दोनों हाथी विगत तीन दिनों में 8 से 10 किलोमीटर की परिधि में विचरण करते हुए मंगलवार एवं बुधवार के दिन गोबरी के जंगल बढ़ौना खार में तथा गुरुवार की सुबह से अनूपपुर वन परिक्षेत्र तथा थाना क्षेत्र के दुधमनिया बे बीट के कक्ष क्रमांक 357 एवं 358 में विश्राम कर रहा है विगत तीन दिनों के मध्य अनूपपुर एवं जैतहरी थाना क्षेत्र एवं वन परिक्षेत्र के बेलियाकछर,पगना,ठेंगरहा,बांका,केकरपानी आदि ग्रामों में ग्रामीण के घरों में तोड़फोड़ कर बांड़ी में लगे केला,गान्ना,कटहल को आहार बना रहे हैं हाथियों के निरंतर विचरण पर अनूपपुर कलेक्टर एवं वन मंडलाधिकारी के निर्देश पर बैंगलोर से हाथी विशेषज्ञ रुद्रा आदित्य द्वारा बुधवार की शाम वन परिक्षेत्र जैतहरी के गोबरी बीट अंतर्गत कक्ष क्रमांक आर 302 जहां से हाथी दिन में विश्राम करने बाद देर शाम एवं रात को जंगल से निकल कर गोबरी,बांका,केकरपानी,बेलिया फटक की ओर खाने की तलाश के लिए जाते हैं यहां से हाथियों के ग्रामीण अंचलों में प्रवेश को रोकने के उद्देश्य जूट के बोरे मे मिर्ची डालकर मशाल बना कर,टीने में कन्डे,मिर्ची डालकर मिर्चीयुक्त धुआ किए जाने का प्रयोग किया गया जिससे हाथी कक्ष क्रमांक 302 के स्थान पर बढौनाखार जंगल में दिन में विश्राम करने बाद बुधवार की शाम जैतहरी राजेंद्रग्राम मुख्य मार्ग के मध्य भूपेंद्र सिंह के केसर के पास से मुख्य मार्ग पर चलते हुए गोबरार नाला के समीप जंगल में जाकर कुछ देर ठहरने बाद फिर से मुख्य मार्ग पर चलते हुए ठाकुरबाबा के पीछे के जंगल में जाकर गोवरी एवं ठेंगरहा के मध्य विजय सिंह के घर के पास से निकाल कर गोबरी तथा ठेंगरहा तालाब में पानी पीने बाद ग्रामीणो एवं वन विभाग की टोली द्वारा भगाए जाने पर ठेंगरहा-पगना मुख्य मार्ग पर चलते हुए देर रात ठेंगरहा गांव में शकुंतला सिंह के कच्चे मकान को दो स्थानों पर तोड़कर अंदर रखे धान को निकाल कर खाते हुए निरंतर एक घंटे तक उनके घर को निशाना बनाते रहे इस बीच जूट की बोरी में मिर्ची डालकर बनाए गए मशाल एवं पटाखा के माध्यम से भगाए जाने पर कुछ दूर जाकर फिर वापस आ जाते रहे तेजी से भगाए जाने पर यह दोनों हाथी कुदुरझोड़ी नाला पार कर रात एक बजे अनूपपुर वन परिक्षेत्र एवं थाना के बांका गांव में जंगल में बसे महदोले सिंह के घर के पास पहुंचकर बड़ी में लगा केला खाने बाद छन्दू सिंह के घर की परछी की मिट्टी की दीवाल तोड़कर परछी में रखा एक बोरी सरई का बीज खींचकर खाते हुए सुबह होते-होते दुधमनिया कक्ष क्रमांक 378 के कूप नंबर तीन राजामचान के समीप पहुंचकर गुरुवार के दिन विश्राम कर रहे हैं बुधवार की देर शाम वन मंडलाधिकारी अनूपपुर के द्वारा अपनी उपस्थिति में बैंगलोर के हाथी विशेषज्ञ रुद्रा आदित्य से बचाव के उपाय का निरीक्षण किया इस दौरान ग्राम पंचायत गोबरी के सरपंच एवं ग्रामीणों ने डीएफओ से हाथियों को जिले के बाहर कराए जाने का पर चर्चा पर तीन दिनों का समय मांगा है हाथियों का समूह गुरुवार की रात किस दिशा में विचरण करेगा यह रात होने पर ही पता चल सकेगा।

About The Author

Taza Khabar

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.