July 17, 2024

UPAAJTAK

TEZ KHABAR, AAP KI KHABAR

अनूपपुर 27 जून 24*जनहित के निर्माण कार्यों में शिथिलता बर्दाश्‍त नही होगी - कलेक्टर

अनूपपुर 27 जून 24*जनहित के निर्माण कार्यों में शिथिलता बर्दाश्‍त नही होगी – कलेक्टर

अनूपपुर 27 जून 24*जनहित के निर्माण कार्यों में शिथिलता बर्दाश्‍त नही होगी – कलेक्टर

निर्धारित अवधि में कार्यों की पूर्णता सुनिश्चित करने अधिकारी बरतें तत्परता-कलेक्टर

विकास विभागों के निर्माण कार्यों की कलेक्टर ने की कार्यवार समीक्षा

अनूपपुर( ब्यूरो राजेश शिवहरे)27 जून 2024/ कलेक्टर आशीष वशिष्ठ ने लोक निर्माण विभाग, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण, मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम लिमिटेड, लोक निर्माण विभाग (भवन), सर्व शिक्षा अभियान, सेतु निगम तथा जनजातीय कार्य विभाग व जल संसाधन विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए प्रगतिरत कार्यों को शीघ्र पूर्ण कराए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि जनहित में कार्यों की पूर्णता के लिए अधिकारी मैदानी भ्रमण कर कार्यों की मॉनीटरिंग सुनिश्चित करें। जिससे जिले के विकास कार्यों का लाभ आमजन को समय पर प्राप्त हो सके। जनहित के कार्यों में शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी कलेक्ट्रेट स्थित नर्मदा सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर आशीष वशिष्ठ ने निर्माण विभागों के विकास कार्यों की कार्यवार समीक्षा करते हुए अधिकारियों से कार्यों की अद्यतन स्थिति के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए उक्ताशय के निर्देश दिए।
लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान कार्यों की पूर्णता अपेक्षाकृत नही होने पर कलेक्टर ने नाराजगी जताते हुए लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री के 15 दिवस के वेतन कटौती के निर्देश दिए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के कार्यों की कार्यवार समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि लगभग पूर्णता की स्थिति में आ चुके कार्यों को एक सप्ताह के अन्दर पूर्ण किया जाए। उन्होंने कार्यपालन यंत्री को जनजातीय कार्य विभाग के वर्ष 2018 के निर्माण कार्यों की पूर्णता के लिए आवश्‍यक आवंटन प्राप्त करने वरिष्ठ कार्यालय को पूर्व में प्रेषित पत्रों का हवाला देते हुए पत्राचार करने के निर्देश दिए। जिससे लंबित कार्य की पूर्णता हो सके।
बैठक में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के प्रगतिरत कार्यों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने अनुबंधित सड़कों को संविदाकार के माध्यम से मरम्मत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि 30 जून तक प्रगतिरत कार्यों को पूर्ण कराया जाए। कलेक्टर ने पीएमजीएसवाई के महाप्रबंधक को बिना अनुमति के अवकाश पर रहने पर नाराजगी जताते हुए कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देश दिए। बैठक में पीएमजीएसवाई के अधिकारियों ने अवगत कराया कि जिले में 47 सड़कों में रिन्यूअल का कार्य तथा 15 सड़कों में लघु मरम्मत का कार्य लिए गए हैं। जिस पर कलेक्टर ने जिले की अन्य पीएमजीएसवाई सड़कों का सर्वे कर जिले की सभी मरम्मतयोग्य सड़कों को अनुबंध अनुसार दुरूस्त कराए जाने के निर्देश दिए। बैठक में एमपीआरडीसी के लांघाटोला से सरई सड़क निर्माण के प्रोजेक्ट की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने निर्देश दिए कि 19 अप्रैल 2024 की समय-सीमा निर्धारित होने के बावजूद भी निर्माण कार्य 25 प्रतिशत होने पर संबंधित संविदाकार के विरूद्ध अनुबंध समाप्ति की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। इस संबंध में उन्होंने संबंधित निविदाकार के विरूद्ध वरिष्ठ कार्यालय को अवगत कराए जाने के संबंध में अधिकारी को आवश्‍यक कार्यवाही के निर्देश दिए। बैठक में एमपीआरडीसी के किरर घाट मरम्मत निर्माण कार्य की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कार्यों में अपेक्षाकृत प्रगति परिलक्षित नही होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि कार्यों की प्रगति समयबद्धता के अनुरूप सुनिश्चित की जाए तथा गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने सुरक्षा के पैरामीटर का ध्यान रखने तथा निर्माण के दौरान मार्ग में चलने वाले वाहनों को कार्य स्थल से दूर रोका जाना सुनिश्चित किया जाए। जिससे किसी प्रकार की दुर्घटना न हो।
बैठक में जनजातीय कार्य विभाग के अंतर्गत सीएम राईज एवं अन्य स्कूल भवनों के निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि भूमि संबंधी कार्य को समय-सीमा में निराकृत करने विभागीय अधिकारी तत्परता दिखाएं। उन्होंने कार्यवार समीक्षा करते हुए जनजातीय कार्य विभाग व लोक निर्माण विभाग (भवन) के अधिकारियों को आवश्‍यक दिशानिर्देश दिए। उन्होंने कार्यों की समय-सीमा सुनिश्चित करते हुए अधिकारियों को कार्यपूर्णता समय पर सुनिश्चित करने को कहा। बैठक में सेतु निगम के लंबित 4 कार्यों की समीक्षा करते हुए *कलेक्टर ने रेलवे फ्लाई ओवर ब्रिज के अद्यतन प्रगति की जानकारी प्राप्त करते हुए अधिकारियों को रेलवे अधिकारियों के साथ बैठक सुनिश्चित करने तथा शेष कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश दिए।* बैठक में जल संसाधन विभाग के पिपरिया, दमेहड़ी, झिलमिल, समरार, सिंहपुर, छुलकारी आदि प्रोजेक्ट कार्यों के अद्यतन स्थिति की समीक्षा करते हुए कार्यों की प्रगति के संबंध में दिशानिर्देश दिए। बैठक में कलेक्टर ने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को जिले के सिंचाई रकबे की वृद्धि के लिए बैराज निर्माण के प्रोजेक्ट हेतु स्थल का चयन कर प्रोजेक्ट तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिले की सिंचाई क्षमता को बढ़ाने के लिए शासन स्तर से इस संबंध में प्रयास सुनिश्चित किए जाएंगे।

About The Author

Taza Khabar

Copyright © All rights reserved. | Newsever by AF themes.