UncategorizedWorldउत्तर प्रदेशउत्तराखंडराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

औरैया 22 मार्च *माया गेस्ट हाउस कांड ब्लॉक प्रमुख चुनाव दौरान हुआ था बवाल*

औरैया 22 मार्च *माया गेस्ट हाउस कांड ब्लॉक प्रमुख चुनाव दौरान हुआ था बवाल*

*बिधूना,औरैया।* वर्ष 2006 में विकासखंड बिधूना के ब्लॉक प्रमुख चुनाव के दौरान मतदाताओं को जबरन पकड़कर अपने पक्ष में मतदान कराने को लेकर जमकर हुए तांडव गोलीकांड में एक रिक्शा चालक की हुई मौत के मामले में वर्ष 2007 में न्यायालय में काउंटर देकर कराये गये मुकदमा पंजीकृत के बाद उक्त मामले में वांछित चल रहे लगभग 23 आरोपितों में 5 को पुलिस ने गिरफ्तार कर मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रस्तुत किया है।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक वर्ष 2006 में प्रदेश की सपा सरकार के कार्यकाल में कराए गए ब्लॉक प्रमुख चुनाव के दौरान बसपा नेता रहे पूर्व विधायक एवं वर्तमान में भाजपा नेता शिव प्रसाद यादव के भाई गीतम सिंह यादव ब्लॉक प्रमुख पद के दावेदार थे , वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष धनीराम वर्मा की पुत्र वधू रेखा वर्मा ब्लाक प्रमुख पद की दावेदार थी। बताया गया है कि पहले गीतम सिंह यादव के पक्ष में बीडीसी मतदाताओं का भारी समर्थन था और वह मतदाता मतदान के दिन बिधूना कस्बे के किशनी रोड पर स्थित माया गेस्ट हाउस में गीतम सिंह यादव के निजी सिपहसालारों की कड़ी सुरक्षा के बीच मौजूद थे। चर्चा है कि जब एक एक कर मतदाताओं को मतदान के लिए ब्लॉक कार्यालय पर स्थित मतदान बूथ पर ले जाया जा रहा था तभी मतदाताओं को सत्ताधारी सपा पक्ष के लोगों द्वारा जबरन पकड़कर अपने पक्ष में मतदान कराने का प्रयास किया गया। जिसके चलते गेस्ट हाउस पर दोनों पक्षों में बवाल हो गया। वहीं प्रशासन व पुलिस भी बबाल को रोकने का प्रयास करने लगी तभी गोलियां चलने लगी। प्रशासन की मौजूदगी में पुलिस की ओर से भी गोलियां चली। दोनों ओर से हुई फायरिंग के साथ ही पुलिस प्रशासन की कई गाड़ियां भी आग के हवाले हो गई। इस गोलीकांड में एक रिक्शा चालक की भी मौत हो गई थी। बाद में पुलिस प्रशासन द्वारा गेस्ट हाउस में मौजूद पूर्व विधायक शिव प्रसाद यादव गीतम सिंह यादव भाजपा नेता सतीश पाल के साथ ही कई बीडीसी सदस्य समेत भारी संख्या में लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था।सपा सरकार जाने के बाद सत्ता में आई बसपा सरकार के कार्यकाल में वर्ष 2007 में उक्त माया गेस्ट हाउस कांड के मामले में न्यायालय में काउंटर देकर मुकदमा पंजीकृत कराया गया इस मामले में वांछित चल रहे लगभग 23 आरोपियों में से 5 लोगों उमा सिंह यादव , ध्यान सिंह यादव , रमेश यादव , बृजमोहन सिंह यादव व सफीक उर्फ कल्लू को बिधूना पुलिस ने गिरफ्तार कर मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रस्तुत किया है।उक्त माया गेस्ट हाउस कांड के आरोपितों की शुरू हुई धरपकड़ से उक्त मामले में अब तक वांछित चल रहे आरोपितों में भी हड़कंप मच गया है। वही कई वर्ष पुराने माया गेस्ट हाउस कांड की याद भी लोगों में ताजा हो गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button