UncategorizedWorldउत्तर प्रदेशउत्तराखंडराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

अयोध्या 11 मार्च *मारपीट के मामले सुलह होने के बावजूद जमानत पर रिहाई न होने से नाराज़ अधिवक्ताओं ने रुदौली तहसील परिसर में किया हंगामा*

*अब्दुल जब्बार एडवोकेट व अम्ब्रेश यादव की रिपोर्ट*

अयोध्या 11 मार्च *मारपीट के मामले सुलह होने के बावजूद जमानत पर रिहाई न होने से नाराज़ अधिवक्ताओं ने रुदौली तहसील परिसर में किया हंगामा*

भेलसर(अयोध्या)मामूली विवाद को लेकर शान्ति भंग की आशंका में थाना पटरंगा की पुलिस द्वारा भेजे गए धारा 151 के अंतर्गत चालान में दोनों पक्षों द्वारा सुलहनामा व ज़मानत दाखिल करने के बाद भी वारण्ट बनाने से आक्रोशित अधिवक्ताओ ने खूब हंगामा काटा बाद में उच्चअधिकारियों के हस्तक्षेप बाद मुल्जिमान की रिहाई के बाद मामला शान्त हुआ।
बुधवार को पटरंगा थाना क्षेत्र के गनौली में स्थित फूला सिंह के ढाबे पर दो ट्रक चालकों में किसी बात को लेकर मारपीट हो गई।सूचना पर पहुची पीआरबी पुलिस ने दोनों पक्षो को थाने ले गई जहां पर दोनों पक्ष के चालकों ने आपसी सुलह समझौता कर लिया।पीड़ित का आरोप है कि पटरंगा पुलिस ने सुलह के बावजूद दोनों पक्षों को शान्तिभंग की आशंका में धारा 151 के तहत चालान कर दिया।पुलिस दोनों पक्षों को रुदौली तहसील में जमानत के लिए ले गई जहां पर ट्रकों के कागजात लगाकर जमानत के लिए एसडीएम रुदौली के समक्ष जमानत की अर्जी दी गई।अधिवक्ताओ का आरोप है कि एसडीएम रुदौली की अनुपस्थिति में मलकीत सिंह लखीमपुर खीरी व बलदेव सिंह अमृतसर की जमानत व दोनों पक्षों द्वारा सुलह दाखिल करने के बाद भी ज़मानत न मंजूर कर जेल भेजने के लिए वारण्ट बना दिया गया।इस सूचना पर अधिवक्ता आक्रोशित हो गए और हंगामा शुरू कर दिया।एसडीएम विपिन कुमार सिंह व क्षेत्राधिकारी धर्मेंद्र यादव से तहसील के पूर्व महामंत्री रमेश चंद्र शुक्ला ने मामले को लेकर वार्ता की और नाराजगी जताते हुए हंगामा शुरू कर दिया।एसडीएम ने अधिवक्ताओं को आश्वासन देते हुए कहा कि जमानत राशि पूर्ण होने पर रिहाई कर दी जाएगी।इस बात को लेकर अधिवक्ता शांत हुए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button