UncategorizedWorldउत्तर प्रदेशउत्तराखंडराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

अयोध्या 09 मार्च *रुदौली तहसील वापसी को लेकर अधिवक्ताओं ने सौंपा ज्ञापन*

*अब्दुल जब्बार एडवोकेट व डॉ0 मो0 शब्बीर की रिपोर्ट*

अयोध्या 09 मार्च *रुदौली तहसील वापसी को लेकर अधिवक्ताओं ने सौंपा ज्ञापन*

भेलसर(अयोध्या)रूदौली तहसील वापसी की मांग को लेकर वकीलों ने जुलूस निकाल कर जिला मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन डीएम के प्रतिनिधि तहसीलदार (न्यायिक)को सौंपा।
जिला बार एसोसिएशन के वर्तमान अध्यक्ष जगत बहादुर सिंह तथा नवनिर्वाचित अध्यक्ष योगेन्द्र सिंह वर्मा के नेतृत्व में भारी संख्या में अधिवक्ता सिविल कोर्ट परिसर में एकत्र होकर लाउडस्पीकर से आवाज देकर अध्यक्ष द्वारा भारी संख्या में एकत्रित होकर सिविल कोर्ट में घूम कर नारेबाजी करने के पश्चात जुलूस लखनऊ फैज़ाबाद राजमार्ग होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचा जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर जुलूस सभा में परिवर्तित हो गया।
वर्तमान महामंत्री नरेन्द्र कुमार वर्मा तथा नवनिर्वाचित महामंत्री नरेश कुमार सिंह के संचालन में हुई सभा को सम्बोधित करते हुए महामंत्री नरेन्द्र वर्मा ने कहा कि रूदौली तहसील के लोगों की मन्शा को दर किनार कर बसपा सरकार ने जबरन रुदौली तहसील को बाराबंकी से पृथक कर फैजाबाद में मिला दिया था हुमायूँ नईम खान एडवोकेट ने कहा कि रुदौली वासियों की भावनाओं को देखते हुये बाद में आई समाजवादी सरकार ने रूदौली तहसील को पुनः बाराबंकी में मिला दिया था इसके बाद दुबारा सत्ता में आने पर बसपा सुप्रीमो ने पुनः रूदौली को बाराबंकी से हटाकर फैजाबाद में मिला दिया तभी से तभी से अधिवक्तागण आंदोलनरत है रुदौली तहसील वापसी संघर्ष समिति के सहसंयोजक लल्लन यादव ने कहा कि ऐसे तानाशाही पूर्ण निर्णय रूदौली वासियों की मंशा के विपरीत लिये गये।उन्होंने रुदौली को फैजाबाद से हटाकर पुनः बाराबंकी में मिलाए जाने की मांग की ज़िला बार के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष कौशल किशोर त्रिपाठी एडवोकेट ने कहा कि जनपद में अधिवक्ताओं का टोल टैक्स भी माफ किया जाय।जिला बार के नवनिर्वाचित वरिष्ठ उपाध्यक्ष दिलीप गुप्ता ने कहा कि बाराबंकी जिला को कमिशनरी फैजाबाद से हटाकर लखनऊ से जोड़ दिया जाय।पूर्व महामंत्री सुनीत अवस्थी ने अधिवक्ताओं के बच्चों की स्कूल की फ़ीस माफ़ किये जाने की मांग की तो जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष भारत सिंह यादव ने जूनियर अधिवक्ताओं के मासिक भत्ता दिए जाने की माँग की।
इस अवसर पर सतीश पाण्डेय,एस०डी० शर्मा,इकबाल राही,हिसाल बारी किदवई,उत्तम श्रीवास्तव,अमीनुद्दीन,खुशीराम यादव,हरिश अग्निहोत्री,लईक अहमद,सुरेश गौतम,क़िस्मत अली,मुख़्तार अहमद,मोहम्मद शमीम,फ़रीद अहमद,वक़ील अहमद,रामसरन यादव,मदन यादव,हंसराज यादव,महेन्द्र कुमार सिंह,मोहम्मद तालिब,मोहम्मद शादाब,नरेन्द्र पाण्डेय,नीरज वर्मा,लक्ष्मी रानी गुप्ता,विवेकानन्द सिंह,सौरभ यादव(दारा),देवी सरन वर्मा सहित सैकड़ों अधिवक्ताओं ने अपने विचार व्यक्त किए।अन्त में मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन तहसीलदार (न्यायिक) को सौंपा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button