UncategorizedWorldउत्तर प्रदेशउत्तराखंडराजनीतिराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

औरैया 08 मार्च ब्रेकिंग न्यूज़ upaajtak से

[3/8, 2:42 PM] +91 97600 95606: *ब्रेकिंग न्यूज़ औरैया-*

महिला की गोली लगने से हुई मौत।

घर के अंदर पड़ी मिली लाश।

लाश के पास मिली रिवाल्वर।

हत्या है या आत्महत्या यह इस्पष्ठ नहीं हो सका।

सदर कोतवाली के तिलकनगर का मामला।
[3/8, 2:42 PM] +91 97600 95606: नोटिस भेजकर कॉलोनी बनाने में मे रोक।
डेरापुर कानपुर देहात। विकासखंड डेरापुर की ग्राम पंचायत चिलौली में गरीबों को विकासखंड स्तर से पात्रता के आधार पर प्रधानमंत्री योजना आवास आवंटित हुए और उनमें कुछ लोगों को प्रथम किस्त का रुपया उनके खातों में आहरित भी कर दिया गया यहां तक की कुछ लोगों ने कच्चा माल इकट्ठा कर बनवाना शुरू कर दिया यहां तक कि दीवारें और दरवाजे भी लग गए और पात्र व्यक्ति दूसरी किस्त का इंतजार भी करने लगे इसी बीच ग्राम पंचायत अधिकारी ने उक्त गांव के पांच पात्र आवास मालिकों को खंड स्तर से नोटिस थमा कर लिखित तौर पर पैसा वापसी की मांग कर दी है ऐसा न करने पर थाने में रिपोर्ट दर्ज करा ने की हिदायत दी गई है। यह जानकारी उसी गांव के विकलांग जगन्नाथ ने दी बताया कि उसकी पत्नी अमरावती पत्नी जगन्नाथ के नाम कॉलोनी आवंटित हुई। और उसने पूरी बना भी ली यहां तक कि उसने अपने जेब की कमाई भी लगा दी और जब केवल छत पड़ने को रह गई तो ग्राम विकास अधिकारी ने अमरावती के आलावा महावीर पुत्र बच्ची लाल प्रभादेवी पत्नी अशोक के अलावा अन्य दो लोगों को नोटिस थमा कर खाते के माध्यम से पैसा जमा कराने की बात कही है। और नोटिस में अपात्र घोषित किया गया है इन लोगों को यह नहीं बताया गया कि आखिर में यह लोग अपात्र कैसे हुए जबकि पात्रता सूची में इनके नाम दर्ज हैं क्या यह गलती सूची बनाने वाले लोगों ने कुछ ले देकर हेर-फेर किया है या फिर से अब इनसे अधिकारी कुछ वसूलना चाहते हैं इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाए और जो दोषी हो उन्हें दंडित किया जाए जबकि मालूम हो कि उक्त गांव चिलौली गहोबा सुजनीपुर में जो पात्र भी नहीं है उन्हें कालोनी व राशन मिल रहा है आज तक जाच नहीं। अधिकारियों से मांग है कि एक बार चिलौली सहित अन्य गांवों की जांच कराई जाय हकीकत सामने आ जायेगी और दोषीसजा पायेंगे।यह धन्धा प्रधानों सचिवों व रोजगार सेवकों के बीच चलरहा है । इसका हिस्सा नीचे से ऊपर तक है जैसा कु।छ सुनने में आ रहा है। उक्त लोगों ने जिलाधिकारी से मिलकर ज्ञात कराए जाने की मांग की है कि आखिर किस वजह से अपात्र घोषित किया गया इसकी वजह भी बताई जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button