UncategorizedWorldउत्तर प्रदेशउत्तराखंडराजनीतिराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

अयोध्या 06 मार्च ब्रेकिंग न्यूज़ upaajtakसे

[3/6, 11:20 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट व जगदम्बा श्रीवास्तव की रिपोर्ट*

*गन्ना पर्ची निर्गत न होने से खेतों में खड़ा है पेड़ी गन्ना*

भेलसर(अयोध्या)रुदौली क्षेत्र के दर्जनों गांव में अभी तक सैकड़ो किसानों का पेड़ी गन्ना पर्ची गन्ना विकास समिति के सुपरवाइजर अशोक वर्मा व गनौली गन्ना समिति के सचिव की लापरवाही के चलते निर्गत न होने से किसानों का गन्ना खड़ा हुआ है जिससे गन्ना किसानों में काफी मायूसी छाई है।
जगदम्बा प्रसाद,गोविन्द प्रताप सिंह,बलवीर सिंह,राम बरन,अमरेश वर्मा आदि किसानों का कहना है कि हम अपने मोबाइल में रोज मैसेज देखते हैं लेकिन अभी तक पर्ची का मैसेज नहीं आया है जबकि क्षेत्र के प्रभावशाली किसानों ने अपना पेडी का गन्ना जनवरी माह में ही समाप्त कर दिया है।क्षेत्र के किसान का दुख-दर्द सुनने वाला कोई नहीं है खेत मे गन्ना खड़ा होने से किसान गेहूं की फसल,मेंथा की फसल,उड़द की फसल नहीं ले पाए हैं किसान गोविन्द प्रताप सिंह ने बताया की अभी मेरा पैड़ी का गन्ना खड़ा है और कई किसान अपना पौधा गन्ना भी भेज चुके हैं।भाकियू के प्रदेश सचिव दिनेश दूबे ने बताया कि किसानों को गन्ना की पेड़ी की पर्ची अभी तक न देना किसानों के साथ अन्याय है।वही जिला गन्ना अधिकारी अयोध्या अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि पेड़ी गन्ने की पर्ची शीघ्र जारी की जाएगी।
[3/6, 11:20 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट व जगदम्बा श्रीवास्तव की रिपोर्ट*

*सी.एस.सी. केन्द्रों के माध्यम से विद्युत बिल में ‘‘एकमुश्त समाधान योजना‘‘ शुरू*

*उपभोक्ता 100 प्रतिशत सरचार्ज छूट के साथ जमा कर सकते हैं अपना बिजली बिल*

भेलसर(अयोध्या)प्रदेश सरकार द्वारा विद्युत बिल जमा करने हेतु एकमुश्त समाधान योजना का शुभारम्भ किया गया है।जिसके द्वारा एलएमवी-1 घरेलू एवं एलएमवी निजी नलकूप श्रेणी के समस्त विद्युत उपभोक्ताओं के विलम्बित भुगतान अधिभार की सौ प्रतिशत छूट हेतु ‘‘एकमुश्त समाधान योजना‘‘ काॅमन सर्विस सेन्टरों (सी एस सी केन्द्रों)के माध्यम से शुरू की गयी है।जो कि जनपद में स्थिति सभी सी एस सी केंद्रों पर उपलब्ध है।
एकमुश्त समधान योजना में ग्रामीण के सभी घरेलू और निजी नलकूप के बकायेदारों को उनके 31.01.2021 तक के विद्युत बकाये पर सरचार्ज के रुप में लगायी गयी धनराशि में सौ प्रतिशत की छूट दी जाएगी।यह योजना मे पंजीकरण दिनांक 01 मार्च 2021 से 15 मार्च 2021 तक लागू रहेगा।सभी विद्युत बकायेदार इस अवधि में अपने नजदीकी किसी भी कॉमन सर्विस केंद्र पर जाकर पंजीकरण कराकर छूट का लाभ लेते हुये अपना बकाया विद्युत बिल जमा कर सकते हैं।उक्त योजना का लाभ पाने हेतु उपरोक्त श्रेणी के उपभोक्ताओं का योजना के अंतर्गत सबसे पहले आॅनलाइन पंजीकरण अनिवार्य होगा।योजना में उपभोक्ता के आॅनलाइन पंजीकरण के समय खाता संख्या फीड करते ही उपभोक्ता का समस्त विवरण यथा पंजीकरण हेतु देय धनराषि, मूल बिल धनराशि,सरचार्ज मे छूट,भुगतान की स्थिति इत्यादि परिलक्षित होंगी।पजीकरण के समय उपभोक्ता का फोन नम्बर एवं बिल संशोधन का विकल्प आवश्यक लिया जाएगा।पंजीकरण के समय उपभोक्ताओ को उनके माह जनवरी 2021 तक के विद्युत बिल में प्रदर्षित मूल धनराषि का 30 प्रतिशत एवं दिनांक 31 जनवरी 2021 के उपरान्त के वर्तमान देयों को एकसाथ जमा करना होगा,जिसके बाद ही उपभोक्ता का पंजीकरण पूर्ण होगा। पंजीकरण के बाद यदि उपभोक्ता बिल संशोधन का विकल्प चुनता है तो सम्बन्धित विद्युत वितरण खण्ड के अधिषासी अभियन्ता का यह दायित्व होगा कि वह 07 दिन के अन्दर उपभोक्ता का बिल आॅनलाइन संशोधन करे,जिसकी सूचना उपभोक्ता को तत्काल एसएमएस के माध्यम से संशोधित बिल की सूचना प्रेषित हो जाएगी,सी एस सी केंद्रों पर विद्युत उपभोक्ता इस योजना में अपना पंजीकरण कराकर सरचार्ज में 100 प्रतिषत छूट के साथ अपना बकाया विद्युत बिल संशोधन कराकर जमा कर सकते हैं।यह जानकारी सी.एस.सी. ई-गर्वनेन्स सर्विसेज इण्डिया लि. के जिला प्रबन्धक जाहिद उल्ला ने अधिशाषी अभियंता विधुत अयोध्या से मीटिंग के दौरान दी।
[3/6, 11:22 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट व अम्ब्रेश यादव की रिपोर्ट*

*भव्य भंडारे के साथ पांच दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का हुआ समापन*

*मवई ब्लाक क्षेत्र के ग्राम चकपुरवा मजरे अशरफपुर गंगरेला में पांच दिवसीय कथा का हुआ आयोजन*

भेलसर(अयोध्या)रुदौली तहसील क्षेत्र अंतर्गत चकपुरवा मजरे अशरफपुर गंगरेला गांव में बूढ़े बाबा देव स्थान पर शुक्रवार को पांच दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का समापन हुआ तत्पश्चात भव्य भंडारे का आयोजन किया गया।जिसमें हजारों की संख्या में भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया।
कथा के अंतिम दिन कथा वाचक पल्लवी यादव जी के मुखारविंद से श्रीकृष्ण रुक्मणी विवाह का भव्य झाँकी के साथ वर्णन किया गया।श्रीकृष्ण रुक्मिणी के विवाह पर विवाह व सोहर गीत से सभी भक्त भावविभोर हुए।कथा के अंतिम दिन भारी संख्या में भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी।कथा वाचक पल्लवी जी ने श्री कृष्ण और रुक्मणी जी के विवाह प्रसंग को बहुत ही रोचक ढंग से प्रस्तुत किया।उन्होंने कहा कि कृष्ण भाव परमात्मा और रूकमनी भाव आत्मा लेकिन आज मानव अपने वास्तविक सत्य से अनभिज्ञ है।मननशील प्राणी होते हुए भी वह उस तत्व पर विचार नहीं करता जिस पर मनन करने से उसे अपने जीवन का लक्ष्य मिल सकता है।मनुष्य समाज दो भागों में बंटा हुआ है नर और नारी।नर की उन्नति,सुविधा और सुरक्षा के लिए तो प्रयत्न किया जाता है,परन्तु नारी हर क्षेत्र में पिछड़ी है।जिस रथ का एक पहिया बड़ा और दूसरा छोटा हो वह ठीक ढंग़ से नहीं चल सकता।हमारा देश,समाज,जाति तब तक सच्चे अर्थों में विकसित नहीं कहे जा सकते।कथा के अंतिम दिन क्षेत्रीय विधायक राम चन्द्र यादव उपस्थित हुए।इस दौरान उन्होंने कहाकि इस तरह के आयोजन से समाज की एकजुटता का परिचय मिलता है और हम सब पूण्य के भागी बनते है।समय समय पर इस तरह का आयोजन हमेशा होते रहना चाहिए।इस अवसर पर अशरफपुर गंगरेला ग्राम पंचायत से प्रधान पद प्रत्याशी नौमिलाल यादव,समाजसेवी जगन्नाथ यादव,मवई प्रथम से जिला पंचायत प्रत्याशी अशोक बाबा,राजेश यादव,कुलदीप यादव,राम बरन यादव,बीडीसी प्रत्याशी राम देव यादव,संग्राम सिंह यादव,अमर बहादुर यादव,जुनेद अहमद,सोनू भाई,अनुपम यादव,संदीप यादव,श्याम सिंह यादव सहित भारी संख्या में क्षेत्र व ग्रामवासी उपस्थित रहे।
[3/6, 11:22 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट*

*रौज़ागाँव चीनी मिल द्वारा 5.39 करोड़ का किया गया गन्ना मूल्य भुगतान*

भेलसर(अयोध्या)बलरामपुर चीनी मिल्स लिमिटेड यूनिट रौजागांव द्वारा वर्तमान पेराई सत्र 2020-21 में 13 फरवरी 2021 तक क्रय किए गए गन्ने का गन्ना मूल्य 5.39 करोड़ रुपए का भुगतान 05-03-2021 को कर दिया गया है तथा किसानों का गन्ना मूल्य किसानों के संबंधित बैंक खाते में भेज दिया गया है।चीनी मिल द्वारा वर्तमान पेराई सत्र में त्वारित गन्ना मूल्य भुगतान की योजना की जा रही है।
चीनी मिल के यूनिट हेड निष्काम गुप्ता ने कृषको से अनुरोध किया है कि जिस क्षेत्र में प्रजाति को. 0238 में रेडरॉट का प्रकोप आ गया है उस क्षेत्र के किसान भाई अपने संबंधित मिल स्टाफ़ से मिल कर गन्ना बीज नर्सरी से को. 0118 गन्ना प्रजाति एवं स्वास्थ्य को. 0238 गन्ना बीज सुरक्षित कराकर बसंत कालीन गन्ना बुवाई के लिए सुनिश्चित करें।साथ ही साथ किसान भाई जिन खेतों में रेडरॉट का प्रकोप है उस खेत में पेड़ी गन्ना ना लें तथा उसमें फसल चक्र अपनाएं।साथ ही साथ मिल प्रबंधन द्वारा किसानों की भूमि की उर्वरा शक्ति एवं कार्बनिक पदार्थ की मात्रा बढ़ाने हेतु कच्ची/ताजी प्रेसमड की खाद को अनुदानित दर रू 05 प्रति कुन्तल की दर से दिये जाने के बारे में बताया गया।इस मौके पर इकबाल सिंह महाप्रबंधक गन्ना ने किसानों से अपील की है कि बसंत कालीन गन्ना बुवाई मे ट्रेंच विधि द्वारा ही गन्ने की बुवाई करें और दो ही आँख के टुकड़े से गन्ने की बुवाई करे तथा पर्ची का संदेश(s.m.s.)आने के बाद ही गन्ने की कटाई करें।किसान भाई अपना बेसिक कोटा बनाने हेतु अपनी ही पर्ची पर गन्ने की आपूर्ति करे,जिससे आगामी वर्ष में गन्ना आपूर्ति में कठिनाई का सामना न करना पड़े।किसान भाई अधिक से अधिक क्षेत्रफल में 0118 गन्ने की बुवाई करें।किसान भाई ध्यान दे कि बसंत कालीन गन्ना बुवाई हेतु को. 0118 व रोग रहित बीज नर्सरी से को. 0238 का गन्ना बीज अभी अवश्य सुरक्षित कर ले एवं को.238 का आधे से ऊपरी भाग बुवाई में प्रयोग करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button