महाराष्ट्रराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

मुम्बई 01 मार्च*लॉकडाउन का पालन नहीं किया जाएगा, जनता को इसका पालन नहीं करना चाहिए, अपनी दिनचर्या करें और सक्षम हों: – डेमोक्रेटिक रिपाई*

मुम्बई 01 मार्च*लॉकडाउन का पालन नहीं किया जाएगा, जनता को इसका पालन नहीं करना चाहिए, अपनी दिनचर्या करें और सक्षम हों: – डेमोक्रेटिक रिपाई*

*मुंबई दि (संवाददाता) कोरोना से डरो मत, सावधान और सतर्क रहें और अपनी दैनिक दिनचर्या करें, आर्थिक रूप से सक्षम हों। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया डेमोक्रेटिक नेशनल महासचिव डॉ. राजन माकणीकर ने हमारे प्रतिनिधि के माध्यम से राज्य के सभी नागरिकों को संबोधित किया है।*

कोरोना-फ़ोरोना कुछ भी नहीं है लेकिन येह बीमारी पहले से ही है, आम आदमी को सिर्फ डराकर सताया जा रहा है, राज्य सहित देश का आर्थिक पक्ष पूरी तरह से कमजोर हो गया है। यदि आप काम से घर आते हैं, तो सुबह और शाम भाप लें, गर्म पानी पीएं। इस संक्रमण से सावधान रहें।

सरकार की तालाबंदी के बाद से, लोग भोजन की तलाश मे हैं, कई लोग भुखमरी से मर गए हैं और कुछ ने अपने परिवारों के साथ आत्महत्या कर ली है। किसान की कमर तूट चुकी हैं और आम आदमी बेहाल है। गैस महंगी है, पेट्रोल और डीजल महंगे हैं, सब्जियां, खाद्यान्न और दूध सभी महंगे हैं, क्या खाएं और क्या बचाये? इस प्रश्न का सामना करते हुए फिर से लॉक किया गया तो पुरा राज्य भूकमरी से मर जायेगा। 2/4 दिन के लॉकडाऊन से पुंजीपती और व्यापरियो को उतना फरक नही पडेगा किंतु गरीब को अपने परिवार के सदसंयो को गवांना पडेगा।

कर्ज की थकावट ने किसानों की गायों, भैंसों, युवाओं की मोटरबाइकों, चार पहिया वाहनों, को खिंच ले गया है। गैस और बिजली कनेक्शनों को काटा दिया है। इस दैनिक और अन्य बुनियादी सवालों पर कुछ भी कहे बिना, सरकार इसे फिर से बंद करके गरीबों को मौत के कगार पर धकेल रही है।

पार्टी महासचिव डॉ. माकणीकर ने यह भी बताया कि जल्द ही पार्टी प्रमुख कनिष्क कांबले, के नेतृत्व मे डॉ. राजन माकनिकर, वसंत कांबले, श्रवण गायकवाड़, वसंत लांमतुरे, विजय चव्हाण, हरिभाउ कांबले, शिव राठौर और अन्य दिग्गजों के सहभाग में एक मोर्चा का आयोजन किया जाएगा।

हालाँकि, डेमोक्रेटिक रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया लोगों सेआग्रह कर रही है कि वे किसी भी तरह की समस्या होने पर लॉकडाउन का पालन न करें और कुछ दिक्कत हो तो डेमोक्रेटिक रिपाई के पैंथर को मिलणे की हिदायेत डॉ. माकणीकर ने दि है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button