राजनीतिराजस्थानराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

जोधपुर 23 फरवरी*भावेश साँखला बने विश्वस्तरीय योग शिक्षक एवं मूल्‍यांकनकर्ता :-

जोधपुर 23 फरवरी*भावेश साँखला बने विश्वस्तरीय योग शिक्षक एवं मूल्‍यांकनकर्ता :-
जोधपुर 19 फरवरी, भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के अधीन योग प्रमाणीकरण बोर्ड द्वारा आयोजित विश्वस्तरीय योग शिक्षक एवं मूल्‍यांकनकर्ता परीक्षा में जोधपुर के अनन्ता योग एवं आयुर्वेद अनुसंधान संस्थान के भावेश साँखला ने परीक्षा उत्तीर्ण कर योग शिक्षक एवं मूल्‍यांकनकर्ता बनने का गौरव प्राप्त किया ।
अनन्ता योग के विद्यार्थी भावेश साँखला ने परीक्षा में सफलता का श्रेय अपने योगगुरु व अनन्ता योग के संस्थापक योगाचार्य श्री श्याम भाटी सहयोगी राजन सर व महेंद्र सर व अपने पिता धर्मेन्द्र साँखला व माता मीना साँखला व परिजनों को दिया है ।
योगाचार्य श्री श्यामलाल भाटी ने भावेश के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए बताया कि भावेश ने पहले भी गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में एक ही आसन में 62 मिनिट तक स्थिर रहकर नाम दर्ज करवा चुके है, अखिल भारतीय योग महासंघ द्वारा आयोजित सूर्या चेम्पियनशिप में अपनी आयु वर्ग 14 से 19 वर्ष में 190 बार सूर्य नमस्कार कर राजस्थान में प्रथम स्थान के साथ ही युवा भारत 4th राजस्थान योगासन स्पोर्ट्स चेम्पियनशिप 2019- 20 में 2nd स्थान प्राप्त किया ।
ज्ञात रहे कि यह परीक्षा अखिल भारतीय स्तर पर योग प्रमाणीकरण बोर्ड जो कि QCI की स्वतंत्र इकाई है जो कि विभिन्‍न स्‍तरों पर योग पेशेवरों की दक्षता का आकलन एवं प्रमाणीकरण के लिए मानकों एवं मानदंडों को निर्धारित करता है तथा परीक्षाएं आयोजित करता है –
पहला स्‍तर (योग प्रोटोकॉल प्रशिक्षक)- आईडीवाई स्तर के सामान्य योग प्रोटोकॉल पढ़ाने के लिए योग प्रशिक्षक। ऐसे योग प्रमाणित पेशेवर पार्कों, सोसायटी एवं अन्‍य जगहों पर आयोजित योग कक्षाओं के लिए प्रशिक्षक हो सकते हैं ताकि स्वस्थ जीवन के लिए योगाभ्‍यास संबंधी लोगों की जरूरतें पूरी हो सके।
o दूसरा स्‍तर (योग वेलनेस प्रशिक्षक)- बीमारी की रोकथाम के लिए योग सिखाने और स्कूलों (प्राथमिक एवं माध्यमिक)/ योग केंद्रों/ संस्‍थानों में वेलनेस सुनिश्चित करने के लिए योग प्रशिक्षक।
o तीसरा स्‍तर (योग शिक्षक एवं मूल्‍यांकनकर्ता) – योग में शैक्षणिक पाठयक्रमों एवं प्रशिक्षण कार्यक्रमों में मास्‍टर प्रशिक्षक के तौर पर कार्य करना। वे मूल्‍यांकनकर्ता और योग पेशेवरों के आकलनकर्ता के तौर पर भी काम कर सकते हैं। कॉलेजों/ विश्वविद्यालयों/ उच्च शिक्षण संस्थानों में पढ़ा भी सकते हैं।
हमारे अनन्ता योग एवं आयुर्वेद अनुसंधान संस्थान में उपरोक्त सभी लेवल की परीक्षाओं का प्रशिक्षण तथा परीक्षाओं का आयोजन भी किया जाता है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button