उत्तर प्रदेशउत्तराखंडराज्यस्थानीय खबरें

गोण्डा 18 फरवरी*यूपीआजतक न्यूज़ से गोण्डा की प्रमुख खबरे

[18/02, 5:02 PM] +91 88586 08720: गोंडा 18.02.2021

👉 *खाद्य एवं सुरक्षा विभाग ने लगाया कैंप, दी गई जानकारी*

गुरुवार को खाद्य विभाग व अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के संयुक्त प्रयास से लाइसेंस व समस्या निवारण के लिए कैंप पंजीकरण एवं लाइसेंस बनवाने हेतु नवीन सब्जी मंडी उतरौला रोड गोंडा* में कैंप का आयोजन किया गया जिसमें फुटकर ठेला ,फल सब्जी, थोक व फुटकर व्यापार करने वाले 125 व्यापारियों का लाइसेंस हेतु आवेदन की प्रक्रिया पूरी की गई।
इस दौरान जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी विनय सहाय, मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी हितेंद्र मोहन त्रिपाठी, राजेश कुमार, जयप्रकाश, हीरालाल आदि धिकारीगण मौजूद रहे। रजिस्ट्रेशन के दौरान अधिकरियों द्वारा खाद्य सुरक्षा से जुड़े विषयों की जानकारियां दी गई। कैम्प में जिला प्रभारी जगदीश रायतानी,जिला महामंत्री हामिद अली राइनी ,नगर अध्यक्ष भूपेंद्र प्रकाश आर्य व मंडल प्रभारी राहत अली रायनी सभी पदाधिकारियों व अधिकारियों का अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल की ओर से व्यक्त कर धन्यवाद ज्ञापित किया ।
[18/02, 5:02 PM] +91 88586 08720: गोण्डा-दिनांकः 18.02.2021

👉 *त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन में आरक्षण को लेकर दो दिवसीय प्रशिक्षण  शुरू*

त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन- 2021 में ग्राम प्रधान, बीडीसी, ग्राम पंचायत सदस्य व जिला पंचायत सदस्य पदों के आरक्षण को लेकर नोडल अधिकारियों, खण्ड विकास अधिकारियों तथा एडीओ पंचायतों का दो दिवसीय प्रशिक्षण गुरूवार को जिला पंचायत सभागार में प्रारम्भ हुआ।
प्रशिक्षण कार्यक्रम मेें जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही द्वारा समस्त संबंधित अधिकारियों को त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन हेतु स्थान व पद के आरक्षण के संबंध में शासनादेश को अच्छे से पढ़ कर दिए गए दिशानिर्देश का अनुपालन करते हुए आरक्षण सूची तैयार किए जाने की कार्यवाही किए जाने का निर्देश दिया गया। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के उपरान्त सभी नोडल अधिकारियों से इस बता का शपथपत्र लिाय जाएगा कि उनके द्वारा आरक्षण सूची तैयार करने में नियमों का निष्पक्ष ढंग से शत-प्रतिशत पालन किया गया है। उन्होंने यह भी चेतावनी दी कि यदि आरक्षण सूची तैयार करने में किसी भी स्तर पर गड़बड़ी की शिकायत की पुष्टि पाई जाती हे तो सम्बन्धित नोडल अधिकारी, बीडीओ तथा एडीओ पंचायत की जिम्मेदारी तय की जाएगी और कठोर कार्यवाही होगी। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग की मंशानुसार निर्भीक, स्वतंत्र व निष्पक्ष निर्वाचन कराना उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है, और इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।
पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने कहा कि आरक्षण सूची तैयार करते समय नियमों का विचलन कतई न होने पावे जिससे पंचायत  निर्वाचन पूरी पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराया जा सके।
इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी, डीडी पंचायत एसएन सिंह, डीपीआरओ सभाजीत पाण्डेय, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, सभी नोडल  अधिकारीगण, समस्त खंड विकास अधिकारी व एडीओ पंचायत उपस्थित रहे।
[18/02, 5:02 PM] +91 88586 08720: गोण्डा-दिनांकः 18.02.2021

👉 *डीएम ने आजीविका मिशन की एक दिवसीय कार्यशाला का किया शुभारम्भ*

दीन दयाल अन्त्योदय राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत विकास भवन सभागार में जिला मिशन प्रबन्धक तथा ब्लाक मिशन प्रबंधकों व सहायक विकास अधिकारियों (आईएसबी) की एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ डीएम मार्कण्डेय शाही व मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया।
ग्राम्य विकास विभाग द्वारा दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत आयोजित कार्यशाला में डीएम मार्कण्डेय शाही ने कहा कि दीन दयाल अन्त्योदय राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन का उद्देश्य कौशल विकास और अन्य उपायों के माध्यम से आजीविका के अवसरों में वृद्धि कर शहरी और ग्रामीण गरीबी को कम करना है तथा स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसरों को विकसित कर लोगों के जीवन में परिवर्तन लाना है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार ने इस योजना के लिए करोड़ों रुपये का प्रावधान किया गया है।
जिलाधिकारी ने कहा कि दीन दयाल अन्त्योदय राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में सिंचाई, लघु सिंचाई, कृषि, मनरेगा तथा अन्य कई विभागों का कन्वर्जेन्स किया जा सकता है। आजीविका मिशन के तहत बिहार राज्य द्वारा उत्कृष्ट कार्य किए जाने का उदाहरण देते हुए आवहवान किया कि स्वयं के बल पर आजीविका के क्षेत्र में अच्छे कार्य करने वाले लोगों को ऐसी कार्यशाला में बुलाया जाय तथा उनके द्वारा किए गए प्रयासों के बारे उन्हीं से सुना जाय और उस पर जरूरी अमल किया जाय। उन्होंने कहा कि आजीविका मिशन एक टर्निंग प्वाइन्ट हो सकता है, यदि इस पर अच्छे ढंग से काम किया जाय तो निश्चित ही रोजगार के मामले में जिले की सूरत बदलेगी। उन्होंने कहा कि मुख्य विकास अधिकारी द्वारा आजीविका मिशन के क्षेत्र में जनपद में तेजी से बेहतरीन काम किए जा रहे हैं, जिसका लाभ आने वाले दिनों में जिले के युवकों को मिलेगा।
उन्होंने बताया कि कौशल विकास मिशन तथा आरसेटी के माध्यम से क्रेडिट की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने नवचयनित 40 ब्लाक मिशन प्रबन्धकों से कहा कि वे मिशन के उद्देश्यों के बारे में कार्यशाला में ठीक प्रकार से जानकारी हासिल करें तथा उसे प्रभावी ढंग से लागू करें जिससे इसका लाभ जिले की जनता को मिल सके।
कार्यशाला के शुभारम्भ के अवसर पर सीडीओ शशाांक त्रिपाठी, पीडी सेवाराम चाौधरी, डीडीओ रजत यादव, डीसी एनआरएलएम दिनकर विद्यार्थी, डीसी मनरेगा हरिश्चन्द्र प्रजापति सहित सभी एडीओ आईएसबी, जिला मिशन प्रबन्धक आजीविका मिशन तथा ब्लाकों के मिशन प्रबन्धकगण उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button