UncategorizedWorldउत्तर प्रदेशउत्तराखंडराज्यराष्ट्रीयस्थानीय खबरें

अयोध्या 18 फरवरी *दबिश देने गए पुलिसकर्मियों की टीम पर हमला,कई पुलिसकर्मी घायल*

अयोध्या 18 फरवरी *दबिश देने गए पुलिसकर्मियों की टीम पर हमला,कई पुलिसकर्मी घायल*

उत्तर प्रदेश में सख्त कार्रवाई के बाद भी पुलिस टीम पर होने वाले हमले का सिलसिला रूक नही रहा है।प्रतापगढ़ के बाद अब ताजा मामला राजधानी लखनऊ का है।दबिश देने गई पुलिसकर्मियों की टीम पर हमला हुआ है।एससी-एसटी एक्ट के आरोपी दो वारंटी भाइयों को गिरफ्तार करने के लिए गई हुई पुलिसकर्मियों की टीम पर आरोपी के घर वाले और मोहल्ले वालों ने हमला बोल दिया।उपनिरीक्षकों को लोगों ने बंधक बना लिया था। कई पुलिसकर्मियों को मारपीट में चोट भी आई है।
लखनऊ के उमरावल गांव के निवासी रजनीश मौर्या उर्फ कृष्णा और उसके भाई अंकित के खिलाफ वर्ष 2014 में एससी-एसटी एक्ट सहित अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत हुआ था।काफी दिनों से ये लोग पेशी पर नही जा रहे थे और पेशी की तारीख निकल रही थी। न्यायालय ने इनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया हुआ था।न्यायालय के आदेश का पालन करते हुए माल थाने के उपनिरीक्षक प्रेम चंद्र यादव, उपनिरीक्षक नीरज, सिपाही उमेश, विवेक और अजय यादव आरोपी के घर दबिश देने गए हुए थे।पुलिसकर्मियों की टीम रजनीश मौर्या और उनके भाई को गिरफ्तार करने के लिए दबिश देने के लिए दाखिल हो ही रही थी कि तभी अचानक उसके परिजनों और मोहल्ले वालों ने लाठी डंडों के साथ पुलिसकर्मियों की टीम को घेर लिया। पुलिसकर्मियों की टीम पर परिजनों ने पहले लाठी डंडे से हमला बोला फिर पथराव कर दिया। हमलावरों ने उपनिरीक्षक प्रेम चंद्र यादव और नीरज को बंधक बना लिया।
पुलिसकर्मियों की टीम पर हमले की सूचना मिलने पर पुलिस अधिकारियों में हडकंप मच गया।थाना प्रभारी माल राम सिंह, एसएसपी ग्रामीण सहित भारी पुलिस बल लेकर तुरंत मौके पर पहुंचे। पुलिस ने बंधक बनाए गए उपनिरीक्षको को छुड़ाया और तीन हमलावरों को गिरफ्तार किया और अन्य आरोपियों की धरपकड़ के लिए तलाश शुरू कर दी। इस हमले में उपनिरीक्षक सहित कई पुलिस कर्मी घायल हुए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button