Uncategorized

कौशाम्बी 13 फरवरी*यूपीआजतक न्यूज़ से खास खबरें

[13/02, 1:51 PM] +91 94152 54415: कौशांबी ।

कोसम इमाम गांव के लेखपाल कमलेश के खिलाफ लोगों ने उठाई कार्रवाई की मांग ।
👉 गांव में पैसा लेकर फैला कर रखा है झगड़ा फसाद
👉 सरकारी जमीनों को करा दिया है लोगों को कब्जा
👉 अवैध कमाई कर रातो रात करोड़पति बनना चाहता है लेखपाल कमलेश …

लेखपाल की मनमानी से क्षेत्रीय लोग परेशान । पैसा लेकर दूसरे की जमीन कराना और तालाबी नंबर एवं सरकारी भूमि पर कब्जा कराना है सिर्फ काम । हल्का क्षेत्र मे फैला रखा है तमाम लोगों से विवाद । आए दिन हो रहा है क्षेत्र में झगड़ा फसाद । कई बार पैसा लेने के मामले में लेखपाल के खिलाफ हुई है शिकायत लेकिन नहीं हुई आज तक कोई कार्यवाही । लेखपाल कमलेश का है अजब कारनामा । कोसम इमाम आदि गांव में फैला रखा है विवाद । अभी हाल ही में कुछ दिनों पहले पैसा लेकर करवा रहा था दूसरे को हकीमपुर मे पट्टा की जमीन पर कब्जा । क्षेत्रीय लोगों ने लेखपाल कमलेश के कारनामों को जांच करा कर हटवाने की उठाई मांग ।

[13/02, 4:28 PM] +91 97942 29955: *👉शासन द्वारा सील ताले को दबंगों ने तोड़ा हुआ मुकदमा*

*👉धारा 146 की कार्रवाई करते हुए मजिस्ट्रेट ने सील किया था विवादित भवन*

*👉पीड़ित की शिकायत पर दर्ज किया पुलिस ने मामला*

*👉कौशाम्बी।* मजिस्ट्रेट के द्वारा नियमानुसार विवादित भवन को सील कर दिया गया था। जिससे विवाद न पड़ने पाए लेकिन 9 फरवरी को मनगढ़ दबंगों ने न्यायालय के आदेश की धज्जियां उड़ाते हुए खुद मौके पर पहुंचकर ताले को तोड़ दिया। जब इसकी जानकारी दूसरे पक्ष को हुई तो इसने इसने इस मामले की शिकायत स्थानीय थाना पुलिस से किया जिस पर पुलिस ने मामले को दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मामले की शिकायत करते हुए पीड़ित आवश्क अली ने अपने प्रार्थना पत्र में बताया कि मूरतगंज बजहा के सामने हैं। जिसे उसने पहले अपने मकान को प्रतिभा कुशवाहा के नाम से बेच दिया था। इसी जमीन पर विवाद के चलते भवन पर मजिस्ट्रेट ने ताला लगा दिया था। लेकिन 9 फरवरी को दबंगों ने खुद मौके पर पहुंचकर नियमों और कानून की धज्जियां उड़ाते हुए इस सील लगे ताले को तोड़ दिया। मामले में पीड़िता ने बताया कि इस मामले में न्यायालय अपर सत्र न्यायाधीश के यहां से 27 जनवरी को एक आदेश जारी हुआ था, जिसमें न्यायालय ने निचली अदालत को मामले में कार्रवाई करने के लिए आदेश जारी किया गया था। लेकिन विपक्षी दबंगों ने सील बंद ताले को तोड़ दिया। पीड़ित अवस कली के प्रार्थना पत्र पर थाना कोखराज ने मुकदमा अपराध संख्या सुभाष चंद्र, रूपचंद्र, शीलू, नीलू, शांति देवी आदि के नाम विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर जांच शुरू कर दी है। वही मुकदमा पंजीकृत होने के बाद से ही दबंग अब पीड़ितों पर मामले की सुलह होने के लिए दबाव लगा रहा है जिससे पीड़ित अब अधिकारियों के चौखट पर न्याय की गुहार लगाते फिर रहे हैं।

 

*👉दबंगों के खिलाफ केस दर्ज*
*👉कौशाम्बी*। चायल तहसील के सिंकन्दरपुर बजहा गांव में अवशनकली से दो साल पहले पहले प्रतिभा कुशवाहा ने मकान खरीदा था। जिस पर विवाद हुआ और मामला कोर्ट में लंबित चल रहा है उसके बाद भी विपक्षी सुभाष ने जबरन मकान का तालतोड़ दिया। जिसकी शिकायत पुलिस से की गई। पुलिस ने मामले में उसी गांव के सुभाष चन्द्र,शांति देवी,रूपचंद्र,नीलू,पीलू व उषा के खिलाफ 188,448,504 व 506 की धारा में केस दर्ज किया है।

[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: प्रयागराज

– आर्मी के हवलदार की ईट पत्थर से हमला कर उतारा मौत के घाट
– फौजी की बॉडी नीमसराय गयासुद्दीनपुर मैदान में उसी के कार पीछे सीट पर पड़ी मिली
– मौके पर पहुंची पुलिस ने बॉडी को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा
– पुलिस ने मृतक आशुतोष सिंह के पिता अशोक सिंह के तहरीर पर दर्ज किया मुकदमा
– मृतक फौजी उधमपुर में हवलदार पद पर तैनात था
– दो महीने पहले छुट्टी पर महेंद्र नगर ट्रांसपोर्ट नगर स्थित आया था घर
– मृतक के परिजनों ने कंधईपुर की रहने वाली एक लड़की पर साजिश के तहत हत्या का लगाया आरोप
[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: बाहुबली अतीक अहमद के बेटे उमर पर कसा शिकंजा, सीबीआई कोर्ट ने जारी किया गिरफ्तारी वारंट

लखनऊ : सीबीआई के विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट सुब्रत पाठक ने राजधानी के एक प्रापर्टी डीलर को अगवा कर देवरिया जेल में मारने-पीटने व उससे जबरिया रंगदारी वसूलने के एक मामले में पूर्व सांसद अतीक अहमद के पुत्र मो. उमर के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। साथ ही इस मामले में मो. उमर, नीतेश मिश्रा, महेंद्र कुमार सिंह व योगेश कुमार के खिलाफ दाखिल आरोप पत्र पर संज्ञान लेते हुए मामले की अगली सुनवाई 23 फरवरी को नियत की है।

सीबीआई ने अभियुक्तों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 149, 329, 364ए, 386, 394, 411, 420, 467, 468, 471, 506 व 120बी में आरोप पत्र दाखिल किया है। सीबीआई के सब इंसपेक्टर व विवेचक नीरज कुमार वर्मा ने 21 पन्नों के पूरक आरोप पत्र में 19 गवाह व 47 दस्तावेजी साक्ष्य पेश किए गए हैं।

थाना कृष्णानगर से संबधित इस मामले की विवेचना पहले स्थानीय पुलिस कर रही थी। विवेचना के दौरान पुलिस ने अतीक अहमद समेत आठ अभियुक्तों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था। 23 अप्रैल, 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने एक आदेश पारित कर इस मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी। 12 जून, 2019 को सीबीआई ने इस मामले में अतीक अहमद, फारुख, जकी अहमद, मो. उमर, जफर उल्लाह, गुलाम सरवर व 12 अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरु की। सीबीआई की विवेचना अभी प्रचलित है।

यह है मामला :

29 दिसंबर, 2018 को रियल स्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल ने इस मामले की एफआईआर दर्ज कराई थी। जिसके मुताबिक देवरिया जेल में निरुद्ध अतीक ने अपने गुर्गो के जरिए गोमतीनगर आफिस से उसका अपहरण करा लिया। तंमचे के बल पर उसे देवरिया जेल ले जाया गया। अतीक ने उसे एक सादे स्टाम्प पेपर पर दस्तखत करने को कहा। उसने इंकार कर दिया। इस पर अतीक ने अपने बेटे उमर तथा गुर्गे गुरफान, फारुख, गुलाम व इरफान के साथ मिलकर उसे तंमचे व लोहे की राड से बेतहाशा पीटा। उसके बेसुध होते ही स्टाम्प पेपर पर दस्तखत बनवा लिया और करीब 45 करोड़ की सम्पति अपने नाम करा ली। साथ ही जानमाल की धमकी भी दी। अतीक के गुर्गो ने उसकी एसयूवी गाड़ी भी लूट ली।
[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: उत्तर प्रदेश : घर में या सार्वजनिक स्थल पर सांप या वन्यजीव दिखने पर अब परेशान होने की जरूरत नहीं। वन विभाग के टोल फ्री नंबर 1926 पर कॉल करिए, जरूरी उपकरणों से लैस वनकर्मी मौके पर पहुंच तुरंत कार्रवाई करेंगे।
[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: क्या है रिंकू शर्मा की हत्या की असली वजह? अब दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच करेगी जांच

दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में कथित तौर पर जन्मदिन की पार्टी के दौरान हुए झगड़े के बाद 25 वर्षीय BJP कार्यकर्ता रिंकू शर्मा हत्या मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। रिंकू शर्मा की बुधवार 10 फरवरी को चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी।
रिंकू के परिवार का आरोप है कि राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा एकत्र करने के अभियान में सक्रिय रहने के चलते रिंकू की हत्या की गई है। हालांकि, हत्याकांड को लेकर पुलिस ने किसी भी सांप्रदायिक एंगल से इनकार किया है।

पुलिस का कहना है कि मृतक और आरोपी एक ही इलाके के रहने वाले हैं और एक दूसरे को अच्छी तरह जानते हैं। बुधवार रात जन्मदिन की पार्टी में किसी कारोबारी रंजिश के चलते झगड़ा हुआ था।

पुलिस के मुताबिक, हत्या के मामले में पुलिस ने पांचवें आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान ताजुद्दीन (29) के रूप में हुई है जोकि पहले होम गार्ड के तौर पर कार्य करता था। इससे पहले पुलिस ने गुरुवार को चार अन्य आरोपियों जाहिद, मेहताब, दानिश और इस्लाम को गिरफ्तार कर लिया गया था। पुलिस ने कहा कि घटना की सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रहा है कि आरोपी पीड़ित के घर की तरफ लाठी-डंडे लेकर जा रहे हैं।

रिंकू शर्मा एक निजी अस्पताल में लैब टेक्निशियन के तौर पर कार्यरत था। घटना के बाद से ही इलाके में भारी तनाव बना हुआ और किसी भी अप्रिय घटना से बचाव के लिए पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।

दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी (PRO) चिन्मय बिस्वाल ने कहा कि 10 फरवरी को एक इलाके के कुछ युवक जन्मदिन की पार्टी मनाने एक रेस्टोरेंट में एकत्रित हुए थे। पार्टी के दौरान एक रेस्टोरेंट को बंद किए जाने को लेकर उनमें झगड़ा हुआ था। यह एक पुराना कारोबारी मसला था। झगड़ा होने के बाद सभी अपने घरों को लौट गए। बिस्वाल ने कहा कि बाद में कुछ युवक रिंकू शर्मा के घर पहुंचे और उसे चाकू मारकर घायल कर दिया। रिंकू को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। बिस्वाल ने सांप्रदायिक एंगल के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि अब तक की जांच में जन्मदिन की पार्टी में झगड़े के बाद यह घटना होने की बात सामने आई है।
[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: प्रयागराज

प्रयागराज इलेक्ट्रॉनिक मीडिया वेलफेयर क्लब के पदाधिकारियों का हुआ सम्मान,

इलाहाबाद हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के माघ मेले स्थित कैम्प में आयोजित हुआ सम्मान समारोह,

हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरेन्द्र नाथ सिंह ने किया सम्मान,

क्लब के अध्यक्ष आलोक सिंह ,वरिष्ठ उपाध्यक्ष आकिब रजा,सचिव नितिंन गुप्ता,संयुक्त सचिव पंकज चौधरीं,शिवेन्द्र विक्रम,आडिटर राजीव खरे का किया माल्यार्पण,

[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: *UP में अब इंटरनेट पर अश्लीलता खोजी तो आएगा अलर्ट मैसेज, फिर सर्च करने वालों पर होगी कार्रवाई*

अगर आपने इंटरनेट पर अश्लील साइट देखने के बाद गंदी हरकत की तो अब खैर नहीं. इसके लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की 1090 सेवा ने नई योजना बनाई है. इंटरनेट पर अश्लीलता देखने वालों पर अब 1090 की एक टीम नजर रखेगी. ऐसा करना वालों को सचेत किया जाएगा. यह सारी जानकारी पुलिस के पास दर्ज भी हो जाएगी. भविष्य में यदि उस इलके में छेड़खानी या दुष्कर्म जैसी वारदात होती है तो वही डेटा काम आएगा और अपराधी पकड़ लिया जाएगा.

एडीजी नीरा रावत ने बताया कि इंटरनेट के बढ़ते हुए प्रयोग को देखते हुए 1090 ने भी लोगों तक पहुंचने के लिए इसी माध्यम का प्रयोग किया. एडीजी के मुताबिक इंटरनेट के एनालिटिक्स को स्टडी करने के लिए oomuph नाम की एक कंपनी से रखा गया है. वो डेटा के माध्यम इंटरनेट क्या सर्च किया जा रहा है इस पर नजर रखेगी. अगर कोई व्यक्ति इंटरनेट पर अश्लीलता देखते है तो उसके संकेत एनालिटिक्स टीम को मिल जाएंगे.

टीम उसके बारे में 1090 टीम को बता देगी. 1090 की टीम उस व्यक्ति को ऐसी सामग्री से सचेत रहने के लिए जागरूकता के मेसेज भेजेगी. ऐसा करने से अपराध की शुरुआत पर ही रोक लगाई जा सकेगी. यदि फिर भी महिलाओं से छेड़छाड़ की तो 1090 कार्रवाई करेगा. नीरा रावत ने बताया कि पायलेट प्रोजेक्ट के तहत सूबे के छह जिलों में यह व्यवस्था शुरू कराई गई थी, जिसमें काफी अच्छा रिस्पांस आया है.
[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: *रेप पीड़ित की बांह पर टैटू देखा और HC ने आरोपी दे दी को जमानत*

दिल्ली हाईकोर्ट ने एक महिला के साथ बलात्कार के आरोपी को केवल इस आधार पर जमानत दे दी कि उसका नाम महिला के हाथ पर गुदा हुआ था. हाईकोर्ट ने फैसला देते हुए कहा कि दूसरी तरफ से प्रतिरोध होने पर इस तरह टैटू बनवाना आसान नहीं है. जबकि कोर्ट में महिला ने आरोप लगाया था कि रेप के आरोपी ने जबरन उसका नाम महिला की बांह पर गोद दिया था.

हाईकोर्ट ने इस पर कहा कि ऐसे टैटू बनवाना आसान काम नहीं है. जस्टिस रजनीश भटनागर ने फैसले में कहा मेरी राय में टैटू बनाना एक कला है और उसी के लिए एक विशेष मशीन की आवश्यकता होती है. इसके अलावा, इस तरह के टैटू बनाना भी आसान नहीं होता है, जो शिकायतकर्ता की हाथ पर है. दिल्ली हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि यह हर किसी का काम नहीं है और यह अभियोजन पक्ष का भी नहीं है. याचिकाकर्ता का टैटू व्यवसाय से कोई लेना-देना है या नहीं.

महिला ने आरोप लगाया कि आरोपी ने उसे धमकी देकर और ब्लैकमेल कर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर किया. उन्होंने कहा कि शारीरिक संबंध 2016 से 2019 तक जारी रहे. आरोपी ने कहा कि शिकायतकर्ता जो शादीशुदा थी, उसे प्यार करती थी और दावा करती थी कि वे एक रिश्ते में थे. उन्होंने कहा कि FIR तभी दर्ज की गई थी, जब वह संबंधों को पुरुष के साथ अपने संबंधों को बनाए रखने में विफल रही थी. अपना पक्ष रखते हुए उन्होंने कोर्ट में महिला की बांह पर टैटू की तस्वीरें भी दिखाईं और कहा कि महिला ने उनके साथ सेल्फी क्लिक की कई इवेंट्स का हिस्सा रही. हमारी दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी, मैंने उन्हें फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी.
[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: *ब्रिटेन में खालसा टीवी पर लगा ₹50 लाख का जुर्माना, हिंसा और आतंक के लिए उकसाने का आरोप*

ब्रिटेन में एक मीडिया निगरानी संस्था ने खालसा टीवी पर देश के सिख समुदाय को हिंसा और आतंकवाद के लिए परोक्ष रूप से उकसाने के मकसद से एक संगीत वीडियो और एक परिचर्चा कार्यक्रम प्रसारित करने के मामले में कुल 50,000 पौंड यानि 50,24,022 रुपए का जुर्माना लगाया है. ब्रिटेन सरकार द्वारा स्वीकृत मीडिया नियामक प्राधिकरण संचार कार्यालय ने इस संबंध में आदेश जारी किया, जो फरवरी और नवंबर 2019 की जांच के परिणाम पर आधारित है.

अपने आदेश में संचार कार्यालय ने कहा कि केटीवी उसकी जांच को लेकर कार्यालय का बयान प्रसारित करे और इस तरह के संगीत वीडियो या परिचर्चा कार्यक्रम का प्रसारण फिर न करे. संचार कार्यालय ने आदेश में कहा, ऑफकॉम ने हमारे नियमों का पालन करने में विफल रहने पर खालसा टेलीविजन लिमिटेड पर 20,000 पौंड और 30,000 पौंड का अर्थ दंड लगाया है. केटीवी पर 20,000 पौंड का जुर्माना संगीत वीडियो से संबंधित है और 30,000 पौंड का अर्थ दंड परिचर्चा कार्यक्रम को लेकर है.

वर्ष 2018 में 4, 7 और 9 जुलाई को केटीवी ने बग्गा एंड शेरा गाने के लिए एक संगीत वीडियो प्रसारित किया था. अपनी जांच के बाद संचार कार्यालय ने पाया कि संगीत वीडियो ब्रिटेन में रहने वाले सिखों से हत्या समेत हिंसा करने का परोक्ष आह्वान कर रहा है. संचार कार्यालय ने पाया है कि टीवी पर परोसी जा रही सामग्री से दर्शकों को प्रभावित करने की कोशिश की जा रही थी, जो प्रसारण नियमों का उल्लंघन है. परिचर्चा कार्यक्रम 30 मार्च 2019 को पंथक मसले के तौर पर प्रसारित हुआ था.
[13/02, 9:23 PM] +91 99191 60604: *भूमिहीन होने के कारण मिला था पट्टा कुछ लोगो ने कर लिया अपने नाम*

*कौशाम्बी* चायल तहसील क्षेत्र के शेखपुर रसूलपुर गांव के निवासी रुक्मिणी देवी पत्नी तुलसी ने बताया कि भूमिहीन होने के कारण उसके पति के नाम पर पट्टा मिला था लेकिन कुछ लोगो ने उसके पति को जो पट्टा के जमीन मिली थी उसको मंजू देवी पत्नी दूधनाथ के हाथ वह जमीन बेच दिया है लेकिन श्रेणी दो होने के कारण विकृत जमीन की दाखिल खारिज नहीं हो रही थीं तभी और गांव के दो दंबगों के बहलाने फुसलाने में आकर तुलसी ने बिना किसी से बताए 29 दिसंम्बर को वाराणसी की मंजू देवी पत्नी दूधनाथ के हाथ वह जमीन बेच दिया है और बेची जमीन को दाखिल खारिज नही हो रही हैं। आरोप हैं।कि दोनों दबगो ने चार फरवरी को तुलसी के घर जाकर और तुलसी को बुलाया और तुलसी ने उनके बुलाने से वह दंबगों के पास चल गया है और उसी दिन से रुक्मिणी देवी के पति गायब हो गया है जब रुक्मिणी ने दंबगों के घर जाकर पूछताछ की इससे नाराज होकर दबगो ने महिला के साथ अभद्रता किया है और जान से मारने की धमकी देकर भाग दिया है पीड़ित ने चरवा जाकर थाने में तहरीर दिया है

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button