World

अयोध्या 10 फरवरी ब्रेकिंग न्यूज़ upaajtak से

[2/10, 11:24 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट*

*ऑन लाइन कराने के 4 माह बाद भी नहीं हो सकी धान क्रय हेतु तौल*

*पीड़ित ने लगाया भ्रष्टाचार का आरोप*

भेलसर(अयोध्या)रुदौली क्षेत्र में सरकार के धान तौल में सीधे किसानों से धान क्रय करने के दावे खोखले साबित हो रहे हैं।केन्द्र प्रभारी व सम्बन्धित बाबू किसानों से बिना धन उगाही के धान क्रय हेतु तौल नही करते हैं।धन उगाही न होने पर किसानों को अपना धान बिचौलियों और प्राइवेट राइस मिल पर विक्रय के लिए प्रेरित करते हैं।
क्षेत्र के ग्राम सभा जखौली परगना व तहसील रूदौली निवासी अब्दुल वाहिद व ग़ुलाम मेहँदी व क़स्बा रुदौली निवासी सैय्यदा खातून ने आन लाइन शिकायती पत्र के माध्यम से आरोप लगाते हुए कहा है कि उसके द्वारा अपना धान तौल कराने हेतु 30 अक्तूबर 2020 को आन लाइन आवेदन किया था जिसकी किसान पंजीयन आई0डी0 1770063424 व 1770063446 व 1770103403 है।आन लाइन आवेदन के बाद जब निर्धारित समय पर धान तौल के लिए धान तौल केन्द्र बरौली पर सम्पर्क किया गया तो वहाॅं के प्रभारी ने बताया कि पहले दस हजार रूपये दो या सत्यापन कराके लाओ तो तौल होगी।पीड़ित ने बताया कि उनके द्वारा उपजिलाधिकारी रूदौली से 30 दिसंबर 2020 को सत्यापन कराके उक्त तौल केन्द्र पर गए तो वहाॅं बताया गया कि किसी राइस मिल पर तौल कराओं या तौल केन्द्र पटरंगा जाओं वरना बहुत खर्चे मे पड़ जाओगें।पीड़ित ने बताया कि वे जब धान तौल केन्द्र पटरंगा पर गए तो वहाॅं भी हीवा व हवाली कर टालते है अब कह रहे है कि जाकर किसी प्राइवेट राइस मिल पर तौल कराओं।इस प्रकार पीड़ित अब तक अपना धान तौल के लिए प्रतिदिन धान तौल केन्द्र के चक्कर लगा रहे है परन्तु उनका धान क्रय के लिए तौल नही हो सका।पीड़ित ने ऑन लाइन शिकायत के माध्यम से धान क्रय हेतु तौल कराने के लिए सम्बन्धित धान तौल केन्द्र के प्रभारी को निर्देशित करने व दोषी कर्मचारियों के विरूद्व आवश्यक कार्यवाही की मांग की है।
[2/10, 11:24 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट व जगदम्बा श्रीवास्तव की रिपोर्ट*

*संक्रमणीय भूमि पर दबंग कर रहे कब्जा*

*पीड़ित ने एसडीएम से को दिया शिकायती पत्र*

भेलसर(अयोध्या)रुदौली तहसील के ग्राम सुल्तानपुर की गाटा संख्या 1166 रकबा 0.202 हेक्टेयर भूमि के संक्रमणीय खातेदार राजेश कुमार पुत्र बलदेव निवासी कायस्थथाना रुदौली ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर व उपजिलाधिकारी रुदौली से शिकायत की ह कि मैं उक्त भूमिका का संक्रमणीय भूमिधर हूं फिर भी गांव के निवासी सज्जाद पुत्र जमील मेरी भूमि पर जबरन कब्जा कर अवैध निर्माण करा रहे हैं जब मैंने मना किया तो वह फौजदारी अमादा हो गए हो गए हो गए।उस भूमिका का वाद धारा 24 के अंतर्गत न्यायालय उप जिलाधिकारी रुदौली के यहां चल रहा है।उपजिलाधिकारी रुदौली बिपिन कुमार सिंह ने बतायाकि मामला संज्ञान में आया है निस्तारण के लिए राजस्व निरीक्षक व पटरंगा पुलिस को आदेशित किया गया है।
[2/10, 11:24 AM] +91 94155 29848: *अब्दुल जब्बार एडवोकेट*

*रौज़ागाँव चीनी मिल द्वारा 12.80 करोड़ का किया गया गन्ना मूल्य भुगतान*

भेलसर(अयोध्या)बलरामपुर चीनी मिल्स लिमिटेड यूनिट रौजागांव द्वारा वर्तमान पेराई सत्र 2020-21 में 15 जनवरी 2021 तक क्रय किए गए गन्ने का गन्ना मूल्य 12.80 करोड़ रुपए का भुगतान 09 फरवरी को कर दिया गया है तथा किसानों का गन्ना मूल्य किसानों के संबंधित बैंक खाते में भेज दिया गया है।चीनी मिल द्वारा वर्तमान पेराई सत्र में त्वारित गन्ना मूल्य भुगतान की योजना की जा रही है।
चीनी मिल के यूनिट हेड निष्काम गुप्ता ने कृषको से अनुरोध किया है कि जिस क्षेत्र में प्रजाति को. 0238 में रेडरॉट का प्रकोप आ गया है उस क्षेत्र के किसान भाई अपने संबंधित मिल स्टाफ़ से मिल कर गन्ना बीज नर्सरी से को. 0118 गन्ना प्रजाति एवं स्वास्थ्य को. 0238 गन्ना बीज सुरक्षित कराकर बसंत कालीन गन्ना बुवाई के लिए सुनिश्चित करें,साथ ही साथ किसान भाई जिन खेतों में रेडरॉट का प्रकोप है उस खेत में पेड़ी गन्ना न लें तथा उसमें फसल चक्र अपनाएं।साथ ही साथ मिल प्रबंधन द्वारा किसानों की भूमि की उर्वरा शक्ति एवं कार्बनिक पदार्थ की मात्रा बढ़ाने हेतु सड़ी हुई (Decomposed)प्रेसमड की खाद को अनुदानित दर रू 15 प्रति कुन्तल की दर से और कच्ची/ताजी प्रेसमड की खाद को अनुदानित दर रू 05 प्रति कुन्तल की दर से दिये जाने के बारे में बताया गया।इस मौके पर इकबाल सिंह महाप्रबंधक गन्ना ने किसानों से अपील की है कि बसंत कालीन गन्ना बुवाई मे ट्रेंच विधि द्वारा ही गन्ने की बुवाई करें तथा मिल को साफ-सुथरा,जड़,मिट्टी,अगोला,पत्ती व हरा जूना रहित गन्ना ही आपूर्ति करें तथा पर्ची का संदेश(s.m.s.)आने के बाद ही गन्ने की कटाई करें।किसान भाई अधिक से अधिक क्षेत्रफल में 0118 गन्ने की बुवाई करें। किसान भाई ध्यान दे कि बसंत कालीन गन्ना बुवाई हेतु को. 0118 व रोग रहित बीज नर्सरी से को. 0238 का गन्ना बीज अभी अवश्य सुरक्षित कर ले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button