FoodsWorld

आगरा 09 फरवरी*यूपीआजतक न्यूज़ से आगरा की खास खबरें

[09/02, 1:28 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *इतनी सर्दी में कैसे टूटा ग्लेशियर? DRDO जुटा रहा है जानकारी, इसरो से भी मांगी गई मदद*

आखिर इतनी ठंड में उत्तराखंड में ग्लेशियर कैसे टूटा इसे लेकर कई विशेषज्ञ भी हैरान हैं. इस हाड़ कंपा देने वाली ठंड में ग्लेशियर का टूटने को लेकर रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन जानकारी जुटाने में लगा हुआ है. इसरो से भी इसे लेकर जानकारी मांगी गई है. दरअसल, उत्तराखंड के चमोली में आए इस भीषण आपदा में अब तक 26 लोगों की जान जा चुकी है जिनमे से 2 लोगों की पहचान हुई बाकियों की पहचान जारी है. एक टनल में अभी भी कई लोग फंसे हुए हैं.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य के बाढ़ प्रभावित चमोली और आसपास के इलाकों में जारी राहत अभियानों के बीच आज कहा कि पूरी घटना की व्यापक जांच की जा रही है ताकि भविष्य में ऐसी त्रासदियों से बचा जा सके.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने कहा कि इस समय सबसे पहली प्राथमिकता प्रभावित लोगों को भोजन और अन्य सहायता मुहैया कराना है. रावत ने पीटीआई-भाषा को दिये साक्षात्कार में कहा, ऐसा प्रतीत होता है कि घटना ग्लेशियर के टूटने से हुई. मुख्य सचिव को वास्तविक कारणों का पता लगाने का निर्देश दिया गया है. सीएम रावत  ने कहा, डीआरडीओ की एक टीम इस त्रासदी का कारण पता लगाने में जुटी है. हमने इसके लिए इसरो के वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों से भी मदद मांगी है.

रावत ने कहा कि इस घटना के कारणों का पता लगाने के लिए चल रहे व्यापक विश्लेषण के बाद, हम भविष्य में ऐसी किसी भी संभावित त्रासदी से बचने के लिए एक योजना बनाएंगे. राहत कार्यों के बारे में पूछे जाने पर रावत ने कहा कि वे पूरी शिद्दत से चल रहे हैं. उन्होंने कहा, हमने बचाव और राहत अभियान के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किये हैं. साथ ही साथ प्रभावित लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं भी प्रदान की जा रही हैं. सबसे महत्वपूर्ण, हम प्रभावित गांवों के बीच दोबारा संपर्क स्थापित करने का काम कर रहे हैं.
[09/02, 1:28 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *केंद्रीय मंत्री ने किया साफ़, FASTag की अब नहीं बढ़ेगी डेडलाइन*

देश के सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य होने जा रहा है. केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने साफ कर दिया है कि सरकार अब फास्टटैग की डेडलाइन बढ़ाने वाली नहीं है. ऐसे में जिन लोगों ने अभी तक अपने वाहनों पर फास्टैग नहीं लगाया है, वे जल्द से जल्द अपने वाहनों पर फास्टैग लगा ले नहीं तो आने वाले दिनों में उनकी मुश्किल बढ़ने वाली है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार, अभी तक टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य नहीं है. अब 15 फरवरी के बाद से सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य हो जाएगा. ऐसे में यदि कुछ लोग सोच रहे है कि सरकार एक बार फिर फास्टैग की आखिरी तारीख को बढ़ा देगी तो जान लें कि सरकार अब फास्टैग की डेडलाइन को नहीं बढ़ा रही है.

केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्रालय के अनुसार सरकार की फास्टैग से प्रति महीने 2,088.26 करोड़ रुपये की आमदनी होती है. वहीं सरकार टोल प्लाजा पर लेनदेन काे स्पष्ट करने के लिए पूरे देश में 15 फरवरी से फास्टैग अनिवार्य करने जा रही है. आपको बता दें इससे पहले फास्टैग की डेडलाइन 1 जनवरी 2021 थी. जिसे सरकार ने बढ़ा कर 15 फरवरी तक कर दिया था. लेकिन अब केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने साफ कर दिया है कि, अब फास्टैग की डेडलाइन को बढ़ाया नही जाएगा.
[09/02, 1:28 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *BCCI को बड़ी राहत, सरकार ने दी ड्रोन कैमरे से कवरेज की इजाजत*

विमानन क्षेत्र के नियामक डीजीसीए और नागरिक विमानन मंत्रालय ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को इस साल क्रिकेट मैच को मैदान के ऊपर ड्रोन के जरिए फिल्मांकन के लिए लिए सशर्त मंजूरी दे दी है. एक आधिकारिक बयान में आज बताया गया, नागरिक विमानन मंत्रालय को मंजूरी प्रदान करने और सीधे प्रसारण के संबंध में रिमोटली पायलटेड एयरक्राफ्ट सिस्टम के इस्तेमाल के लिए बीसीसीआई और क्विडिक से अनुरोध मिला था.

आधिकारिक बयान के मुताबिक बीसीसीआई और क्विडिक को 31 दिसंबर 2021 तक भारत में क्रिकेट मैचों के फिल्मांकन के लिए विमानन नियम, 1937 के विभिन्न प्रावधानों से सशर्त छूट दी गयी है. नागर विमानन महानिदेशालय और नागरिक विमानन मंत्रालय ने सशर्त अनुमति प्रदान करने के लिए 4 फरवरी को अलग-अलग आदेश जारी किया.
[09/02, 1:28 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *Jio की बादशाहत को चुनौती देने भारत आ रही है दुनिया के सबसे अमीर आदमी की कम्पनी, आम आदमी की आने वाली है मौज*

 

भारतीय टेलिकॉम इंडस्ट्री में तहलका मचने वाला है। इस वक्त देश के सबसे अमीर इंसान मुकेश अंबानी की कंपनी Reliance Jio का दबदबा है। अब दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क (Elon Musk) की कम्पनी टेलिकॉम इंडस्ट्री में दाखिल होने जा रही है। जिससे Reliance Jio को कड़ी टक्कर मिलेगी। दरअसल, Elon Musk की कंपनी स्पेस एक्सप्लोरेशन टेक्नोलॉजीज कॉरपोरेशन (SpaceX) स्टारलिंक प्रोजेक्ट के भारत में आने की उम्मीद है। सेक्टर के विशेषज्ञों का कहना है कि इससे आम आदमी को बड़ा फायदा होगा।

विशेषज्ञों का कहना है कि इससे भारतीय टेलिकॉम इंडस्ट्री में बड़े बदलाव देखे जाएंगे। SpaceX कंपनी भारत में शुरुआती तौर पर 100 Mbps सैटेलाइट बेस्ड इंटरनेट सर्विस के साथ उतरने की कोशिश कर रही है। कंपनी 1 ट्रिलियन डॉलर मार्केट के साथ भारत और चीन जैसे देशों में अपनी सर्विस शुरू कर सकती है। इस सेक्टर पर नजर रखने वाली Analytics India mag वेबसाइट के मुताबिक Elon Musk ने भारत सरकार से सैटेलाइट बेस्ड ब्रॉडबैंड टेक्नोलॉजी को भारत में संचालित करने की इजाजत मांगी है।

*स्टारलिंक हाईस्पीड सैटेलाइट नेटवर्क देगी*

टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI India) ने भारत में ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए पिछले साल अगस्त में एक कंसल्टेशन पेपर जारी किया था। इसके जवाब में SpaceX की सैटेलाइट गवर्नमेंट अफेयर्स पैट्रीशिया कूपर ने कहा कि स्टारलिंक के हाई स्पीड सैटेलाइट नेटवर्क से भारत के सभी लोगों को ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी से जोड़ने के लक्ष्य में मदद मिलेगी।

*दूर-दराज तक फास्ट इंटरनेट सर्विस मिलेगी*

आपको बता दें कि भारत इंटरनेट यूजर का बड़ा मार्केट है। देश में इस वक्त 700 मिलियन इंटरनेट सब्सक्राइबर्स हैं। इनकी संख्या साल 2025 तक बढ़कर 974 मिलियन होने की उम्मीद है। भारत में मौजूदा औसत इंटरनेट स्पीड 12 Mbps है। हालांकि, 5G के आने से भारत में इंटरनेट स्पीड बढ़ने की उम्मीद है। लेकिन गांव और दूर-दराज के इलाकों में फास्ट इंटरनेट सर्विस पहुंचने में वक्त लग सकता है।

*SpaceX स्टारलिंक 150 Mbps स्पीड देगी*

विशेषज्ञों का कहना है कि अगर Elon Musk की कम्पनी SpaceX के स्टारलिंक प्रोजेक्ट को भारत सरकार आने देती है तो से यह काम जल्द पूरा किया जा सकता है। SpaceX स्टारलिंक अपने सब्सक्राइबर्स को 150 Mbps तक की स्पीड मुहैया करवाती है। साथ ही यह सर्विस कम कीमत में उपलब्ध रहेगी। आपको यह भी बता दें कि दूरदराज के इलाकों में फाइबर ऑप्टिक कैबल को बिछाना काफी महंगा पड़ता है। ऐसे में Elon Musk की सैटेलाइट बेस्ड इंटरनेट सर्विस की मदद से इसे सस्ते में और बेहद कम समय में दूर-दराज तक पुहंचाया जा सकता है।

*बंगलुरु में कंपनी ने कॉरपोरेट ऑफिस खोला*

स्पेसएक्स स्टरलिंक ने बेंगलुरु में अपना कॉरपोरेट ऑफिस खोल दिया है। मिली जानकारी के मुताबिक कंपनी का भारत में पंजीकरण भी करवाया जा चुका है। कंपनी ने टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया से लाइसेंस लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। भारत सरकार से देश में कारोबार करने की इजाजत मांगी है। मिली जानकारी के मुताबिक सरकार भारत के दूरदराज के इलाकों और असेवित क्षेत्रों में स्टरलिंक स्पेसएक्स से सेवाएं लेना चाहती है।
[09/02, 1:28 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *अब J&K में भारत का हर नियम कानून होगा मान्य, राज्य पुनर्गठन विधेयक राज्य सभा से पास*

राज्यसभा में आज जम्मू कश्मीर पुनर्गठन (संशोधन) विधेयक को मंजूरी मिल गई. इसके साथ ही जम्मू कश्मीर में हर वो कानून लागू हो गया, जो पूरे देश पर लागू होता है. इस संसोधन विधेयक के तहत अब जम्मू कश्मीर प्रशासनिक सेवा का अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम और केंद्रशासित प्रदेशों के कैडर में विलय कर दिया गया. इसके साथ ही गृह राज्य मंत्री ने ये भी कहा कि अब देश के 170 ऐसे कानून भी जम्मू कश्मीर में लागू हो गए, जो अबतक लागू नहीं होते थे.

जम्मू कश्मीर पुनर्गठन (संशोधन) विधेयक अखिल भारतीय सेवाओं के अधिकारियों के कैडर से संबंधित है. विधेयक के प्रावधानों के अनुसार, मौजूदा जम्मू कश्मीर कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय पुलिस सेवा और भारतीय वन सेवा के अधिकारी अब अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम और केंद्रशासित प्रदेशों के कैडर का हिस्सा होंगे. केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लिए भविष्य के सभी आवंटन अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम और केंद्रशासित प्रदेशों के कैडर से होंगे.

जम्मू कश्मीर पुनर्गठन (संसोधन) विधेयक पर चर्चा के दौरान गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि इस कैडर को अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम, केंद्रशासित प्रदेशों के कैडर में विलय करने की जरूरत है ताकि इस कैडर के अधिकारियों को जम्मू कश्मीर में तैनात किया जा सके. इससे वहां कुछ हद तक अधिकारियों की कमी दूर हो सकेगी.
[09/02, 8:20 AM] +91 97603 95059: ग्रामीण इंडियन न्यूज बिग अपडेट

#Agra-किसान ने खेत पर फांसी लगाकर की आत्महत्या,

आवारा पशुओं ने कल कर दी थी पूरी फसल बर्बाद,

बड़ा नुकसान देखकर किसान ने उठाया आत्मघाती कदम,

आवारा पशुओं से परेशान ग्रामीण कर चुके प्रशासन कई बार शिकायत,

थाना ताजगंज के कुआंखेड़ा के नवलघडी का मामला।
[09/02, 9:17 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *दिनांक- 09- फरवरी- 2021- मंगलवार*

👇

*👉सुबह देश राज्यों से बड़ी खबरें👈*

*===============================*

*1* नई साझेदारी की शुरुआत:PM मोदी ने US प्रेसिडेंट से फोन पर बात की, बाइडेन के शपथ लेने के 19 दिन बाद दोनों में पहली बातचीत
*2* प्रधानमंत्री के न्योते का कितना होगा असर? बातचीत की बढ़ी उम्मीदों के बीच टिकैत बोले- देश भरोसे से नहीं, कानून से चलता है
*3* हमारा आंदोलन चलता रहेगा, जब तक कानून वापस नहीं होगा। कमिटी बात करे, एमएसपी पर कानून बनाए, जेल में बंद हमारे लोगों को को छोड़ा जाएः राकेश टिकैत
*4* हमारे आंदोलन के मंच से कोई वोट की तलाश ना करें, इस आंदोलन से किसी को वोट नहीं मिलेगाः राकेश टिकैत, किसान नेता
*5* चमोली में ग्लोशियर हादसे को लेकर उत्तराखंड सीएम त्रिवेंद्र रावत ने की रिव्यू मीटिंग। रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए राज्य के आपदा राहत कोष से 20 करोड़ रुपये जारी किएः सीएमओ
*6* उत्तराखंड:तपोवन में अभी भी चल रहा है रेस्क्यू ऑपरेशन, मौत की सुरंग से जिंदगी की आखिरी उम्मीद
*7* लोकसभा में गूंजा ग्रेटा थनबर्ग के ट्वीट का मामला, कांग्रेस बोली- 18 साल की लड़की को मान रहे दुश्मन, सचिन-लता को किया जा रहा गुमराह
*8* लद्दाख गतिरोध के बीच बढ़ेगी भारतीय वायुसेना की ताकत, राजनाथ बोले- मार्च तक 17 राफेल और आएंगे
*9* 8 फरवरी तक 60,35,660, लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई गई है। 54,12,270 हेल्थकेयर वर्कर्स और 6,23,390 फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगाई जा चुकी है वैक्सीनः स्वास्थ्य मंत्रालय
*10* अब तक वैक्सीन लगने के बाद 23 लोगों की मौत हुई है। 9 लोगों की अस्पताल में मौत हुई, जबकि 14 मौतें अस्पताल से बाहर हुई हैं। एक 29 साल की लड़की की भी मौत हुई है। हालांकि वैक्सीनेशन के दुष्प्रभाव की वजह से कोई मौत अब तक नहीं हुई हैः स्वास्थ्य मंत्रालय
*11* दिल्ली में सोमवार को कोविड-19 के 125 नए मामले सामने आए, जबकि बीमारी से तीन और मौतें होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 10,882 हो गई
*12* राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण से दो और लोगों की मौत, 101 नये मामले, दुसरी और माहाराष्ट्र में 2,216 नये मरीज, 15 लोगों की मौत
*13* बिहार में नीतीश सरकार का मंत्रिमंडल विस्‍तार आज, शाहनवाज ले सकते हैं मंत्री पद की शपथ
*14* पश्चिम बंगाल: मुख्यमंत्री ममता से मिले टीएमसी छोड़ कर भाजपा का दामन थामने वाले दो विधायक, मुलाकात पर अटकलें तेज
*15* झूमा सेंसेक्स: भारत विश्व के सात सबसे बड़े शेयर बाजार वाले देशों में शुमार

*==============================*
*सोना + ५९९= ४७८५५*
*चांदी + १४३०= ७०१६८*

[09/02, 11:42 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *सरकार का संसद में जवाब- नहीं बदलेगा JNU का नाम*

जवाहर लाल यूनिवर्सिटी अपनी रैंकिंग के साथ-साथ अपने आंदोलनों के लिए चर्चित रहती है. इसके नाम को बदलने की मांग भी एक धड़े द्वारा की जाती रही है. ये भी आशंका जताई जा रही थी कि जेएनयू में स्वामी विवेकानंद प्रतिमा का भव्य अनावरण करने वाली केंद्र सरकार, JNU का नाम बदलकर स्वामी विवेकानंद भी रख सकती है. लेकिन ऐसी किसी भी आशंका को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कुछ समय के लिए शांत कर दिया है.

केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ये क्लियर कर दिया है कि केंद्र सरकार जवाहर लाल यूनिवर्सिटी का नाम बदलने नहीं जा रही है. लोकसभा में जब ये सवाल पूछा गया कि क्या सरकार दिल्ली स्थित JNU विश्वविद्यालय का नाम बदलने जा रही है? तब इसके जवाब में निशंक ने कहा- नो सर.
[09/02, 11:42 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *अप्रैल 2022 तक मिल जाएंगे देश को सभी राफेल*

केंद्र सरकार ने बताया कि अब तक 11 राफेल विमान भारत आ चुके हैं और मार्च तक 17 और ऐसे विमान भारत को मिल जाएंगे. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न का जवाब देते हुए बताया, अब तक 11 राफेल विमान भारत आ चुके हैं तथा मार्च तक 17 और ऐसे विमान भारत को मिल जाएंगे. अप्रैल 2022 तक भारत को पूरे राफेल मिल जाएंगे.

रक्षा मंत्री ने बताया, फ्रांस से राफेल को भारत के सुपुर्द किए जाने के बाद उन्हें वायु सेना में शामिल करने के लिए राष्ट्रीय महत्व का आयोजन किया गया था. पहले भी खरीदे गए विमानों को वायु सेना में शामिल करने के लिए इस तरह के कार्यक्रम हुए हैं लेकिन इस बार यह कार्यक्रम बड़ा था क्योंकि द्विपक्षीय वार्ता भी हुई थी. फ्रांसीसी पक्ष का नेतृत्व वहां के रक्षा मंत्री ने और भारतीय पक्ष का नेतृत्व मैंने किया था.

राजनाथ सिंह ने बताया कि साल 10 सितंबर को 5 राफेल विमानों को भारतीय वायुसेना में शामिल करने के लिए अंबाला वायुसेना स्टेशन में आयोजित कार्यक्रम पर करीब 41 लाख रुपये खर्च हुए थे.
[09/02, 11:42 AM] Harpal Singh Pamar Rajgarh Mp: *सरकार अब राष्‍ट्र विरोधी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए साइबर वॉलंटियर रखने की कर रही तैयारी*

गृह मंत्रालय के साइबर क्राइम सेल अब एक नया कार्यक्रम शुरू कर रहा है. इसके तहत देश के नागरिक इसमें वॉलंटियर के रूप में हिस्‍सा लेकर गैरकानूनी सामग्री को इंटरनेट पर पहचानकर सरकार को उसके बारे में जानकारी दे सकेंगे. इनमें चाइल्‍ड पॉर्नोग्राफी, रेप, आतंकवाद और एंटी नेशनल गतिविधियां शामिल हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस कार्यक्रम को पायलट प्रोजेक्‍ट के रूप में जम्‍मू कश्‍मीर और त्रिपुरा में शुरू कर दिया गया है. वहां इसको कैसा फीडबैक मिलता है, इस पर इसकी आगे की व्‍यापकता निर्भर है.

सरकार के पास मौजूदा समय में राष्‍ट्र विरोधी कंटेंट या गतिविधि को लेकर कोई साफतौर पर कानूनी प्रारूप नहीं है. इसके लिए अब भी अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रिवेंशन) एक्‍ट के प्रावधानों का प्रयोग होता है. इसके तहत ही राष्‍ट्र विरोधी गतिविधि में शामिल किसी आरोपी को हिरासत में लिया जाता है या फिर उसे जेल भेजा जाता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button