July 25, 2021

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

राजगढ़18जुलाई2021**कोरोना: राजगढ़ जिले में बताए गए मौत के आंकड़ों से ज्यादा मौतें*।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

death_figures
Location – Rajgarh
Name – tkakur harpal singh parmar

राजगढ़18जुलाई2021**कोरोना: राजगढ़ जिले में बताए गए मौत के आंकड़ों से ज्यादा मौतें*।

*एंकर….*
*ठाकुर हरपाल सिंह परमार*
कोरोना महामारी के दौरान जिला राजगढ़ स्वास्थ्य व्यवस्था पर कई तरह के सवाल खड़े किए गए. साथ ही अब एक बड़ा सवाल खड़ा हो रहा है कोरोना से हुई मौतों के आंकड़े छिपाने का मामला स्पष्ट नजर आ रहा है।विपक्ष द्वारा लगातार सरकार पर आंकड़ों को छिपाने का आरोप लगाया जा रहा था जो कि आरोप अब सिद्ध होते दिखाई दे रहे हैं।जिले में कोरोना वायरस के मामले तो कम हो रहे हैं लेकिन, मौतों की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. पिछले एक महीने में मृत्यु दर में शामिल होने वाली हर मौतों में लगभग मौत पुरानी है जोकि पहले रिपोर्ट नहीं की गई थी. दावा किया जा रहा है कि पिछले एक महीने में 50 से अधिक पुरानी मौतों के आंकड़े नए हेल्थ बुलेटिन में दर्ज किए जा रहा है।

वीओ-कोरोना से हुई मौतों को प्रशासन एडजस्ट करने में लगा है जैसे-जैसे प्रशासन पर मृतकों के परिजनों द्वारा डेथ सर्टिफिकेट बनवाने का दबाव बनता जा रहा है वैसे वैसे प्रशासन पुरानी मौतों के आंकड़े सामने लाने पर मजबूर हो रहा है। अप्रैल-मई में कोरोना से होने वाली मौतों को प्रशासन ने छिपा तो लिए लेकिन कोरोना से होने वाली मौतों से मृतक के परिवार को सरकार ने मुआवजा देने की घोषणा की उसी के बाद से मृतक को के परिवार वालों ने स्वास्थ्य विभाग से डेथ सर्टिफिकेट मांगना शुरू कर दिया मृतकों के सर्टिफिकेट देने में प्रशासन की मुश्किलें बढ़ी जिसके चलते प्रशासन ने अप्रैल मई में होने वाली मौतों को जून जुलाई में एक जस्ट करना शुरू कर दिया। ताजा कोरोना जिला बुलेटिन के आधार पर प्रशासन द्वारा छिपाई गई मौतों के आंकड़ों को बीते 1 महीने का बुलेटिन प्रशासन के द्वारा छुपाए गए आंकड़ों को उजागर करता है।

ऐसे किया जा रहा है पुरानी मौतों के आंकड़ों को एडजस्ट

जब कोरोना कि दूसरी लहर कम हो रही थी
एक जून तक जिले में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या 117 थी 1 जून से 1 जुलाई के बीच होने वाली मौतों को हेल्थ बुलेटिन में 169 मोते दर्शाई गई। एक महीने में 52 नई मौतें बताई गई जो कि जिले में मौतें हुई नहीं इस मामले को लेकर जब जिला महामारी अधिकारी से आकड़ो के बारे में पूछा गया तो पहले हुई मौत के आकड़ो को अब एक्जेस्ट करने की बात सामने आई तो जिला के महामारी अधिकारी द्वारा जारी हेल्थ बुलेटन में जिले में कुल मौत के आकड़ो को 3 से यथावत 183 बता कर ये साबित कर दिया गया कि कही न कही इन कोरोना से हुई मौत के आकड़ो को छुपाया गया जो अब उजागर होता नजर आ रहा अब सवाल ये उठता है कि ये इन छुपाए गये मौत के आकड़ो की जानकारी क्या स्वास्थ्य विभाग से लेकर जिला प्रशासन व शासन को थी ।

पिछले एक हफ्ते में मौतों के आंकड़ों में की गई हेराफेरी

दिनांक-टोटल मृत्यु-नए केस -एक्टिव केस
10/7 172. 1. 15
11/7. 174. 1. 13
12/7. 174. 1. 9
13/7. 183. 1. 9
14/7. 183. 2. 10

13 तारीख को जिले में 9 नई मौतें बताई गई जबकि जिले में 12 से 13 तारीख को कोरोना से एक भी मौत नहीं हुई है।

जिला महामारी नियंत्रक महेंद्र पाल ने भी स्वीकार किया जिले में 1 हफ्ते में कोरोना से एक भी मौत नहीं हुई है पुराने मौतें के आंकड़ों को एडजस्ट किया जा रहा है।

विजुअल-जिला चिकित्सालय राजगढ़

विजुअल जिला हेल्थ बुलेटिन कॉपी

विजुअल-फाइल कोरोनावायरस दूसरी लहर
पिक

बाइट-जिला महामारी नियंत्रक महेंद्र पाल

बाइट-राजगढ़ विधायक बापू सिंह तंवर

फोनो- नीरज कुमार सिंह कलेक्टर
+91 94250 10830

फोनो-रोडमल नागर सांसद
+91 94250 21506

 

स्लग-कोरोना: राजगढ़ जिले में बताए गए आंकड़ों से जयादा मौतें

दावों के बीच जिले के नए आंकड़ों से जिला प्रशासन पर खड़े हुए सवाल

हेल्थ बुलेटिन ने प्रशासन की खोली पोल

जिला प्रशासन कोरोना से हुई मौतें के आंकड़ों को एडजस्ट करने में जुटा

राजगढ़ रिपोर्टर…..

You may have missed