July 5, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

मऊरानीपुर 14 जून*यूपीआजतक न्यूज़ से आज की खबरे

मऊरानीपुर । समीपवर्ती ग्राम पंचमपुरा में बने अस्थाई गौ आश्रय केंद्र पर वर्तमान में एक भी जानवर क़ैद नही है। इसी प्रकार ग्राम पंचायत घाटकोटरा, खकौरा की गौशाला में भी पशुओं नही है। वही ग्राम पंचायत खिलारा के किसानों ने मऊरानीपुर खंड विकास अधिकारी से खरीफ की फसल बोने से पहले गांव में गौशाला बनवाए जाने की मांग की है।

मऊरानीपुर । वर्ष 2019 में बौई गई खरीफ फसल अतिवृष्टि की भेंट चढ़ गई थी। बैंकों द्वारा किसानों के खातों से काटी गई बीमा की किस्त के बाद भी बीमा की धनराशि अभी तक ग्राम खिलारा व बसरिया के अनेक किसानों के खातों में नही भेजी गई है। प्रधानमंत्री फसलीय बीमा की राशि के लिए किसानों ने मुख्यमंत्री के पोर्टल से लेकर संबंधित बीमा कंपनी को पत्राचार करने के बाद भी किसानों को बीमा के नाम पर धनराशि नही मिल सकी है। ग्राम खिलारा के किसान अनिल द्विवेदी का कहना है कि पंजाब नेशनल बैंक मऊरानीपुर की शाखा से किसान क्रेडिट कार्ड बना हुआ है। जिसमें बैंक द्वारा वर्ष 2019 में खरीफ फसल की किस्त बीमा की राशि काट लेने के बाद भी धनराशि 3 साल बाद भी संबंधित कंपनी द्वारा केसीसी के खाते में नही भेजी गई है। बसरिया के किसान देवी प्रसाद सेन ने बताया कि प्रधानमंत्री फसली बीमा की राशि प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक भण्डरा द्वारा केसीसी के खाते से तीन वर्ष पूर्व काट लेने के बाद भी फसल क्षतिपूर्ति की राशि बीमा कंपनी ने खाते में नहीं भेजी गई है। मुन्नालाल पटेल बसरिया के किसान का कहना है कि किसान कार्ड सेंट्रल बैंक मऊरानीपुर की शाखा से बना हुआ है जिससे बीमा की राशि खिते से लेने के बाद भी प्रधानमंत्री फसल बीमा का लाभ नही मिल सका है। ग्राम खिलारा के किसान सुरेशचंद्र द्विवेदी का कहना है कि वर्ष 20 19 में अतिवृष्टि से खरीफ की फसल क्षतिग्रस्त हो गई थी जिससे संबंधित कंपनी द्वारा प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक की शाखा भण्डरा द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड के खाते से प्रीमियम राशि काट लेने के बाद भी क्षतिपूर्ति के रूप में बीमा की धनराशि संबंधित कंपनी द्वारा 3 साल बीत जाने के बाद भी खाते में नहीं भेजी गई है। इसी प्रकार बसरिया ग्राम के किसान रमाकांत, रामदास, रतिराम, विनोद, बसंते अहिरवार आदि किसानों के कार्ड प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक भण्डरा से बने हुए है। फिर भी वर्ष 2019 में देवी आपदा से नष्ट हुई फसल की धनराशि बीमा के रूप में उपरोक्त किसानों के खातों में भेजी गई है। किसानों ने जिलाधिकारी से लंबित पड़ी बीमा राशि दिलाए जाने की मांग की है।

मऊरानीपुर । बैंक प्रबंधन द्वारा नए किसान क्रेडिट कार्ड एवं अन्य प्रकार के लोन पर तीन माह पूर्व से प्रतिबंध लगा देने से क्षेत्र के किसान एवं दुकानदार प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक शाखा भंड़रा से फाइनेंस कराने के लिए परेशान हो रहे है। वही बैठ में लगा प्रिंटर खराब हो जाने से क्षेत्र के किसान, पेंशन धारकों की पासबुक को में एंट्री नहीं हो पा रही है। जिससे खाता धारक धनराशि ज्ञात करने के लिए आए दिन बैंक के चक्कर लगा रहे है। इस संबंध में शाखा प्रबंधक का कहना है कि जल्द ही प्रिंटर को सही कराने के लिए भेजा जाएगा।