July 7, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

ब्रेकिंग न्यूज 27 मई 21* यूपी आजतक से ख़ास खबरें लगातार

[5/27, 11:27 AM] +91 97931 25420: बड़ी खबर:-

पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी की जीत से बौखलाई भाजपा

2024 की सताने लगी है अभी से चिंता

भाजपा बदल सकती है उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश में भाजपा करेगी बड़ा बदलाव बदला जा सकता है मुख्यमंत्री

मंत्रिमंडल में हो सकता हैं बहुत बड़ा फेरबदल

राजनाथ सिंह को मुख्यमंत्री पद का ऑफर

राजनाथ सिंह को बनाया जा सकता है उत्तर प्रदेश का नया मुख्यमंत्री

दिल्ली बुलाये गए, उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य

यूपी में बढ़ सकती है उप मुख्यमंत्रीयों की संख्या, संख्या बढ़कर हो सकती है चार।

शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी को पद से हटाया गया

किसी और को दिया जा सकता है पद- भार

दिनेश शर्मा को शिक्षा मंत्री के पद का कार्यभार दिया जा सकता है कार्यभार

सतीश द्विवेदी के भाई अरुण द्विवेदी की प्रोफेसर पद की नियुक्ति भी रद्द की जा सकती हैं बनाये जा सकते बड़े पदाधिकारी।।

BJP RSS UP को लेकर कर रहे हैं मंथन ,, 2022 गये तो 2024 में आना असम्भव।

लखनऊ उत्तरप्रदेश
[5/27, 12:36 PM] +91 97931 25420: *गाजियाबाद ,प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेजों के जरिए बैकों और खरीदार को 7 करोड़ का चूना लगाने वाला दंपत्ति गिरफ्तार, 6 महीने से थे फरार -*

गाजियाबाद में हैरान कर देने वाली जालसाजी का खुलासा हुआ है। जनपद की मसूरी पुलिस ने एक ऐसे दंपति को गिरफ्तार किया है, जो एक ही प्रॉपर्टी पर दो बैंकों से लोन लेने के बाद उसे बेच कर फरार हो जाते थे। ये दोनों प्रॉपर्टी के असली दस्तावेज एक बैंक में जमा कर करोड़ों का लोन लेते थे। बाद में दूसरे बैंक से फर्जी दस्तावेज के आधार पर लोन हासिल करते थे। उसके बाद प्रॉपर्टी को फर्जी तरीके से बेचकर फरार हो जाते थे। इन पर 7 करोड़ रुपये की ठगी का आरोप है। ये पिछले 6 माह से फरार चल रहे थे।

*दो बैकों से करोड़ों का लोन लिया*

पकड़े गये दंपत्ति इतने शातिर हैं कि पहले प्रॉपर्टी के असली दस्तावेज पंजाब नेशनल बैंक में गिरवी रखकर करीब साढे तीन करोड़ रुपये का लोन ले लिया। फिर प्रॉपट्री के फर्जी दस्तावेज तैयार कर दूसरे प्राइवेट बैंक से भी करीब डेढ करोड़ का लोन लिया। उसके बाद फर्जी दस्तावेज के आधार पर उसी प्रॉपर्टी को 2 करोड़ में बेचकर चंपत हो गये। ठगी का पता चलने पर पीड़ित ने मसूरी थाने में मुकद्मा दर्ज कराया। उसके बाद से ही पुलिस मामले की छानबीन कर रही थी।

*नवंबर 2020 में दर्ज कराया मुकदमा*

एसपी ग्रामीण डॉ ईरज राजा ने बताया कि इंदिरापुरम निवासी संजू पत्नी ओपी सिंह ने नवंबर 2020 में एक दंपत्ति के खिलाफ मुकद्मा दर्ज कराया था। जांच करने पर पता चला कि दंपत्ति ने दो बैंकों से लोन लेने के बाद प्रॉपर्टी को इंदिरापुरम निवासी संजू पत्नी ओपी सिंह को दो करोड़ रुपये में बेच दिया। रुपये वापस मांगने पर आरोपी पीड़ित को जान से मारने की धमकी दे रहे थे। मसूरी थाना प्रभारी शैलेन्द्र प्रताप सिंह की टीम ने 6 माह से फरार चल रहे इन्द्रजीत पुत्र महेंन्द्र सिंह निवासी केडब्लू सृष्टि अपार्टमेंट राजनगर एक्सटेंशन को पत्नी समेत घर से गिरफ्तार कर लिया।

*आपराधिक इतिहास खंगाल रही है पुलिस*

एसपी ग्रामीण ने बताया कि आरोपी इन्द्रजीत शातिर किस्म का है। इसने पहले आकाश नगर में अपनी प्रॉपर्टी के कागजात पंजाब नेशनल बैंक में रखकर करीब 3 करोड़ 52 लाख 63 हजार रुपये का लोन ले लिया। उसके बाद फर्जी कागजात तैयार कर दूसरे बैंक से भी करीब डेढ़ करोड़ रूपए का लोन लिया। इसके बाद उक्त प्रॉपर्टी को फर्जी कागजात के आधार पर संजू पत्नी ओपी सिंह को बेचकर फरार हो गये। संजू अपने परिवार के साथ यहां रहने लगी। किस्त जमा न होने पर बैंक के नोटिस आए, तो ठगी का पता चला। पीड़ित ने घटना की री शिकातय थाने में दर्ज कराई। पुलिस आरोपियों का आपराधिक इतिहास भी खंगाल रही है। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर रही है।
[5/27, 12:38 PM] +91 97931 25420: लखनऊ:
*राजधानी मे पकड़ा गया फर्जी वाणिज्य कर अधिकारी।*

*फर्जी अधिकारी क्षेत्र मे छापेमारी कर करता था वसूली ।*

*नीली बत्ती लगाकर छापेमारी करने वाला फर्जी अधिकारी चढ़ा कमिश्नरेट पुलिस के हत्थे।*

*चेकिंग के दौरान इंस्पेक्टर आनंद शुक्ला और उनकी टीम ने फर्जी नीली बत्ती धारी अधिकारी को किया गिरफ्तार।* नीली बत्ती लगी फार्च्यूनर व अन्य सामान बरामद।

मामला थाना पीजीआई का है।