July 7, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

गोण्डा 13 जून*यूपीआजतक न्यूज़ से आज की खास खबरे

[13/06, 7:09 PM] Sarita Chandra Maurya Gonda: *बाईक से गिरकर महिला घायल,गोंडा रेफर*

कर्नलगंज/गोंडा ।। स्थानीय क्षेत्र कर्नलगंज में अपने बेटे के साथ बाइक से जा रही एक महिला के बाइक से गिरकर गंभीर रूप से घायल होने और ज्यादा चोट लगने के वजह से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्राथमिक उपचार के बाद गोण्डा रेफर कर दिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम राजापुर, थाना परसपुर निवासिनी रेनू उम्र करीब 42 वर्ष पत्नी प्रहलाद गुप्ता अपने बेटे राजा बाबू के साथ शनिवार को किसी कार्य वश ग्राम रेंवारी के मजरा वैशन पुरवा जा रही थीं। तभी गोण्डा-लखनऊ मार्ग पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मोड़ के पास अचानक वह बाइक से गिर कर गंभीर रूप से घायल हो गयी।आनन-फानन में उसे उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कर्नलगंज लाया गया।जहां उसका प्राथमिक उपचार किया गया। सिर में गहरी चोट होने के कारण उन्हें गोण्डा रेफर कर दिया गया है।
[13/06, 7:09 PM] Sarita Chandra Maurya Gonda: *राशनकार्ड धारकों के हक पर डाका डाल रहे कोटेदार,विभाग धृष्टराष्ट्र की भूमिका में*
‌ (जिम्मेदार प्रशासन के मूकदर्शक होने से कोटेदारों को जिलाधिकारी के आदेशों का नहीं रहा खौफ, राशन वितरण में कर रहे घोर अनियमितता)

कर्नलगंज गोंडा । सरकार भले ही गरीबों के राशन के लिए करोड़ों रुपए खर्च कर रही हो लेकिन अफसरों की लापरवाही और गठजोड़ के चलते दबंग कोटेदार खाद्यान्न वितरण में जमकर धांधली घटतौली कर गरीबों के निवाले खाद्यान्न पर डाका डालते हुए खुलेआम कालाबाजारी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। जिससे गरीब राशन कार्ड धारक दर-दर भटकने को मजबूर होकर घटतौली धांधली एवं शोषण के शिकार हो रहे हैं। मामला तहसील कर्नलगंज के विकास खंड हलधरमऊ अन्तर्गत दो ग्राम पंचायतों ग्राम गद्दौपुर और सर्वांगपुर का है। विदित हो जहाँ एक ओर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस वैश्विक महामारी के दृष्टिगत सभी जनपदों के जिलाधिकारी को राशन वितरण के संबंध में किसी भी कोटेदार/दुकान संचालक के द्वारा घटतौली या राशन वितरण करने में आनाकानी, घटतौली,अनियमितता पाये जाने पर उसके विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर कठोर कार्रवाई किये जाने हेतु सख्त निर्देशित किया गया है। जिस क्रम में जिलाधिकारी गोंडा मार्कंडेय शाही ने संबंधित अधिकारियों को आदेश जारी कर कहा है कि सभी ब्लॉकों के कोटेदार को राशन वितरण करने में गड़बड़ी, टालमटोल करने पर उन्हें कतई बख्शा नहीं जायेगा तथा साथ ही मुकदमा पंजीकृत कर कोटेदार की दुकान के लाइसेंस निरस्त कर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। जिसका असर धरातल पर नहीं दिख रहा है। ——————————- # *प्रकरण नं०-1*# तहसील कर्नलगंज के ब्लाक हलधरमऊ अंतर्गत ग्रामसभा गद्दौपुर के कोटे की दुकान से संबंधित है, जहां कोटेदार को जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही के आदेशों का कोई खौफ नहीं है तथा उनके दिशा निर्देशों को दरकिनार कर राशन वितरण करने में मनमानी एवं घोर अनियमितता की जा रही है। सरकार भले ही गरीबों के राशन के लिए करोड़ों रुपए खर्च कर रही हो लेकिन अफसरों की लापरवाही से दबंग कोटेदार राशन वितरण में जमकर धांधली कर खाद्यान्न कालाबाजारी कर रहे हैं, यही नहीं कोटेदार द्वारा ई- पास मशीन पर अंगूठा लगवा लिया जाता है और राशन के लिए एक-दो दिन बाद ले लेना बोलकर टरका दिया जाता है और खाद्यान्न गबन कर लेते हैं।जिससे गरीब राशन कार्ड धारक दर-दर भटकने को मजबूर हो जाते हैं। ग्रामसभा के राशन कार्ड धारकों उदय राज वर्मा, सुशील कुमार वर्मा, सीमा, मिथिलेश, सुरेमा, कुसुम आदि कई लोगों द्वारा उपजिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर कहा गया है कि उनके गाँव के कोटेदार किरण सिंह/ राजदेव सिंह ने कई लोगों के अंगूठे ई-पास मशीन पर लगवा लिए लेकिन राशन वितरण करने में टालमटोल कर रहे हैं जब ग्रामीणों ने कोटेदार से राशन की मांग की तो किरन सिंह/राज देव सिंह कोटेदार द्वारा दबंगई दिखाते हुए राशन न देने के साथ ही ग्रामीणों को जानमाल की धमकी दी गई जिससे वह लोग कोटेदार से काफी त्रस्त हैं। —————————————- # *प्रकरण नं०:2*# ब्लॉक हलधरमऊ के ही ग्राम पंचायत सर्वांगपुर का है जहाँ के राशन कार्ड धारकों ने कोटेदार के विरुद्ध आरोप लगाते हुए कहा है कि कोटेदार द्वारा पूरा राशन नहीं दिया जा रहा है, शिकायत करने पर कोटेदार द्वारा कहा जाता है कि हमें गोदाम से ही राशन कम मिलता है.यदि वह अपने हक की मांग कोटेदार से करते हैं तो कोटेदार द्वारा दबंगई के बल पर राशन मुहैया ना कराकर धमकाया जाता है वहीं दबंग कोटेदार को शासन प्रशासन का भी कोई खौफ नहीं है जिससे जनता का बुरा हाल है। कोटेदार द्वारा अनसुनी करने से ग्रामीणों ने मीडियाकर्मियों का सहारा लिया तो जब मीडियाकर्मी राशन वितरण स्थल पर पहुंचे तो कोटेदार ने दबंगई के साथ कहा कि 3 से 4 किलो प्रति यूनिट के हिसाब से ही वितरण करूंगा जिसे लेना हो ले नहीं तो कोई बात नहीं, प्रशासन भी उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकता। क्योंकि अधिकारी कर्मचारी और गोदाम प्रभारी कटरा बाजार भी इसमें हिस्सा लेते हैं और राशन तौलकर भी गोदाम से नहीं दिया जाता है। कोटेदार की दबंगई का आलम यह है कि संबंधित ग्राम प्रधान के कहने के बाद भी पूरा राशन कार्ड धारकों को वितरण नहीं किया जा रहा है और कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन ना कर बिना मास्क के वितरण कार्य करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग की भी धज्जियां उड़ाने के साथ ही हर यूनिट पर एक से डेढ़ किलो कम राशन कार्ड धारकों को दिया जा रहा है। जबकि ग्राम प्रधान द्वारा कोटेदार को चेतावनी भी दी जा चुकी है इसके बावजूद कोटेदार द्वारा बेखबर होकर राशन वितरण में कटौती और जमकर धांधली करते हुए कालाबाजारी किया जा रहा है। कोटेदार एक तो राशन कम देते हैं दूसरे जनता की जान को भी जोखिम में डालते हैं इससे गांव के अधिकांश नागरिक काफी परेशान हैं। पीड़ित ग्रामीणों का कहना है कि उच्चाधिकारियों को जांच कर सख्त विधिक कार्यवाही करनी चाहिए जिससे कोटेदार की मनमानी पर अंकुश लग सके और कार्ड धारकों को उनका हक पूर्ण खाद्यान्न मिलने के साथ ही इंसाफ मिल सके।सूत्रों के अनुसार कोटेदार मनमानी कर कम राशन वितरण करने के साथ ही कई लोगों को राशन ना देकर शोषण कर रहे हैं अगर ऐसे ही रहा तो गरीबों को भूखे रहकर जान गंवानी पड़ेगी। हैरत अंगेज यह है कि इस आशय की खबर समाचार पत्रों में प्रकाशन होने के बाद भी शासन प्रशासन कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है जिसके मूकदर्शक बने होने से ग्राम पंचायत सर्वांगपुर में पूरा राशन लोगों को नहीं मिल पा रहा है। यहां के लोग कोटेदार से काफी तंग आ चुके हैं जिसके संबंध में कोई कार्यवाही ना होने से कोटेदार के हौंसले बुलंद हैं और राशन वितरण में घटतौली धांधली करने में जुटे हुए हैं। कोटेदार से त्रस्त कार्डधारकों ने उच्चाधिकारियों से संपूर्ण मामले की उच्चस्तरीय जांच कराकर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। अब देखना यह है कि तेजतर्रार जिलाधिकारी मार्कंडेय शाही द्वारा ऐसे दबंग कोटदारों के विरुद्ध कड़ा रवैया अख्तियार किया जाता है या अनदेखी कर दबंग कोटेदारों को ऐसे ही संरक्षण प्रदान किया जाता रहेगा।
[13/06, 7:09 PM] Sarita Chandra Maurya Gonda: *चार महीने से न्याय के लिए भटक रही गैंगरेप पीड़िता, आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही पुलिस*

गोण्डा। जिले में करीब चार महीने पहले एक महिला के साथ हुऐ गैंगरेप के संबंध में पीड़िता आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए थाने के काफी चक्कर लगाने के बाद भी उसकी फरियाद ना सुने जाने पर महिला पुलिस अधीक्षक के यहां पेश हुई और मुकदमा दर्ज कराने की गुहार लगायी, किंतु यहां से भी उसे न्याय नहीं मिला।जिससे न्यायालय की शरण लेने पर अदालत के आदेश पर मुकदमा तो दर्ज हो गया, लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो रही है। वहीं आरोपितों को हाईकोर्ट ने अरेस्ट स्टे देने से इंकार कर दिया ,फिर भी इलाकाई पुलिस गैंगरेप के आरोपियों पर मेहरबान है।
घटना जिले के थाना इटियाथोक की है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक विगत 13 फरवरी को रात करीब साढ़े नौ बजे एक महिला शौच से वापस घर जा रही थी। आरोप है कि इटियाथोक बाजार निवासी राजू, गुड्डू व बबलू पुत्रगण ताज मोहम्मद एवं एक और अज्ञात व्यक्ति ने महिला के साथ बलात्कार किया। महिला के शोर मचाने पर उसकी मां अन्य लोगों के साथ पहुंची तो सभी लोग जानमाल की धमकी देते हुए भाग गये। पीड़िता थाने पर शिकायत करने पहुंची तो वहां पुलिसकर्मियों ने उसकी एक न सुनी और थाने से से भगा दिया। इसके बाद पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक को 16 फरवरी 2021 को व्यक्तिगत रूप से मिलकर प्रार्थना पत्र दिया और कार्रवाई की गुहार लगायी, किंतु कोई कार्रवाई नहीं हुई। निराश होकर उसने न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। जहां अदालत ने 156 (3) के तहत प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश 26 फरवरी को थानाध्यक्ष इटियाथोक को दिया। जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज हुई लेकिन चार महीने बीतने के बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की गई। गैंगरेप पीड़िता न्याय के लिए दर-दर भटक रही है।
प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार दूबे का कहना है कि गैंगरेप की घटना की अभी विवेचना चल रही है। हाईकोर्ट ने आरोपियों की अरेस्ट स्टे की अपील खारिज कर दी, इसलिए विवेचना महत्वपूर्ण हो जाती है ताकि कोई बेकसूर जेल न चला जाए।
[13/06, 7:09 PM] Sarita Chandra Maurya Gonda: *युवती को जलाकर चाकू से गोदने वाला अभियुक्त विशाल यादव 24 घण्टे के अन्दर पुलिस की गिरफ्त में*

 

गोण्डा ।। जिले के थाना छपिया क्षेत्र के अन्तर्गत शुक्रवार को एक युवती के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जलाने व चाकू मारकर जानलेवा हमला करने की घटना प्रकाश में आयी थी। पुलिस मीडिया सेल से प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए घायल युवती के बेहतर व समुचित उपचार एवं आरोपी अभियुक्त की अतिशीघ्र गिरफ्तारी कराने हेतु तत्काल अपर पुलिस अधीक्षक गोण्डा के निर्देशन व क्षेत्राधिकारी मनकापुर के नेतृत्व में टीमें बनाकर कार्यवाही करने के कड़े निर्देश दिये। स्वाट/सर्विलांस टीम को भी अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिये निर्देशित किया गया। पुलिस अधीक्षक द्वारा दिये गये इन्ही कड़े निर्देशों के फलस्वरूप थाना छपिया पुलिस ने वांछित अभियुक्त विशाल यादव को 24 घण्टे के अन्दर गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। आज दिनांक 13.06.2021 को थाना छपिया व स्वाट/सर्विलांस की संयुक्त टीम ने मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त विशाल यादव पुत्र ओमप्रकाश यादव नि0 कुसमी थाना छपिया जनपद गोण्डा उम्र करीब 22 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ करने पर अभियुक्त ने बताया कि मै उस लड़की से एक तरफा प्रेम करता था परन्तु वह मुझे पसन्द नही करती थी मैने उसे समझाने का बहुत प्रयास किया परन्तु वह नही मानी। इसी बात से छुब्ध होकर मैने पहले जान से मारने की नियत से लड़की के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जलाने का प्रयास किया तथा बाद में उसके ऊपर चाकू से कई वार कर दिये। अभियुक्त की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त चाकू व लाईटर बरामद कर लिया गया है। अभियुक्त को वास्ते रिमांड माननीय न्यायालय रवाना किया गया। गिरफ्तार अभियुक्त-
01. विशाल यादव पुत्र ओमप्रकाश यादव नि0 कुसमी थाना छपिया जनपद गोण्डा।
पंजीकृत अभियोग-
01. मु0अ0सं0-173/21, धारा 307 भादवि थाना छपिया जनपद गोण्डा। गिरफ्तार कर्ता टीम- 01. थानाध्यक्ष छपिया राकेश कुमार सिंह मय टीम।
02. एस0ओ0जी0 प्रभारी सुनील सिंह मय टीम रहे।