August 5, 2021

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

कौशाम्बी16जुलाई2021*यूपीआजतक न्यूज़ से आज की खास खबरे

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

[16/07, 7:38 PM] +91 99191 96696: *डीपी एक्ट के वांछित अभियुक्त गिरफ्तार*

*कौशांबी* थाना सराय अकिल पुलिस उपनिरीक्षक रजनीकांत राजपूत मय हमराह पुलिस बल द्वारा डीपी एक्ट का वांछित अभियुक्त सियाराम पुत्र मन्नीलाल निवासी अमवां थाना सराय अकिल को गिरफ्तार कर विधिक कार्यवाही के पश्चात अभियुक्त का चालान न्यायालय कर दिया है

 

  •  *अवैध शराब के साथ अभियुक्त गिरफ्तार*

*कौशांबी* थाना सराय अकिल पुलिस उपनिरीक्षक शैलेंद्र कुमार मय हमराह पुलिस बल द्वारा अभियुक्त मुकेश पासी पुत्र देवराज पासी के कब्जे से दस लीटर अवैध कच्ची शराब बरामद होने पर अभियुक्त को गिरफ्तार कर 60 आबकारी अधिनियम पंजीकृत कर विधिक कार्रवाई के पश्चात अभियुक्त का चालान न्यायालय कर दिया है।

 

*पुलिस ने वसूला 5600 रुपए जुर्माना*

*कौशांबी* जिले में लॉकडाउन के दृष्टिगत सरकार द्वारा निर्गत निर्देशों के अनुपालन के क्रम में पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार जिले स्तर पर विभिन्न थानों द्वारा अनावश्यक रूप से बाहर घूमने वाले व मास्क न लगाने वाले सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने वाले के विरुद्ध सघन चेकिंग की गई एवं चेकिंग के दौरान 2 पहिया व चार पहिया वाहनों को चेक किया गया जिसमें 188 वाहनों का ई चालान किया गया साथ ही बिना मास्क लगाए घूम रहे एवं सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन का उल्लंघन करने वाले 28 व्यक्तियों से 5600 रु0 जुर्माना वसूला गया

 

*नेवादा विकास खण्ड का पंचायत भवन शौचालय मूत्रालय मे तब्दील।*

*कौशाम्बी* उपयुक्त सचिव पंचायतीराज मंत्रालय एवं सचिव ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार , के संयुक्त हस्ताक्षर से निर्गत अर्ध शासकीय पत्र संख्या 1594/33 संख्या के माध्यम से समस्त जिलाधिकारी समस्त मुख्य विकास अधिकारी उत्तर प्रदेश को आदेशित कर पंचायत भवनों को गांव में बनवाने वा सौंदर्यीकरण का आदेश 22 जुलाई 2020 को अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह द्वारा दिया गया था। लेकिन अपर सचिव के आदेश का पालन कौशांबी जनपद के विकास खण्ड नेवादा के भोपतपुर तारापुर गांव में नहीं माना गया है। इस गांव मे स्थित पंचायत भवन शौचालय मूत्रालय में तब्दील हो चुका है । ग्राम विकास अधिकारी राहुल सिंह की माने तो मूत्रालय मे तब्दील पंचायत भवन के सौंदर्य मरामत मे एक लाख के ऊपर की धन राशि खर्च की गयी है। अब सोचने वाली बात यह है कि, जिसमे लाख से अधिक रकम खर्च हुआ हो वह पंचायत भवन शौचालय मूत्राशय मे कैसे बदल गया है। इस सम्बंध मे खण्ड विकास अधिकारी नेवादा विजयशंकर त्रिपाठी से पूछा तो उन्हों ने बताया की पाँच महीने से वहा नही गए है। इस विषय पर मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत से बात की गई तो जाँच कराते हुए कार्यवाही करने की बात उन्होंने कही है।अब देखना यह है की शासन के आदेशों की अनदेखी करने वाले अधिकारी के ऊपर बड़े अधिकारी कब कार्यवाही करते है।

 

You may have missed