July 5, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

कौशाम्बी 10 जून*आप देख सकते हैं की बिगड़े स्वास्थ्य केंद्र की हालात नहीं बैठते डॉक्टर कौन करे इलाज*

कौशाम्बी 10 जून*आप देख सकते हैं की बिगड़े स्वास्थ्य केंद्र की हालात नहीं बैठते डॉक्टर कौन करे इलाज*

*गर्भवती महिला मरीजो को होती हैं। परेशान कौन करें बच्चों का इलाज व टीकाकरण।*

*मुख्यमंत्री वा प्रधान मंत्री आवास वा शौचालय में बड़ा घोटाला*

*आखिर कब होगी भ्रष्ट ग्राम प्रधान की जांच बांट दिया गया। अपात्रों को आवास*

* कौशाम्बी* जनपद के विकास खण्ड मंझनपुर मुख्यालय के अन्तर्गत ग्राम सभा बंधवा रजवार एंव बभनपुरवा ईटैला न्याय पंचायत में स्वास्थ्य केंद्र व प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दर्जनों आवास आवंटित किये गये हैं,जिसमें अधिकतर अपात्रों को आवास दिया गया है।
आपको बता दें कि कौशाम्बी जनपद के विकास खण्ड मंझनपुर अन्तर्गत ग्राम सभा अम्मवा पुरब अम्मवा पश्चिम सोनारंन का पुरवा बसोहरा कादीराबाद गोबर सहाई सहानपुर गौसपुर टिकरी भेलखा कोड़र संमदा गौरा मीरापुर शौचालयआधेअधूरे दिखाएई देते हैं इसीतरहसभी
ब्लॉक में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अधिकतर अपात्रों को आवास दिया गया है,हद तो तब हो गई,जब पूर्व पंचवर्षीय में लाभार्थी पत्नी को आवास मिल चुका है,वर्तमान ग्राम प्रधान द्वारा पति को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिया गया है,ग्रामीणों की मानें तो सन् 2021 में अधिकतर उन्हीं लोगों को आवास दिया गया है,जिनका पहले से पक्का मकान बना है,भ्रष्ट जिम्मेदारों के समक्ष मवेशियों को बांधने व लकड़ी भूसा रखने आदि खपरैला,छप्पर के सामने अपात्रों द्वारा फोटो खिंचवा कर गरीबी का ढोंग रचकर अपना नाम पात्रों की श्रेणी में दर्ज करवा लेते हैं,साथ ही जांच के दौरान जिम्मेदारों से यह कहकर दरकिनार कर लिया जाता है कि,इसमें मेरी बूढ़ी माँ, पिता,व बहु-बेटा आदि रहते हैं,एवं शासन द्वारा आईं अन्य योजनाओं में भी जमकर भ्रष्टाचारी की गई है,जो एक बड़ा सवाल है,ग्रामीणों कहना है कि शासन द्वारा निष्पक्ष जांच हुई तो,जिम्मेदारों के खिलाफ कार्यवाही होना तय है, वहीं लोगों की मानें तो वर्तमान समय में ग्राम प्रधान पति द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों से 10000/रू0 से 25000/रू0 तक वसूला जा रहा है,ग्रामीणों के माध्यम से भ्रष्ट जिम्मेदारों के खिलाफ उच्चस्तरीय जांच कराये जाने की मांग की है। अगर उच्च अधिकारी द्वारा जांच हुई तो भ्रष्टाचारी ग्राम प्रधान वा अधिकारियों का कारनामों का उजागर निश्चित हैं। देखना यह है कि उच्च अधिकारियों द्वारा कार्रवाई जांच होती हैं या नहीं या ठंडे बस्ते में रख दिया जाता हैं। जिलाधिकारी महोदय एक नजर इधर भी डालें।

*रिपोर्टर…संजय कुमार पटेल प्रथा इंडिया न्यूज़ जनपद कौशांबी 9956064409*

You may have missed