July 25, 2021

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

*कौशांबी21जुलाई2021*पुलिस की गुंडागर्दी इस कदर कायम है कि निर्दोषों को लाठियों से नाजुक अंगों पर पीटकर कर रही घायल

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

*कौशांबी21जुलाई2021*पुलिस की गुंडागर्दी इस कदर कायम है कि निर्दोषों को लाठियों से नाजुक अंगों पर पीटकर कर रही घायल

इन दिनों पुलिस की गुंडागर्दी इस कदर कायम है कि निर्दोषों को लाठियों से नाजुक अंगों पर पीट-पीटकर बेहोश व गम्भीर रुप से घायल कर दिया जाता है ताजा मामला थाना चरवा के शाना नींबी गांव का है सुरेश नामक पासी से गांव के जगतपाल पासी से गोबर फेंकने को लेकर विवाद हो गया था पीड़ित का आरोप है कि विपक्षी जगतपाल थाने का चौकीदार है और चौकी बरियावां में चौकी इंचार्ज से सांठगांठ कर और मिलकर सुरेश पासी को चौकी के अंदर घसीट कर ले गए और चौकी इंचार्ज सहित सभी पुलिस कर्मियों और चौकीदार मिलकर पीड़ित के नाजुक अंगों पर लाठियों से बेरहमी से पीट-पीटकर बेहोश कर दिया था जिससे काफी पीड़ित के नाजुक अंगों पर चोट लगी है मारपीट कर सभी एकजुट होकर चौकी से भगा दिया और कहा कि इसकी शिकायत कहीं किया तो दोबारा फिर यही हाल होगा गंभीर रूप से घायल पीड़ित ने सीओ चायल से फोन कर आपबीती बताई आपबीती बताने के बाद पीड़िता सीओ ऑफिस जा रहा था जैसे ही चौकी इंचार्ज को मालूम हुआ वैसे ही पीड़ित को चौकी बुलाकर दोनों पक्षों को थाना चरवा ले जाकर बन्दकर पुलिस द्वारा पीड़ित को फिर उसी नाजुक अंगों पर पिटाई किया गया है इतना ही नहीं पीड़ित को 151 की चालान कर अपनी बचत निकाली है पीड़ित का आरोप है कि चौकी में मेरी पत्नी और मेरे बेटे सहित मुझे भी जमकर मारा पीटा गया है तथा चौकी इंचार्ज और सिपाहियों द्वारा जातिसूचक शब्दों से गाली गलौज भी किया गया है आरोप है कि पैसे की मांग किया गया था पैसा ना देने पर चौकी इंचार्ज सहित सभी सिपाही आग बबूला हो गए थे जब विरोध किया तो जमकर लाठियों से नाजुक अंगों में पिटाई की गई है इन सभी मामलों में अगर निष्पक्ष जांच कराई गई तो चौकी इंचार्ज सहित सभी सिपाहियों पर पुलिस अधीक्षक का गाज गिरना तय होगा पुलिस की इस तरह की गुंडागर्दी पर कानून व्यवस्था पर बड़ा सवाल है इतना ही नहीं पीड़ित को जब न्याय नहीं मिला तो पीड़ित ने पुलिस महानिदेशक लखनऊ अपर पुलिस महानिदेशक श्री प्रेम प्रकाश जी से मामले की शिकायती प्रार्थना पत्र देकर इन सभी पुलिसकर्मियों पर कठोर कार्यवाही करने की मांग उठाई है मानवाधिकार आयोग नई दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी से अनुसूचित जनजाति अध्यक्ष आयोग नई दिल्ली सहित तमाम उच्चाधिकारियों को शिकायती प्रार्थना पत्र के जरिए इन सभी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कानूनी कठोर कार्रवाई करने की मांग उठाई है अब यह देखना है कि इन गुंडागर्दी कायम करने वाले पुलिस कर्मियों पर कानून की कौन सी कार्रवाई होती है*

You may have missed