July 7, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

कानपुर18जून*व्यापारियों के परिवारों की सुध ले सरकार – मनोज गुप्ता*

कानपुर18जून*व्यापारियों के परिवारों की सुध ले सरकार – मनोज गुप्ता*

फेडरेशन ऑफ आल इंडिया व्यापार मंडल “फैम” मध्य उ0 प्र0 की इकाई की एक टेलीफोनिक मीटिंग में माननीय मुख्यमंत्री जी के नाम 11 सूत्रीय ज्ञापन पर चर्चा की गई, जिसमें माननीय मुख्यमंत्री जी को ई मेल के जरिये सीधे भेजा —

*व्यापारियों के परिवारों की सुध ले सरकार – मनोज गुप्ता*
फेडरेशन ऑफ आल इंडिया व्यापार मंडल “फैम” उ0प्र0 की मध्यांचल इकाई – ने सरकार से मांग की है कि वह अन्य सभी वर्गों के साथ व्यापारी परिवारों की भी सुध ले, अन्यथा व्यापार मंडल प्रदेश स्तरीय आंदोलन करेगा।
फेडरेशन ऑफ आल इंडिया व्यापार मण्डल मध्य उ0 प्र0 प्रदेश सह प्रभारी मनोज गुप्ता ने कहा की लगभग सवा महीने से सभी दुकानें बंद थी। इस बीच बहुत से व्यापारी कोरोना के काल के गाल में समा गए। बहुत सारे व्यापारी परिवार ऐसे हैं कि व्यापारी की मृत्यु हो जाने के बाद आज तक उसके परिवार में कोई सुध लेने वाला नहीं है।
मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में सरकार से मांग की गई है कि

1. जीएसटी में पंजीकृत व्यापारी की करोना से मृत्यु होने पर वैश्विक महामारी होने के कारण 10 लाख रुपए की बीमा राशि उसके परिवार को दिलाये जाने का प्राविधान 1 जनवरी 2020 से लागू किया जाये।

2.साथ ही अपंजीकृत व्यापारी की करोना से मृत्यु होने पर मंडी समिति, वन विभाग व अन्य लाइसेंस के रजिस्ट्रेशन के आधार पर वैश्विक महामारी के अन्तर्गत 10 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा दिया जाना चाहिए।

3.लॉकडाउन पीरियड का बिजली का बिल (एल०एम०वी०6) वाणिज्य विधा को माफ किए जाने की मांग की गई।

4.साथ ही सभी प्रकार के व्यापारिक लाइसेंस व उनके रिनुअल के लिए लगाई जा रही लेट फीस व पेनल्टी को समाप्त की जाये ।

5.बैंको द्वारा किये जा रहे प्रताड़ना के मुद्दे पर व्यापार मंडल ने वर्ष 2020 तथा 2021 में व्यापारियों के बैंक खाते में जोड़े गए ब्याज को वापस कराने तथा व्यापारियों के सभी प्रकार की बैंको की किस्त जमा कराने के लिए 31 दिसंबर 2021 तक का समय बढ़ाये जाने की मांग की।

6.बैंकों द्वारा व्यापारियों के विरोध की जा रही है वसूली कार्रवाई 31 मार्च 2022 तक स्थगित करें।

7.व्यापारियों के सभी प्रकार के लोन अकाउंट 31 मार्च 2022 तक एन०पी०ए० ना किए जाये

8.और व्यापारियों को उनके टर्नओवर के आधार पर 20 प्रतिशत अनुदान राशि प्रदान की जाए जिससे वह अपना कारोबार पुनः स्थापित कर सकें तथा देनदारी का भुगतान कर सके।

9. मंडी शुल्क शून्य किया जाय , , क्योकि नवीन किसान बिल आने के उपरांत मंडी समिति से जुड़े व्यापारियों को बहुत छति उठानी पड़ रहि है , क्योकि व्यपार बन्दी के उपरांत इस समय स्पर्धा के कारण मंडी समिति के व्यपारियो को व्यापार में हानि उठानी पड़ रही है।

10. सभी स्कूलों व कालेजों में पढ़ रहे बच्चों की फीस 2 क्वार्टर यानी 6 महीने की फीस माफ की जाय। जिससे आम जनता को राहत की सांस मिले।

11. इस समय छोटे शहर के सर्राफा कारोबारियों में भय व आतंक का माहौल हो गया है “हाल मार्किंग” । अभी पूरे देश मे सिर्फ 256 ही हाल मार्किंग सेंटर खुले है , अतः जिन शहरों में अभी ये सेंटर नही खुल है- तब तक उन शहरों में हॉलमार्किंग कानून लागू न हो और अगर लागू करना है तो सबसे पहले उन शहरों में हाल मार्किंग सेंटर खोले जाएं।

इस टेलीफोनिक मीटिंग में उपस्थित रहे प्रमुख रूप से मध्य उ0प्र0 सह प्रभारी मनोज गुप्ता, मध्य उ0 प्र0 उपाध्यक्ष पीयूष गर्ग व मध्य उ0 प्र0 मीडिया प्रभारी संजय गुप्ता ने मीटिंग का संचालन किया व सभी जुड़े व्यापारियों में ललितपुर जिलाध्यक्ष – सुमित अग्रवाल , फरुर्खाबाद जिलाध्यक्ष – मनोज मिश्रा , कानपुर जिलाध्यक्ष – राजेश गर्ग , प्रयागराज जिलाध्यक्ष – संजीव मिश्रा ,फतेहपुर जिलाध्यक्ष – संजीव गुप्ता , लखनऊ जिला उपाध्यक्ष – आशीष गुप्ता, रायबरेली जिलाध्यक्ष – महेश गुप्ता व इटावा युवा जिलाध्यक्ष – दीपक कुमार आदि थे।

*🙏🙏मनोज गुप्ता 🙏🙏*
*(सह प्रभारी मध्य – उ0 प्र0 )*

*फेडरेशन ऑफ आल इंडिया व्यापार मण्डल* *(फैम)*
*(पंजी0)*
*8090412412,9415130632,8299418343*