July 5, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

[6/6, 3:27 PM] +91 97600 95606: UP: 12 जुलाई से पहले होंगे पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव, 20 जून के बाद जारी होगी अधिसूचना

जिला व क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष पदों के चुनाव में प्रमुख दलों के निर्वाचित सदस्यों से अलावा निर्दलियों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है. इस विजयी सदस्यों में निर्दलियों की संख्या ही सर्वाधिक है इसलिए उनका रुझान ही अध्यक्षों के चुनाव को प्रभावित करेगा.

12 जुलाई से पहले होंगे पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव

लखनऊ. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के बाद योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया गया है. उत्तर प्रदेश में अब ब्लॉक प्रमुख और जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव 12 जुलाई से पहले कराए जाएंगे. जबकि 20 जून के बाद अधिसूचना जारी हो सकती है. इससे पहले पंचायत अध्यक्ष पद के लिए चुनाव 15 से 20 मई के बीच होने थे लेकिन कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इन्हें टाल दिया गया था.
बता दें कि यूपी में 75 जिला पंचायत अध्यक्षों और 826 ब्लॉक प्रमुखों का चुनाव होना है. नवनिर्वाचित 3050 सदस्य 75 जिला पंचायत अध्यक्षों का चुनाव करेंगे. वहीं 75,845 क्षेत्र पंचायत सदस्य 826 ब्लॉक प्रमुखों को चुनने के लिए मतदान करेंगे. जिला पंचायत सदस्य पदों के लिए प्रमुख दलों द्वारा समर्थित उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे गए थे. पंचायत चुनाव चूंकि पार्टी सिंबल से नहीं लड़ा जाता है इस कारण विजेता सदस्यों को लेकर दलीय दावों में एकरूपता हो पाना आसान नहीं है.

निर्दलीय प्रत्याशियों की भूमिका अहम-
जिला व क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष पदों के चुनाव में प्रमुख दलों के निर्वाचित सदस्यों से अलावा निर्दलियों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है. इस विजयी सदस्यों में निर्दलियों की संख्या ही सर्वाधिक है इसलिए उनका रुझान ही अध्यक्षों के चुनाव को प्रभावित करेगा. निर्दलियों का समर्थन जुटाने के अलावा बागियों का रोल भी महत्वपूर्ण होता है. जाहिर है कि जोड़तोड़ वाले इस चुनाव में सत्ता का दखल निर्णायक होता गया. धनबल और बाहुबल भी चुनावी समीकरण बनाते बिगाड़ते हैं.
[6/6, 3:27 PM] +91 97600 95606: *उपअधिकारी अछल्दा 40 से 45 मिनट सप्लाई नॉर्मल होने की बात कर रहे थे लेकिन अभी तक सप्लाई नॉर्मल नहीं हो पाई है उपभोक्ताओं को झूठा आश्वासन देते हो तथा रेलवे क्रॉसिंग पर 2 केबिल होनी चाहिए थी लेकिन विभाग की बहुत ही बड़ी लापरवाही है कि दोनों केवल खराब है एक केवल पहले से ही खराब थी सही रखनी चाहिए थी लेकिन इस विषय पर किसी ने ध्यान नहीं दिया होगा उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है उपभोक्ताओं को जानकारी के लिए सभी सबस्टेशन के कंट्रोल रूम नंबर पूर्ण रुप से चालू किए जाए कंट्रोल रूम के नंबर बंद होने पर अवर अभियंता के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी तथा अधीक्षण अभियंता बहुत ही नाराज हुए हैं तथा विभाग को चेतावनी दी है ऐसी घटनाएं दोबारा जिले में नहीं होनी चाहिए*