July 25, 2021

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

अयोध्या 20 जुलाई *बनगांवा में गन्ने के खेत मे मिले युवक के शव का पांच दिनों में ही पुलिस ने किया खुलासा*

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

*अब्दुल जब्बार एडवोकेट व डॉ0 मो0 शब्बीर की रिपोर्ट*

अयोध्या 20 जुलाई *बनगांवा में गन्ने के खेत मे मिले युवक के शव का पांच दिनों में ही पुलिस ने किया खुलासा*

*भतीजे से पीछा छुड़ाने के चक्कर में चाची ने ही बहनों व उनके प्रेमियों संग मिलकर कर की थी भतीजे की हत्या*

भेलसर(अयोध्या)रुदौली कोतवाली की भेलसर चौकी क्षेत्र के ग्राम सभा बनगांवा से रिश्ते को कलंकित करने वाली एक घटना प्रकाश में आयी है जहां भतीजे के साथ अवैध संबंध रखने वाली चाची ने उससे पीछा छुड़ाने के लिए अपनी बड़ी बहन उसके प्रेमी व प्रेमी के भाई के साथ मिलकर उसे गन्ने के खेत में ले जाकर फावड़ा व खुर्पी से मारकर उसकी हत्या कर दी।रूदौली पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया तथा अभियुक्तों की निशान देहीं पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त फावड़ा व खुरपा गन्ने के खेत से बरामद कर लिया।
घटना 14 जुलाई की है जब रुदौली कोतवाली भेलसर चौकी क्षेत्र के बनगांवा गांव के किनारे सुनील कुमार पुत्र पन्नालाल शाह निवासी ग्राम खङतरी थाना चिरैया जनपद पूर्वी चम्पारण बिहार का शव संदिग्ध परिस्थितियों में एक गन्ने के खेत से बरामद हुआ था।मृतक के पिता पन्नालाल शाह की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या 316/2021 धारा 302/201 के तहत मुकदमा दर्ज कर छान बीन में लग गयी थी।मुखबिर की सूचना पर प्रभारी निरीक्षक विनोद बाबू मिश्रा,उपनिरीक्षक रणजीत सिंह,अंकित यादव,मोहम्मद ताहिर खान,संदीप कुमार,उमेश चन्द्र सरोज,महिला कॉन्सटेबल संगीता यादव,ज्योति तिवारी,स्वाट टीम प्रभारी रतन शर्मा ने अपनी टीम के साथ कूढ़ासादात गांव के तिराहे से लगभग 100 मीटर आगे से गिरफ्तार कर लिया तथा उनकी निशान देही पर हत्या में प्रयुक्त फावड़ा व खुरपा गन्ने के खेत से बरामद कर लिया।
एसपी ग्रामीण शैलेन्द्र सिंह ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि गीता यादव लखनऊ में रेलवे में काम करती थी जिसका अवैध सम्बंध उसके भतीजे सुनील से हो गया था इस समय दोनो के बीच मनमुटाव चल रहा था और गीता सुनील से पीछा छुड़ाना चाहती थी।जिसके लिए उसने अपनी बड़ी बहन संगीता की मदद ली। सुनील को पहले बहाने से गन्ने के खेत की तरफ भेजा गया जहां पहले से सुनील का इंतजार कर रहे संगीता के प्रेमी प्रदीप कुमार यादव व उसके भाई मित्रसेन ने फावड़ा व खुर्पी से मारकर सुनील की हत्या कर दी और हत्या में शामिल चार लोगो को आला कत्ल के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।