July 7, 2022

UPAAJTAK

TEZ KHABAR

अयोध्या 14 जून *श्रीराम मंदिर के नाम पर सबसे बड़ा घोटाला,रामजन्मभूमि ट्रस्ट ने 5 मिनट पहले दो करोड़ मे बैनामा कराई जमीन को कराया साढ़े अठ्ठारह करोड़ में एग्रीमेंट।*

अयोध्या 14 जून *श्रीराम मंदिर के नाम पर सबसे बड़ा घोटाला,रामजन्मभूमि ट्रस्ट ने 5 मिनट पहले दो करोड़ मे बैनामा कराई जमीन को कराया साढ़े अठ्ठारह करोड़ में एग्रीमेंट।*

*रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ट्रस्टी अनिल मिश्र व महापौर ऋषिकेश उपाध्याय दोनो लोग बैनाने व एग्रीमेंट मे है गवाह।*

*राममंदिर निर्माण हेतु खरीदी गयी जमीन में करोड़ों के घोटाले पर पूर्व मंत्री पवन पाण्डेय ने करोड़ो रामभक्तों का बताया अपमान।*

*अयोध्या 13 जून। श्री राममंदिर के नाम पर सबसे बड़ा घोटाला 18 मार्च 2021 को 7 बजकर 10 मिनट पर एक जमीन को 2 करोड़ में दो प्रापर्टी डीलरों ने बैनामा कराया ।बैनामा कराने के ठीक पांच मिनट के बाद उसी जमीन का एग्रीमेंट साढ़े 18 करोड़ रूपये में श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने एग्रीमेंट कराया।सबसे बड़ी चौकाने वाली बात यह रही कि महज पांच में 2करोड़ जमीन की कीमत कई गुना मंहगें दामों में कैसे बिकी और श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने क्यो कराया इतना महंगा एग्रीमेंट। पूर्व मंत्री व सपा नेता तेजनारायन पाण्डेय ‘पवन पाण्डेय’ ने मामले का खुलासा करते हुए प्रकरण में सीबीआई जांच कराने की मांग की है। सपा नेता ने इस बड़े घोटाले को करोड़ो रामभक्तों द्वारा दिये गये दान/चंदे में भ्रष्टाचार व उनका अपमान बताया है।*
*आज मीडिया से प्रेस वार्ता के दौरान पूर्व मंत्री व सपा नेता तेजनारायन पाण्डेय ने कहा कि राममंदिर निर्माण के लिए खरीदी गयी जमीन में करोड़ो का हेरा फेरी हुआ है।* *उन्होंने कहा कि राममंदिर के पास स्थित एक जमीन को पापर्टी डीलर रविमोहन तिवारी व सुल्तान अंसारी ने हरीश पाठक व कुसुम पाठक से दो करोड़ में खरीदकर बैनामा कराया।उन्होंने कहा कि 18 मार्च 2021 को यह जमीन 7 बजकर 10 मिनट पर बैनामा कराया गया इसके बाद रविमोहन तिवारी व सुल्तान अंसारी ने इसी जमीन को ठीक पांच मिनट के बाद श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को साढ़े अठ्ठारह करोड़ में एग्रीमेंट कर दिया।* *यहाँ पर यह बताना जरूरी है कि प्रापर्टी डीलर रविमोहन तिवारी व सुल्तान अंसारी द्वारा खरीदी गयी जमीन व श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पतराय द्वारा कराये गये एग्रीमेंट में गवाही श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य डाक्टर अनिल मिश्रा व अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय है।*
*श्री पाण्डेय ने कहा कि सबसे बड़ी चौकाने वाली बात यह है कि 17 करोड़ रुपये ट्रस्ट ने एग्रीमेंट कराने वालों के खातें में तुरंत आरटीजीएस भी कर दिया।*
*पूर्व मंत्री ने बताया कि बैनामें व एग्रीमेंट दोनो में ट्रस्ट के सदस्य डाक्टर अनिल मिश्रा व अयोध्या नगर निगम केमहापौर ऋषिकेश उपाध्याय की गवाही भ्रष्टाचार का सबसे बड़ा सबूत है।* *उन्होंने कहा कि करोड़ो रामभक्तों द्वारा दिये गये दान/चंदे में जिस तरह का घोटाला किया गया है।ऐसे रामभक्तो के आस्था व अपमान तथा उक्त जमीन की खरीद व एग्रीमेंट मे की घोटाले की सीबीआई से जांच होनी चाहिए।*